Home /News /business /

softbank backed ola kicks off cost cutting exercise may lay off 400 500 staff rrmb

रोजगार पर संकट: अब इस कंपनी ने की छंटनी की तैयारी, करीब आधे कर्मचारी करेगी बाहर

खर्च घटाने के लिए ओला ने अपने दो बिजनेस बंद कर दिए हैं.

खर्च घटाने के लिए ओला ने अपने दो बिजनेस बंद कर दिए हैं.

आईपीओ लाने की योजना में देरी और फंडिंग को लेकर चुनौतीपूर्ण माहौल के बीच Ola अपनी लागत को घटाने की कोशिश कर रही है और इसके तहत वह कर्मचारियों की छंटनी कर सकती है. लागत कम करने के लिए ही कंपनी ओला डैश (Ola Dash) और ओला कार्स को बंद कर चुकी है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. अपनी क्विक कॉमर्स बिजनेस ओला डैश (Ola Dash) और सेकेंड हैंड कारों के बिजनेस ओला कार्स को बंद करने के बाद कंपनी ने अब अपने कर्मचारियों की संख्‍या में भी कटौती करने का फैसला किया है. सूत्रों का कहना है कि ओला आने वाले दिनों में 400-500 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल सकती है. ओला के कोर मोबिलिटी बिजनेस 1,000-1,100 कर्मचारी काम करते हैं. इलेक्ट्रिक सेग्मेंट पर फोकस करने के लिए ही ओला दूसरे खर्चीले बिजनेस बंद कर रही है.

मनीकंट्रोल डॉट कॉम की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, आईपीओ लाने की योजना में देरी और फंडिंग को लेकर चुनौतीपूर्ण माहौल के बीच Ola अपनी लागत को घटाने की कोशिश कर रही है और इसके तहत वह कर्मचारियों की छंटनी कर सकती है. मामले से वाकिफ एक सूत्र ने बताया कि प्रमुख मैनेजरों से अपनी टीम के उन लोगों की लिस्ट बनाने के लिए कहा गया है, जिनकी छंटनी की जा सकती है. सूत्र ने आगे कहा कि ओला ने ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जैसे विदेशी बाजारों में निवेश पर भी ब्रेक लगा दिया है, जहां वह पहले से मौजूद है.

ये भी पढ़ें-  64% एशियाई कंपनियां हुईं साइबर अटैक का शिकार, फिर भी 10 में से 7 ने कहा- हम अपने इंतजाम से संतुष्ट

Ola का जोर खर्च घटाने पर

एक दूसरे सूत्र ने बताया कि कंपनी ने अंतरराष्‍ट्रीय बाजारों में खर्च करना बंद कर दिया है. यूके और न्यूजीलैंड जैसे देशों में उनका मार्केट शेयर अब एकल अंकों में आ गया है. सूत्रों का अनुमान है कि ओला के कोर मोबिलिटी बिजनेस में करीब 1,000-1,100 कर्मचारी काम करते हैं. एक सूत्र ने बताया वे हर महीने करीब 100-150 करोड़ रुपये का रेवेन्यू दर्ज करते हैं, जिसमें से 40-50 करोड़ रुपये का हो प्रॉफिट रहा है. ओला डैश जैसा खर्चीला कारोबार बंद करने और कर्मचारियों की लागत में कटौती से कंपनी का ऑपरेशनल मार्जिन बढ़ जाएगा. और अगर कंपनी आईपीओ की दिशा में आगे बढ़ती है तो यह उन्हें मुनाफा कमाने वाले कारोबार के तौर पर भी दिखाएगा.

ये भी पढ़ें-  LPG Cylinder Price Hike : आज से और बढ़ गया रसोई खर्च का बोझ, घरेलू गैस सिलेंडर 50 रुपये महंगा, चेक करें लेटेस्‍ट रेट

मोबिलिटी इंडस्ट्री पर फोकस

ओला ने छंटनी की इस खबर या निकाले जाने वाले लोगों की संख्या के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की. कंपनी का कहना है कि उसका मुख्य फोकस मोबिलिटी इंडस्ट्री पर बना रहेगा, फिर चाहे वो राइड-हेलिंग हो, ऑटो रिटेल, फाइनेंशियल सर्विसेज या इलेक्ट्रिक व्हीकल्स हों. कंपनी ने कहा, “आज हमारा राइड हेलिंग बिजनेस हर महीने नया रिकॉर्ड ग्रॉस मर्चेंडाइज वैल्यू (GMV) दर्ज कर रहा है. जैसे-जैसे हम बढ़ते रहेंगे, हम छोटी और कंसॉलिडेटेड टीम के साथ क्षमताओं और पैमाने को इस तरह से देखेंगे, जो हमारी मुनाफे की मजबूत स्थिति को बरकरार रखे.”

Tags: Business news in hindi, Employment News, Job loss, Ola Cab

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर