होम /न्यूज /व्यवसाय /IPO News: एसएमई सेक्टर के आईपीओ की धूम, 87 इश्यू ने 9 महीनों में जुटाए ₹1,460 करोड़

IPO News: एसएमई सेक्टर के आईपीओ की धूम, 87 इश्यू ने 9 महीनों में जुटाए ₹1,460 करोड़

SME आईपीओ का बूम

SME आईपीओ का बूम

आंकड़ों में बताया गया कि जनवरी-सितंबर 2022 के दौरान एसएमई प्लेटफॉर्म पर कुल 87 आईपीओ लाए गए जिनसे 1,460 करोड़ रुपये जुट ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. स्मॉल और मीडियम एंटरप्राइजेज (SME) सेक्टर के इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग (IPO) में निवेशकों की दिलचस्पी बढ़ रही है. इस साल के पहले 9 महीनों में 87 विभिन्न एसएमई ने आईपीओ के जरिए 1,460 करोड़ रुपये जुटाए हैं. इन आईपीओ के मजबूत प्रदर्शन से निवेशकों की दिलचस्पी भी बढ़ी है.

साल 2021 में 56 एसएमई के आईपीओ ने जुटाए थे 783 करोड़ रुपये
एसएमई इंडस्ट्री के आंकड़े बताते हैं कि यह राशि उन 56 कंपनियों के आईपीओ के मुकाबले कहीं अधिक है जिन्होंने 2021 में शेयर बिक्री के जरिए 783 करोड़ रुपये जुटाए थे. फेडेक्स सिक्योरिटीज में डायरेक्टर उदय नायर ने कहा कि टेक बेस्ड प्लेटफॉर्म और बड़ी ब्रोकर कंपनियां एसएमई प्लेटफॉर्म के विकास में अहम भूमिका निभा सकती हैं.

ये भी पढ़ें- Electronics Mart IPO : अगले सप्‍ताह लॉन्‍च होगा आईपीओ, ग्रे मार्केट में मिल रहा है अच्‍छा रिस्‍पॉन्‍स, जानिए GMP

बाजार में गिरावट से बेअसर रहा है एसएमई सेक्टर
हेम सिक्योरिटीज में डायरेक्टर प्रतीक जैन ने कहा, ‘‘एसएमई सेक्टर बाजार में गिरावट से बेअसर रहा है और निवेशक आने वाले आईपीओ को लेकर उत्सुक हैं. कई कंपनियों ने बीएसई के एसएमई और एनएसई इमर्ज प्लेटफॉर्म पर लिस्टिंग के लिए दस्तावेज जमा करवा दिए हैं तो कई इसकी तैयार कर रही हैं.
" isDesktop="true" id="4682651" >
सितंबर में 29 एसएमई ने प्राइमरी मार्केट में शुरुआत की है
आंकड़ों में बताया गया कि जनवरी-सितंबर 2022 के दौरान एसएमई प्लेटफॉर्म पर कुल 87 आईपीओ लाए गए जिनसे 1,460 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं. ये कंपनियां आईटी, वाहन कलपुर्जों, फर्मा, इंफ्रास्ट्रक्चर और हॉस्पिटैलिटी और ज्वेलरी सेक्टर की हैं. सितंबर में 29 एसएमई ने प्राइमरी मार्केट में शुरुआत की है. 29 इश्यू में से 25 पहले ही समाप्त हो चुके हैं और शेष 4 जारी हैं.

साइज में छोटे होने के बावजूद इन आईपीओ को निवेशकों से अच्छी प्रतिक्रिया
हेम सिक्युरिटीज के डायरेक्टर गौरव जैन ने कहा, ‘‘साइज में छोटे होने के बावजूद इन आईपीओ को निवेशकों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है.’’

SEBI ने आईपीओ के लिए खुलासा नियमों को सख्त किया
गौरतलब है कि सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया यानी सेबी (SEBI) ने आईपीओ के लिए खुलासा जरूरतों को कड़ा करने समेत कई नियमों में बदलावों को मंजूरी दी है. सेबी के अनुसार, आईपीओ लाने वाली कंपनी के लिए पिछले लेनदेन और फंड जुटाने की गतिविधियों के आधार पर प्रस्ताव मूल्य का खुलासा करना अनिवार्य है. सेबी के निदेशक मंडल ने शुक्रवार को आईपीओ के लिए शुरुआती दस्तावेज जमा करने पर विचार कर रही कंपनियों को गोपनीय तरीके से रेगुलेटरी सूचना देने की अनुमति देकर एक अल्टरनेटिव मैकेनिज्म शुरू करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी.

Tags: IPO, SMS service

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें