Home /News /business /

Sovereign Gold Bond: खुल गई स्कीम, अगले 5 दिनों तक सस्ता सोना खरीदने का मौका, जानिए रेट

Sovereign Gold Bond: खुल गई स्कीम, अगले 5 दिनों तक सस्ता सोना खरीदने का मौका, जानिए रेट

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में मिलेंगे कई बड़े फायदे

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में मिलेंगे कई बड़े फायदे

भारत सरकार सस्ते रेट पर गोल्ड खरीदने का शानदार मौका दे रही है. ये गोल्ड बॉन्ड स्कीम 8 साल में मेच्योर होंगे. फिजिकल गोल्ड खरीदे बगैर अगर आप भी रिटर्न का फायदा लेना चाहते हैं तो यह अच्छा विकल्प है.

    Sovereign Gold Bond scheme: क्या आप भी सस्ता सोना खरीदना चाहते हैं. अगर हां, तो आपके लिए एक सरकारी स्कीम आज सोमवार 25 अक्टूबर को खुल गई है. इस Sovereign Gold Bond scheme के जरिए सरकार सस्ता सोना बेचती है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड्स स्कीम 5 दिनों तक खुला रहेगी और 30 अक्टूबर को बंद होगी.

    त्योहारों के सीजन में गोल्ड की खरीदारी बढ़ जाती है ऐसे में भारत सरकार सस्ते रेट पर गोल्ड खरीदने का शानदार मौका दे रही है. ये गोल्ड बॉन्ड स्कीम 8 साल में मेच्योर होंगे. फिजिकल गोल्ड खरीदे बगैर अगर आप भी रिटर्न का फायदा लेना चाहते हैं तो यह अच्छा विकल्प है.

    यह भी पढ़ें- Gold Price Today: त्योहारी सीजन में सोने-चांदी की कीमतों में तेजी, जानिए आज क्या चल रहा भाव

    सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की खास बातें- 

    •  Sovereign Gold Bond 2021-2022 आज खुला है और 5 दिनों के बाद बंद होगा.
    • इस स्कीम में गोल्ड का भाव 4765 रुपए प्रति ग्राम है.
    • सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में जो ऑनलाइन पेमेंट करेगा उसे हर ग्राम गोल्ड पर 50 रुपए की छूट मिलेगी.
    • सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन, क्लीयरिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, पोस्ट ऑफिस और स्टॉक एक्सचेंजों के जरिए की जाएगी.
    • इन बॉन्ड्स को केंद्र सरकार की ओर से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया जारी करेगा.
    • बॉन्ड्स के मेच्योर होने की अवधि 8 साल होगी. हालांकि 5 साल के बाद अगर कोई निवेशक इससे निकलना चाहेगा तो निकलने का विकल्प होगा.
    • अगर निवेशक चाहें तो सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को सेकेंडरी मार्केट में ट्रेड कर सकते हैं.
    • इस स्कीम में इनवेस्टर्स को हर साल 2.50% का गारंटीड रिटर्न मिलेगा.
    • सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में निवेशकों को कम से कम 1 ग्राम गोल्ड खरीदना होगा.
    • इस स्कीम में एक निवेशक ज्यादा से ज्यादा 4 किलो गोल्ड खरीद सकता है. HUF भी इसमें 4 kg गोल्ड खरीद सकते हैं. जबकि एक फिस्कल ईयर में ट्रस्ट और इसी तरह के संगठन मैक्सिमम 20 किलो गोल्ड खरीद सकते हैं.
    • इसके लिए KYC नॉर्म्स फिजिकल गोल्ड खरीदने के समान होंगे.सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेशक अगर मेच्योरिटी तक बने रहते हैं तो इस पर कोई कैपिटल गेन टैक्स नहीं लगता है. अगर मेच्योरिटी से पहले सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड बेचे जाते हैं तो कैपिटल गेन टैक्स चुकाना होगा. इस दौरान स्कीम पर हर साल मिलने वाले रिटर्न पर इनकम टैक्स चुकाना होगा.

    Tags: Gold, Gold business, Gold ETF, Gold price, Gold Price Today, Sovereign gold bond

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर