होम /न्यूज /व्यवसाय /Shark Tank India: किराएदार को कई दिनों से नहीं दिखा मकानमालिक, फिर अचानक आया शार्क टैंक पर नजर, देखकर आप भी हो जाएंगे दंग

Shark Tank India: किराएदार को कई दिनों से नहीं दिखा मकानमालिक, फिर अचानक आया शार्क टैंक पर नजर, देखकर आप भी हो जाएंगे दंग

गणेश बालाकृष्णन जूते बनाने वाली कंपनी फ्लैटहैड्स के संस्थापक हैं. (फोटो- Sony Liv)

गणेश बालाकृष्णन जूते बनाने वाली कंपनी फ्लैटहैड्स के संस्थापक हैं. (फोटो- Sony Liv)

Shark Tank India 2 में एक प्रतिभागी को लेकर किया गया ट्वीट वायरल हो गया है. वंश अग्रवाल नामक ट्विटर हैंडल से डाले गए ट् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

शार्क टैंक इंडिया एक अमेरिकी शो का भारतीय संस्करण है.
इसमें नए उद्यमी अपने स्टार्टअप्स के लिए फंड जुटाते हैं.
इस पोस्ट में जिस शख्स की बात हो रही है उनका नाम गणेश बालकृष्णन है.

नई दिल्ली. शार्क टैंक इंडिया (Shark Tank India 2) का दूसरा सीजन सोशल मीडिया पर किसी न किसी वजह से सुर्खियां बटोर रहा है. कभी शार्क्स के बीच हुई तू-तू, मैं-मैं को लेकर तो कभी उद्यमियों द्वारा पिच किए जा रहे आइडियाज को लेकर. हालांकि, इस बार शार्क टैंक एक नए कारण से सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. एक शख्स ने शार्क टैंक इंडिया (Shark Tank India) के एक एपिसोड की तस्वीर शेयर कर बताया कि शार्क्स को पिच कर रहा शख्स उनका मकान मालिक है. आप कहेंगे ये तो कोई बड़ी बात नहीं है. इसमें एक छोटी सी डिटेल और शामिल है जो इस वाकये को मजेदार बना देती है.

दरअसल, ट्विटर पर यह पोस्ट डालने वाले शख्स ने कई दिनों से अपने मकानमालिक को देखा ही नहीं था. वंश अग्रवाल नाम के इस शख्स ने एपिसोड का एक स्क्रीनग्रैब निकालकर उस पर लिखा, “मैंने अपने मकानमालिक को कई दिन बाद देखा, वह भी सीधे शार्क टैंक, इससे बड़ा बैंगलोर मूमेंट नहीं हो सकता.” गौरतलब है कि बेंगलुरु को टेक हब माना जाता है. कई बड़े टेक स्टार्टअप्स का मुख्यालय यहीं है.

ये भी पढे़ं- Shark Tank India ने पलट दी 5 स्‍टार्टअप की किस्‍मत, पैसा और शोहरत तो मिली ही, बिजनेस को भी लग गए पंख

मकानमालिक पहले से वायरल
एक और दिलचस्प बात ये है कि इस शख्स का मकानमालिक सोशल मीडिया पर पहले से चर्चित चेहरा है. उनका नाम गणेश बालकृष्णन है और वह जूते बनाने वाले स्टार्टअप फ्लैटहैड के संस्थापक हैं. उन्होंने शार्क टैंक में ये कहकर सुर्खियां बटोरी थीं, “मेरी पत्नी कमाती है, मैं उड़ाता हूं.” बालकृष्णन ने शो में यह बात कुछ निराश होकर बोली थी. उनका बिजनेस काम नहीं कर रहा था जिसकी वजह से उन्होंने यह कहा था. कई लोगों ने उनकी ईमानदारी की सराहना की और अपनी विफलता को स्वीकारने के लिए उन्हें प्रशंसा मिली. उन्होंने शार्क्स से मिली एक अच्छी डील को नकार दिया था और कहा था कि वह अब फिर से अपने बिजनेस को खुद के बल पर जिंदा करेंगे. बता दें कि शो में आने के बाद उनके जूतों की बिक्री बढ़ गई और उन्होंने कुछ ही दिन में अपना पूरा स्टॉक खाली कर दिया.

ट्विटर पर कैसी रही प्रतिक्रिया
वंश अग्रवाल ने यह ट्वीट 10 जनवरी को किया था और अब तक इसे 2.2 लाख व्यूज और 2,000 से अधिक लाइक मिल चुके हैं. एक शख्स ने उनकी पोस्ट पर मजाकिया अंदाज में लिखा, “अगर अब आपका किराया बढ़ता है, तो आप जानते हैं कि ऐसा क्यों हुआ. मजाक से अलग, इस शख्स (बालकृष्णन) के लिए बहुत सम्मान है. एक अन्य शख्स ने लिखा कि ऐसा बस बेंगलुरु में ही हो सकता है.

Tags: Business, Business news, New entrepreneurs, Social media, Twitter

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें