खुशखबरी: कल से मिलेगा सस्ता सोना! सरकार दे रही मौका, 10 ग्राम सोने के लिए तय हुआ ये प्राइस, चेक करें डिटेल

कल यानी 17 मई 2021 आपको सस्ते में सोना खरीदने का मौका मिलेगा.

Sovereign Gold Bond 2021-22: अगर आप सोने में निवेश (Investment in Gold) करने की सोच रहे हैं तो आपके पास शानदार मौका आ रहा है. कल यानी 17 मई 2021 आपको सस्ते में सोना खरीदने का मौका मिलेगा. यह मौका केन्द्र सरकार दे रही है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. अगर आपके घर में आने वाले समय शादी-ब्याह है. या आप सोने में निवेश (Investment in Gold) करने की सोच रहे हैं तो आपके पास शानदार मौका आ रहा है. कल यानी 17 मई 2021 आपको सस्ते में सोना खरीदने का मौका मिलेगा. यह मौका केन्द्र सरकार दे रही है. दरअसल, सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए सॉवरेन गोल्ड बांड (Sovereign Gold Bond) 2021-22 की पहली बिक्री (Series I) को लेकर इश्यू प्राइस जारी कर दिया है. इस सीरीज के तहत सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री 17-21 मई के दौरान होगी और सेटलमेंट डेट 25 मई 2021 रहेगी. आइए जानते हैं इस सरकारी स्कीम के बारे में सबकुछ-

    4,777 रुपए प्रति ग्राम तय किया गया भाव
    वित्त मंत्रालय (Finance Ministry)ने अपने विज्ञप्ति बताया कि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड मई से लेकर सितंबर के बीच छह किस्तों में जारी किए जाएंगे. वित्त वर्ष 2021-22 की पहली किस्त के तहत 17 से 21 मई के बीच खरीद की जा सकेगी और 25 मई को बॉन्ड जारी किए जाएंगे. रिजर्व बैंक (RBI) ने इसके लिए 4,777 रुपए प्रति ग्राम का भाव तय किया है. जो लोग इनके लिए ऑनलाइन आवेदन करेंगे और डिजिटल पेमेंट के जरिए भुगतान करेंगे, उन्हें प्रति ग्राम 50 रुपए का डिस्काउंट मिलेगा.

    ये भी पढ़ें- रिकाॅर्ड लेवल से 9,000 रुपये सस्ता हुआ सोना! इस हफ्ते कीमतों में लगातार आई गिरावट! जानें क्या रह गए भाव?

    जानें कहां से ले सकेंगे बांड?
    मंत्रालय के मुताबिक, यह बांड सभी बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SHCIL), डाकघर और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों (Stock Exchanges), NSE और BSE के माध्यम से बेचे जाएंगे.

    जानें कितना कर सकते हैं निवेश?
    सॉवरेन गोल्ड बांड की अवधि आठ वर्षों की होगी. पांचवें साल से योजना से ब्याज भुगतान की तिथि से बाहर निकलने का विकल्प मिलता है. स्‍कीम के तहत व्यक्तिगत निवेशक और हिंदू अविभाजित परिवार एक वित्त वर्ष में कम से कम एक ग्राम और अधिकतम चार किलोग्राम गोल्‍ड के लिए निवेश कर सकते हैं. ट्रस्ट और ऐसी ही दूसरी इकाइयां हर साल 20 किग्रा सोने में निवेश कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- 33 साल का यह शख्स Dogecoin में पैसा लगाकर 4 महीने में ही बन गया करोड़पति! जानें सक्सेस ट्रिक

    जानें कैसे तय होता है प्राइस?
    बता दें आवेदन कम से कम 1 ग्राम और उसके मल्‍टीपल में जारी होते हैं. बॉन्ड का प्राइस इंडियन बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन लि. (IBJA) द्वारा दी गई 999 शुद्धता वाले गोल्ड के औसत क्लोजिंग प्राइस के आधार पर तय किया गया है.

    क्या है सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड?
    सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड एक सरकारी बॉन्ड होता है. इसे डीमैट रूप में परिवर्तित कराया जा सकता है. इसका मूल्य रुपए या डॉलर में नहीं होता है, बल्कि सोने के वजन में होता है. यदि बॉन्ड पांच ग्राम सोने का है, तो पांच ग्राम सोने की जितनी कीमत होगी, उतनी ही बॉन्ड की कीमत होगी. यह बॉन्ड RBI सरकार की ओर से जारी करता है. सरकार ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना नवंबर 2015 में शुरू की थी.