कैनेलिस ने किया दावा, कोरोना की दूसरी लहर भारत में स्मार्टफोन कारोबार को कर सकती है प्रभावित

भारत में स्मार्टफोन कारोबार

भारत में स्मार्टफोन कारोबार

कैनेलिस ने कहा, विभिन्न हिस्सों में संक्रमण का प्रकोप अलग-अलग है, इसलिए देशव्यापी लॉकडाउन की आशंका कम ही है. लेकिन क्षेत्रीय लॉकडाउन से कच्चे माल और डिवाइस का परिवहन प्रभावित हो सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2021, 2:20 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. शोध फर्म कैनेलिस के मुताबिक भारत में कोविड-19 (Covid-19) की दूसरी लहर से देश में स्मार्टफोन खंड के विकास की गति सुस्त पड़ सकती है, और आपूर्ति पक्ष की बाधा के चलते औसत बिक्री मूल्य में इजाफा हो सकता है. कैनेलिस के आंकड़ों के अनुसार भारत में स्मार्टफोन की आवक मार्च 2021 को खत्म हुई तिमाही के दौरान 11 प्रतिशत बढ़कर 3.71 करोड़ इकाई हो गई, जो इससे पिछले साल की समान अवधि में 3.35 करोड़ इकाई थी.

शोध फर्म ने कहा कि भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के चलते दूसरी तिमाही में स्मार्टफोन की आवक बाधित हो सकती है. कैनेलिस ने कहा, विभिन्न हिस्सों में संक्रमण का प्रकोप अलग-अलग है, इसलिए देशव्यापी लॉकडाउन की आशंका कम ही है. लेकिन क्षेत्रीय लॉकडाउन से कच्चे माल और डिवाइस का परिवहन प्रभावित हो सकता है.

ये भी पढ़ें: Indian Railways: कोरोना काल में रेलवे ने इस रूट पर भी शुरू की स्पेशल ट्रेन, चेक करें बुकिंग डेट और अन्य डिटेल

कैनेलिस के विश्लेषक सनम चौरसिया ने कहा कि ऐसे में दूसरी छमाही के दौरान स्मार्टफोन ब्रांडों और चैनल साझेदारों के लिए बाधाएं देखने को मिल सकती हैं.



स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा जानकारी के मुताबिक, भारत में कोरोना से अब तक 1 करोड़ 79 लाख 97 हजार 267 लोग संक्रमित हो गए हैं. इस वायरस के संक्रमण से अब तक 2 लाख 1 हजार 187 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1 करोड़ 48 लाख 17 हजार 371 लोग रिकवर होकर घर लौटे हैं. देश में अब एक्टिव मरीजों की कुल संख्या 29 लाख 78 हजार 709 हो गई है. यानी इतनी संख्या में मरीज अपना इलाज करवा रहे हैं. अब तक 14 करोड़ 78 लाख 27 हजार 367 लोगों को वैक्सीनेट किया जा चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज