होम /न्यूज /व्यवसाय /शेयर मार्केट में क्या इस हफ्ते भी बुल्स हावी रहेंगे? कौन से फैक्टर्स तय करेंगे बाजार की चाल, एक्सपर्ट्स से समझिए

शेयर मार्केट में क्या इस हफ्ते भी बुल्स हावी रहेंगे? कौन से फैक्टर्स तय करेंगे बाजार की चाल, एक्सपर्ट्स से समझिए

विदेशी निवेशकों ने अगस्त में भी भारतीय शेयर बाजारों के लिए जबरदस्त उत्साह दिखाया है.

विदेशी निवेशकों ने अगस्त में भी भारतीय शेयर बाजारों के लिए जबरदस्त उत्साह दिखाया है.

लगभग सभी कंपनियों के तिमाही नतीजे आ चुके हैं, और अब बाजार का ध्यान चीन-अमेरिका के बीच भू-राजनीतिक तनाव और रूस-यूक्रेन स ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

विदेशी निवेशकों के रुख और रुपये की चाल से तय होगी बाजार की चाल.
पिछले हफ्ते सेंसेक्स 183.37 अंक या 0.30 प्रतिशत और निफ्टी 60.30 अंक या 0.34% चढ़ा.
अमेरिका से वैश्विक संकेत और विदेशी निवेश की आवक पर भी बाजार की नजर रहेगी.

मुंबई. भारतीय शेयर बाजार में एक बार फिर तेजी देखने को मिल रही है. पिछले सप्ताह सेंसेक्स ने 60 हजार का अहम लेवल पार किया था. अब अगले हफ्ते बाजार को कौन से फैक्टर्स प्रभावित करेंगे. एक्सपर्ट्स का कहना है कि शेयर बाजारों की दिशा इस सप्ताह वैश्विक रुझानों, विदेशी निवेशकों के रुख और रुपये की चाल से तय होगी.

स्वास्तिका इंवेस्टमार्ट लिमिटेड के शोध प्रमुख संतोष मीणा ने कहा, ”इस सप्ताह अगस्त महीने के वायदा एवं विकल्प (एफएंडओ) सौदे पूरे होंगे, जहां तेजड़िए अगस्त सीरीज में बढ़त के बाद आराम की तलाश में हैं.” उन्होंने कहा, ‘‘इस सप्ताह बहुत अधिक घटनाएं नहीं हैं, लेकिन वैश्विक संकेत, अगस्त महीने के एफएंडओ सौदे और एफआईआई का रुख बाजार की दिशा तय करने में महत्वपूर्ण होंगे.’’

यह भी पढ़ें- क्या होता है लिपस्टिक इफेक्ट? अंडरवियर की बिक्री कैसे बताती है इकोनॉमी की हालत? एक्सपर्ट्स से समझिए

एफपीआई महत्वपूर्ण
लगभग सभी कंपनियों के तिमाही नतीजे आ चुके हैं, और अब बाजार का ध्यान चीन-अमेरिका के बीच भू-राजनीतिक तनाव और रूस-यूक्रेन संघर्ष के अलावा कच्चे तेल के रुख पर भी होगा. रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के उपाध्यक्ष (शोध) अजीत मिश्रा ने कहा कि इस सप्ताह वायदा सौदों के निपटान के लिए ट्रेडर व्यस्त रहेंगे. इसके अलावा अमेरिका से वैश्विक संकेत और विदेशी निवेश की आवक पर भी बाजार की नजर रहेगी.

पिछले हफ्ते मार्केट
पिछले हफ्ते सेंसेक्स 183.37 अंक या 0.30 प्रतिशत और निफ्टी 60.30 अंक या 0.34 प्रतिशत चढ़ा. निफ्टी भी 50 60.50 अंक (0.34 फीसदी) की बढ़त के 17,758.5 पर बंद हुआ. पिछले सप्‍ताह के दौरान सेंसेक्‍स 60,000 का आंकड़ा पार किया और निफ्टी भी 18,000 के करीब पहुंच गया. बीएसई मिड-कैप बीते हफ्ते 1 फीसदी चढ़ा.

यह भी पढ़ें- शीर्ष 10 कंपनियों में पांच का मार्केट कैप पिछले सप्ताह 30,737.51 करोड़ रुपये घटा, समझिए मार्केट ट्रेंड

विदेशी निवेशक
पिछले महीने शुद्ध खरीदार बनने के बाद विदेशी निवेशकों ने अगस्त में भी भारतीय शेयर बाजारों के लिए जबरदस्त उत्साह दिखाया है. विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने अगस्त में अब तक करीब 44,500 करोड़ रुपये का निवेश किया है. अमेरिका में महंगाई कम होने और डॉलर सूचकांक में गिरावट के बीच भारतीय बाजारों के प्रति उनका भरोसा बढ़ा.

डिपॉजिटरी के आंकड़ों के मुताबिक एफपीआई ने जुलाई माह में लगभग 5,000 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था. एफपीआई ने लगातार नौ महीनों तक बड़े पैमाने पर बिकवाली की, जिसके बाद वे जुलाई में पहली बार शुद्ध खरीदार बने थे. इससे पहले अक्टूबर 2021 से जून 2022 के बीच उन्होंने भारतीय इक्विटी बाजारों में 2.46 लाख करोड़ रुपये की भारी बिक्री की थी.

Tags: BSE Sensex, Market Live, Nifty, Share market

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें