सॉवरेन गोल्ड बांड में निवेश करने का मौका, आज से मात्र इतने रुपये में खरीदें 10 ग्राम सोना

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign gold bond)

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign gold bond)

गोल्ड बांड (Sovereign Gold Bond Scheme FY21) की दूसरी किश्त आज यानी सोमवार से खुल गई है तो जो भी ग्राहक इसमें पैसा लगाना चाहते हैं वह आज से निवेश कर सकते हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली: सोना खरीदने वालों के लिए अच्छी खबर है...सरकार एक बार फिर आपको सस्ता सोना खरीदने का मौका दे रही है. अगर आप पिछली सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में खरीदारी नहीं कर पाए तो आज आपके पास अच्छा मौका है. गोल्ड बांड (Sovereign Gold Bond Scheme FY21) की दूसरी किश्त आज यानी सोमवार से खुल गई है तो जो भी ग्राहक इसमें पैसा लगाना चाहते हैं वह आज से निवेश कर सकते हैं. यह किश्त 28 मई तक ओपन रहेगी. आइए आपको इसके बारे में सबकुछ बताते हैं-

सॉवरेन गोल्ड बांड (Sovereign Gold Bond Scheme FY21) की दूसरी किश्त के लिए 4,842 रुपये प्रति ग्राम मूल्य तय किया गया है और यह 24 मई से 28 मई के बीच खुलेगा. बता दें कि पहली किश्त के लिए सब्सक्रिप्शन मूल्य 4,777 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया था. गोल्ड बांड को ऑनलाइन खरीदने पर प्रति ग्राम 50 रुपये की छूट मिलेगी.

यह भी पढ़ें: अब बिना नौकरी और बिजनेस के कमाएं पैसा, इन 4 तरीकों से हो जाएंगे मालामाल!

जानें कितना करें निवेश
निवेशकों के लिए निवेश का यह सुनहरा मौका है. भारत में सोने के निवेश विकल्पों में सोवरेन गोल्ड बांड सबसे बेहतर माना जाता है और इसे केंद्र सरकार के बिहाफ पर RBI जारी करती है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम में एक वित्त वर्ष में एक व्यक्ति अधिकतम 4 किग्रा सोने के बॉन्ड खरीद सकता है. वहीं न्यूनतम निवेश एक ग्राम का होना जरूरी है.

कितना लगता है टैक्स?

8 साल के मैच्योरिटी पीरियड के बाद इससे होने वाले लाभ पर कोई टैक्स नहीं लगता है. वहीं, अगर आप 5 साल बाद अपना पैसा निकालते हैं तो इससे होने वाले लाभ पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन (LTCG) टैक्स लगता है.



कहां से कर सकते हैं खरीदारी

गोल्ड बॉन्ड को ऑनलाइन खरीद सकते हैं. इसके अलावा इसकी बिक्री बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआईएल), चुनिंदा डाकघरों और एनएसई व बीएसई जैसे स्टॉक एक्सचेंज के जरिए भी होगी. स्माल फाइनेंस बैंक और पेमेंट बैंक में इनकी बिक्री नहीं होती है.

यह भी पढ़ें: अब बिना नौकरी और बिजनेस के कमाएं पैसा, इन 4 तरीकों से हो जाएंगे मालामाल!

क्या होता है SGB?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड एक सरकारी बॉन्ड होता है. इसका मूल्य रुपये या डॉलर में नहीं होता है, बल्कि सोने के वजन में होता है. यदि बॉन्ड पांच ग्राम सोने का है, तो पांच ग्राम सोने की जितनी कीमत होगी, उतनी ही बॉन्ड की कीमत होगी. यह बॉन्ड RBI सरकार की ओर से जारी किया जाता है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में इश्यू प्राइस पर हर साल 2.50 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है. बॉन्ड का मैच्योरिटी पीरियड 8 साल का है, लेकिन निवेशकों को 5 साल के बाद बाहर निकलने का मौका मिलता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज