Home /News /business /

नौकरी की बात : जाॅब के लिए सोशल नेटवर्किंग बेहद महत्वपूर्ण, नए अवसरों के लिए अपडेट रहना जरूरी

नौकरी की बात : जाॅब के लिए सोशल नेटवर्किंग बेहद महत्वपूर्ण, नए अवसरों के लिए अपडेट रहना जरूरी

रिमोट वर्किंग नए दौर का एक नया ट्रेंड है, इसलिए उम्मीदवार इस पर फोकस करें

रिमोट वर्किंग नए दौर का एक नया ट्रेंड है, इसलिए उम्मीदवार इस पर फोकस करें

न्यूज18 आपके लिए "नौकरी की बात" सीरीज के तहत आपकी मदद करने की कोशिश कर रहा है. इस सीरीज के तहत हम अपने युवा पाठकों को देश के टॉप एचआर लीडर (HR Leader)या फिर अलग-अलग सेक्टर से संबंधित कंपनियों के टॉप एग्जीक्यूटिव (Top Executive)के साथ खास नौकरी की वर्तमान हालात पर बातचीत कर रहे हैं. इस बार हम फाइनेंस सेक्टर में नौकरी की बात करेंगे.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. कोरोनावायरस महामारी के चलते अगर आपकी नौकरी चली गई है और आपको नए नौकरी की तलाश है. लेकिन अब तक आपको नौकरी नहीं मिल पाई है, तो हताश होने की जरूरत नहीं है. कोरोनावायरस महामारी के बाद अब अर्थव्यवस्था पटरी पर लौट रही है. रोजगार के मौके खुलने लगे हैं. ऐसे में न्यूज18 आपके लिए “नौकरी की बात” सीरीज के तहत आपकी मदद करने की कोशिश कर रहा है. इस बार हम फाइनेंस सेक्टर में नौकरी की बात करेंगे. इसके लिए हमने फानेंइस कंपनी ब्रांड इंटरनेशनल(Brand International)के एम.डी सुचेता महापात्रा से बात की. तो आइए जानते हैं फाइनेंस सेक्टर और उनकी कंपनी में नौकरियों के अवसर व इसकी तैयारियों के तरीके…

    सवाल : महामारी के दौरान जिनकी नौकरी चली गई, उन्हें क्या करना चाहिए?
    महामारी का वक्त ज्यादातर लोगों के लिए अनएक्स्पेक्ड समय रहा. इसका प्रभाव लगभग सभी सेक्टर पर अलग-अलग रहा है. सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के अनुमान के मुताबिक, महामारी के चलते अप्रैल में भारत में 122 मिलियन से अधिक लोगों ने अपनी नौकरी खो दी. उनमें से लगभग 75% छोटे व्यापारी और मजदूरी थे. टूर एंड ट्रैवल से लेकर एविशएन समेत अन्य सेक्टर में काम कर रहे कर्मचारियों को या तो नौकरी से हाथ धोना पड़ा या फिर कम वेतन में काम चलाना पड़ा. ऐसे में लोगों की समग्र खर्च पावर कम हो गया. यह अर्थव्यवस्था को प्रभावित करता है.

    हालांकि, जिनकी नौकरी महामारी के दौरान चली गई है उन्हें या तो नए कौशल जिनकी डिमांड बढ़ी है जैसे कि सॉफ्ट स्किल्स और तकनीकी कौशल पर काम करना चाहिए. इसके साथ ही विभिन्न जॉब पोर्टल (जैसे कि Naukri.com , लिंक्डइन)पर एक्टिव रहना चाहिए. इसके लिए कई पोर्टल पेड इंटर्नशिप भी कराती है, वहां से भी मदद ली जा सकती है. उदाहरण के लिए: एक व्यक्ति जो सेल्स में है और मार्केटिंग में जाना चाहता है, SEO कोर्स कर सकता है. ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए Rs.499 तक या इससे कम में Google से सर्टिफिकेट ले सकता है.

    सवाल : क्या उन्हें नए कौशल विकसित करने और बढ़ाने की आवश्यकता है? यदि हां तो वे इसे कैसे कर सकते हैं?
    बिल्कुल जरूरत है. हम कंज्यूमर-तकनीक इंडस्ट्री में ऑटोमेशन और तेज बदलाव देख रहे हैं. इसलिए, कर्मचारियों को नए कौशल विकसित करने में निवेश करना चाहिए. इस समय कई ऑनलाइन चैनल, MOOC, ब्लॉग और प्लेटफॉर्म हैं, जिनका वे इस्तेमाल कर सकते हैं. अगर हमारी कंपनी ब्रांच इंटरनेशनल की बात करें तो यहां अपस्किलिंग को प्राथमिकता दी जाती है. उदाहरण के लिए, हम एक बोल्ड स्टाइपेंड देते हैं, जिसका उपयोग कर कर्मचारी नई तकनीक डेवलप कर सकते हैं. कंपनी नियमित रूप से एक घंटे के लिए लर्निंग सेशन भी चला रही हैं, जहां हम लोगों को कंपनी के भीतर कई विषयों और र्माकेट में नया क्या है, यह सीखने में मदद करते हैं.

    यह भी पढ़ें-  Amazon की बढ़ी मुसीबत, भारत को धोखा देने की कोशिश के खुलासे के बाद अमेरिका में भी हुआ मुकदमा, जानें पूरा मामला
    सवाल : महामारी के बाद से बहुत सारे कोर्स ऑनलाइन उपलब्ध है. अगर कोई इन कोर्स को करता है तो क्या उन्हें कंपनियां काम पर रखेंगी?
    कंपनी इस समय तकनीकी रूप से पूरी तरह सक्षम कर्मचारी को तव्वजो दे रही हैं. ऐसे में अगर कोई व्यक्ति खुद को तकनीकी रूप से डेवपल करता है तो उसे फायदा जरूर होगा. साथ ही जिस सेक्टर में जाने की चाह है उसके बारे में अधिक जानकारी जुटाते रहें.

    सवाल : बाजार धीरे-धीरे खुलने लगा है? युवा कहां और कैसे नौकरी खोजें?
    सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कंपनियां नौकरियों की तलाश कैसे करती हैं. उसके बाद यह समझना जरूरी है उन्के इस समय किस तरह की प्रतिभा की तलाश हैं. जैसे कि उदाहरण के लिए हमारी कंपनी ब्रांच रेफरल और पोर्टल्स पर फोकस करती है. यहां कैंडिटेड्स की एक्सपर्टिज का पता चलता है. प्रोग्रामर से संबंधित जानकारी रखने वालों के लिए Github और स्टार्टअप्स में रुचि रखने वाले लोगों के लिए Angel.co अच्छे उदाहरण है. जाॅब के लिए सोशल नेटवर्किंग बेहद महत्वपूर्ण है. फेसबुक पर नौकरी के लिए ग्रुप बने होते हैं उनमें खुद को जोड़े. सभी जॉब पोर्टल्स पर ध्यान रखें.

    यह भी पढ़ें- Indian Railway ने 6 और स्पेशल ट्रेनें इन रूट्स पर चलाने किया फैसला, देखें पूरी लिस्ट और टाइमटेबल

    सवाल : क्या महामारी के बाद भर्ती प्रक्रिया में बदलाव होगा?
    कोविड के दौरान काम करने के कई पारंपरिक तरीके बदल गए हैं. पहले से बेहतर हुआ है. नौकरी और कंपनी के मूल विचार में पिछले साल के दौरान बदलाव आया है. उम्मीद है कि यह सकारात्मक रुझान कोविड के बाद भी बने रहेंगे. वर्क फार्म होम के चलते भर्ती प्रक्रिया में बदलाव किया जा रहा है. ज्यादातर कंपनियों को ऐसे एम्पलाॅय की जरूरत ज्यादा है, आगे भी रहेगी जो कि कहीं से प्रोडक्डिव काम कर सकेगा. इसका मतलब है कि सभी स्थानों के लोग अब मनमुताबिक कार्य कर सकेंगे.

    सवाल : क्या आप पाठक को बता सकते है कि फाइनेंस सेक्टर में नौकरियों की क्या संभावनाएं है?
    नौकरी बाजार में 2020 के अप्रैल/ मई में भारी गिरावट देखी गई, लेकिन अब लगातार सुधार हो रहा है. अगले तीन महीने के भीतर पूर्ण कोविड के स्तरों पर वापस पहुंच जाएंगे. वर्तमान में हम नई टेक्नोलाजी की मदद से तेजी गति से लोन देने में सक्षम हैं. वे प्रक्रियाएं जो मैनुअल थीं और अब सेकंड के में एंड-टू-एंड पूरी हो रही है. उदाहरण के लिए, पारंपरिक बैंकिंग चैनल लोन देने में हफ्तों का समय लगाते थे जबकि हम इसे कुछ ही मिनटों में करने में सक्षम हैं.
    मशीन लर्निंग के साथ, हम फोन के जरिए भारत में एक अरब से अधिक संभावित उपयोगकर्ताओं तक पहुंच बना चुके हैं. टेक्नोलाजी के इस्तेमाल से कंपनी को उस स्तर तक ले जाने में मदद मिलती है जिसकी हम 10 साल पहले कल्पना नहीं कर सकते थे.

    सवाल : हमें आप अपनी कंपनी के हाइरिंग प्रोसेस के बारें में बताएं और कैसे नौकरी ढूढ़ने वाले लोग आपकी कंपनी से संपर्क साध सकते हैं?

    तकनीकी योग्यता तो पहली प्राथमिकता है. इसके अलावा भर्ती प्रक्रिया किस डिपार्टमेंट में किस तरह की जरूरतें हैं, उसके आधार पर तय किया जा रहा है. साथ ही हम ऐसे लोगों की तलाश करते हैं जो वास्तव में सहयोगी हैं, टीम के साथ अच्छे से काम कर सकें. और कंपनी की कल्चर और विजन में विश्वास कर सकते हैं. हम भारत में अपनी वृद्धि के लिए प्रतिबद्ध हैं और कर्मचारियों की संख्या को दोगुना करने पर विचार कर रहे हैं. इस समय हम नई योजनाओं पर काम कर रहे हैं. ऐसे में हम लोन डिपार्टमेंट, इंजीनियरिंग, बैकिंग एंड प्रोडक्ट से लेकर हर डिपार्टमेंट के लिए हायरिंग की योजना बना रहे हैं. इंजीनियरिंग और प्रोडक्ट मैनेजमेंट टेक्नोलाूजी के लिए भी हायरिंग होगी.

    फाइनेंस सेक्टर में नौकरी की तलाश कर रहे युवा ब्रांच इंटरनेशनल की आॅफिशियल बेवसाइट पर चेक कर सकते हैं. यहां करियर पेज बना हुआ है. हम उम्मीदवारों के लिए करियर पेज को नियमित रूप से अपडेट करते रहते हैं. हम वहां आए दिन नौकरी की जानकारी देते रहते हैं. हमारे कंपनी में नौकरी के लिए युवा यहां संपर्क कर सकते हैं- https://branch.co/careers/openings.

    Tags: Business news in hindi, Job and career, Naukri ki Baat

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर