Share Markets Update : न टाटा, न बिड़ला, कोरोना काल में इस ग्रुप ने फायदे में सबको पछाड़ा

मझोले आकार के कारोबारी समूहों में शीर्ष बढ़त दर्ज करने वाली कंपनियों में नवीन जिंदल (309 फीसदी की बढ़त) और मदरसन सूमी (231 फीसदी की बढ़त) शामिल

मझोले आकार के कारोबारी समूहों में शीर्ष बढ़त दर्ज करने वाली कंपनियों में नवीन जिंदल (309 फीसदी की बढ़त) और मदरसन सूमी (231 फीसदी की बढ़त) शामिल

अदाणी समूह (Adani Group) का कन्सोलिडेटेड मार्केट कैप (Market Cap) पिछले साल मार्च से 500 फीसदी बढ़कर 6.7 लाख करोड़ पर पहुंच गया. जबकि टाटा (Tata), एचडीएफसी(HDFC) और रिलायंस (Reliance) का मार्केट कैप 90%, 72% और 89% ही बढ़ा.

  • Last Updated: April 2, 2021, 2:52 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वित्त वर्ष 2020-21 में कोरोनावायरस महामारी के बीच गौतम अदाणी (Gautam Adani) का अदाणी समूह (Adani Group) सबसे ज्यादा फायदे में रहा. अदाणी समूह की सात लिस्टेड कंपनियों का बाजार पूंजीकरण (Market Cap) 6.7 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया है. यह मार्च 2020 के अंत में दर्ज 1.31 लाख करोड़ रुपए के मुकाबले करीब 5 गुना (500%)अधिक है.

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक शीर्ष सूचीबद्ध कंपनियों के एकीकृत बाजार पूंजीकरण में पिछले 12 महीनों के दौरान 79.6 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई. जबकि शीर्ष तीन कारोबारी समूहों- टाटा (Tata), एचडीएफसी(HDFC) और रिलायंस (Reliance) के बाजार पूंजीकरण में इस दौरान क्रमश: 90 फीसदी, 72 फीसदी और 89 फीसदी की वृद्धि हुई. यह विश्लेषण बीएसई 500, बीएसई मिडकैप और बीएसई स्मॉलकैप सूचकांकों में शामिल 1,056 कंपनियों के नमूनों पर आधारित है. इन कंपनियों का एकीकृत बाजार पूंजीकरण 196 लाख करोड़ रुपए दर्ज किया गया जो बीएसई में सूचीबद्ध सभी कंपनियों के बाजार पूंजीकरण का करीब 95 फीसदी है. बिजनेस स्टैंडर्ड के नमूने में उन्हीं कंपनियों को रखा गया जिनके समूह का बाजार पूंजीकरण 30 मार्च को 1 लाख करोड़ रुपए से अधिक था. इससे मझोले आकार के और एकल कंपनी वाले कई कारोबारी समूह सूची से बाहर हो गए.

यह भी पढें : नौकरी की बात: वर्क फ्रॉम होम के चलते वेलनेस ऑफिसर या एम्प्लोयी एक्सपीरियंस एंड कम्युनिकेशन जैसी नई जॉब्स की डिमांड

अदाणी को इसलिए हुआ सबसे ज्यादा फायदा
स्टॉक एक्सचेंज पर अदाणी समूह के प्रदर्शन को मुख्य तौर पर उसके सौर ऊर्जा कारोबार वाली अदाणी ग्रीन कंपनी से दम मिला. पिछले 12 महीनों के दौरान कंपनी का बाजार पूंजीकरण साढ़े सात गुना बढ़कर 1.8 लाख करोड़ रुपए हो गया. यह एक साल पहले 24,000 करोड़ रुपए रहा था. समूह में शीर्ष प्रदर्शन करने वाली कंपनी अदाणी टोटल गैस के बाजार पूंजीकरण में पिछले साल मार्च के अंत से अब तक करीब 10 गुना वृद्धि दर्ज की गई है. कंपनी का बाजार पूंजीकरण अब 1 लाख करोड़ रुपए हो चुका है जो एक साल पहले 9,500 करोड़ रुपए रहा था. यही कारण है कि घाटे में चल रही अदाणी पावर के बाजार पूंजीकरण में भी पिछले 12 महीनों के दौरान तिगुना से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई. देश के बुनियादी ढांचा क्षेत्र में मौजूद संभावनाओं को भुनाने संबंधी अदाणी समूह की क्षमता को देखते हुए निवेशकों ने काफी भरोसा जताया है.

यह भी पढें : इमरान सरकार का यूटर्न, अब भारत से चीनी-कपास का आयात नहीं करेगा पाक, यह है वजह

जेएसडब्ल्यू समूह दूसरे और हिंदुजा ग्रुप तीसरे पायदान पर



पिछले 12 महीनों के दौरान बाजार पूंजीकरण में बढ़त के मोर्चे पर अदाणी समूह के बाद जेएसडब्ल्यू समूह दूसरे पायदान पर रहा. समूह की प्रमुख कंपनी जेएसडब्ल्यू के शेयर में जबरस्त उछाल आने से बाजार पूंजीकरण को बल मिला. जेएसडब्ल्यू स्टील पिछले साल सूचकांक में शीर्ष प्रदर्शन करने वाले शेयरों में शामिल रही. उसके बाजार पूंजीकरण में पिछले 12 महीनों के दौरान 212 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई. लॉकडाउन के बाद इस्पात की कीमतों में आई तेजी से कंपनी को मजबूती मिली. पिछले वित्त वर्ष के दौरान बाजार पूंजीकरण में सबसे अधिक बढ़त दर्ज करने वाले समूहों की सूची में हिंदुजा समूह तीसरे पायदान पर रहा जिसे इंडसइंड बैंक से मजबूती मिली. बैंक का बाजार पूंजीकरण पिछले साल मार्च के अंत के बाद अब तक करीब 3 गुना बढ़ चुका है. बढ़त दर्ज करने वाली समूह की अन्य कंपनियों में अशोक लीलैंड (164 फीसदी) और हिंदुजा ग्लोबल (249 फीसदी) शामिल हैं.

यह भी पढें : Investment Strategy : नए साल की शुरुआत में निवेश का यह तरीका अपनाएंगे तो होंगे मालामाल, जानें सबकुछ

मझोले आकार के कारोबारी समूहों में जिंदल सबसे ऊपर

मझोले आकार के कारोबारी समूहों में शीर्ष बढ़त दर्ज करने वाली कंपनियों में नवीन जिंदल (309 फीसदी की बढ़त), मदरसन सूमी (231 फीसदी की बढ़त), आयशर ग्रुप (102 फीसदी की बढ़त), डिविज लैबोरेटरीज (80 फीसदी की बढ़त), हैवेल्स इंडिया (102 फीसदी की बढ़त) आदि शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज