कोरोना काल में सस्ता सोना खरीदने का मौका, कल से खुलेगी मोदी सरकार की ये स्कीम

कोरोना काल में सस्ता सोना खरीदने का मौका, कल से खुलेगी मोदी सरकार की ये स्कीम
कोरोना संकट में सरकार बेचेगी सस्ता सोना

वित्त वर्ष 2021 के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond Scheme) की तीसरी सीरीज 8 जून से सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगी. यह सब्सक्रिप्शन के लिए 12 जून तक खुली रहेगी.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. लॉकडाउन में घर बैठे सोना खरीदना चाहते हैं तो मोदी सरकार आपके लिए एक खास स्कीम लेकर आई है. वित्त वर्ष 2021 के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bond Scheme) की तीसरी सीरीज 8 जून से सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगी. यह सब्सक्रिप्शन के लिए 12 जून तक खुली रहेगी. केंद्रीय बैंक ने ऐलान किया था कि सरकार Sovereign Gold Bond को 20 अप्रैल से सितंबर तक छह हिस्सों में जारी करेगी. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) भारत सरकार की ओर से जारी करेगा. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लिए 1 ग्राम सोने का भाव 4,677 रुपये तय किया गया है. वहीं अगर ऑनलाइन खरीदते हें तो इस पर 500 रुपये प्रति 10 ग्राम या या 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलेगी.

मई सीरीज में रिकॉर्ड बिक्री
मौजूदा वित्त वर्ष में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की मई सीरीज को लेकर निवेशकों में जबरदस्त क्रेज दिखा था. सरकार ने मई महीने में सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के जरिए 25 लाख यूनिट बेचकर 1168 करोड़ रुपये की कमाई की. इससे पहले अक्टूबर 2016 में सबसे ज्यादा 1082 करोड़ का गोल्ड बॉन्ड सरकार ने बेचा था. मई सीरीज में गोल्ड बॉन्ड को 11 से 15 मई के बीच सब्स​क्रिप्शन के ​लिए खोला गया था, जिसमें एक यूनिट का भाव 4590 रुपये था. आनलाइन खरीदने पर 500 रुपये प्रति 10 ग्राम या 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट थी. गोल्ड बांड के अप्रैल सीरीज में सरकार को 822 करोड़ रुपये की कमाई हुई थी. अबतक कुल 39 इश्यू जारी हो चुके हैं.

ये भी पढ़ें- 30 जून से पहले जरूर निपटा लें अपने पैसे से जुड़े ये 7 अहम काम, नहीं तो उठाना पड़ेगा नुकसान!



क्या है सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम?


इस योजना की शुरुआत नवंबर 2015 में हुई थी. इसका मकसद फिजिकल गोल्ड की मांग में कमी लाना तथा सोने की खरीद में उपयोग होने वाली घरेलू बचत का इस्तेमाल वित्तीय बचत में करना है. घर में सोना खरीद कर रखने की बजाय अगर आप सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड में निवेश करते हैं, तो आप टैक्‍स भी बचा सकते हैं.

कितना खरीद सकते हैं सोना
कोई शख्स एक वित्त वर्ष में मिनिमम 1 ग्राम और मैक्सिमम 4 किलोग्राम तक वैल्यू का बॉन्ड खरीद सकता है. हालांकि किसी ट्र्स्ट के लिए खरीद की अधिकतम सीमा 20 किग्रा है.

ये भी पढ़ें- भूल जाएं FD, यहां पैसा लगाने वालों को एक महीने में मिला 10% मुनाफा

2.5 फीसदी रिटर्न की गारंटी
गोल्ड बांड में सोने में आने वाली तेजी का फायदा तो मिलता ही है. इस पर सालाना 2.5 फीसदी ब्याज भी मिलता है. ब्याज निवेशक के बैंक खाते में हर 6 महीने पर जमा किया जाएगा. अंतिम ब्याज मूलधन के साथ मेच्योरिटी पर दिया जाता है. मेच्योरिटी पीरियड 8 साल है, लेकिन 5 साल, 6 साल और 7 साल का भी विकल्प होता है. अगर सोने के बाजार मूल्य में गिरावट आती है तो कैपिटल लॉस का खतरा भी हो सकता है.

कहां से खरीद सकते हैं ?
गोल्ड बॉन्ड को ऑनलाइन खरीद सकते हैं. इसके अलावा इसकी बिक्री बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआईएल), चुनिंदा डाकघरों और एनएसई व बीएसई जैसे स्टॉक एक्सचेंज के जरिए भी होगी.

कब-कब जारी होंगे गोल्ड बॉन्ड?
तीसरी सीरीज: 8 जून से लेकर 12 के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है. इसकी किस्त 16 जून को जारी की जाएगी.
चौथी सीरीज: 6 जुलाई से लेकर 10 जुलाई के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है. इसकी किस्त 14 जुलाई को जारी की जाएगी.
पांचवीं सीरीज: 3 अगस्त से लेकर 7 अगस्त के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है. इसकी किस्त 11 अगस्त को जारी की जाएगी.
छठी सीरीज: 31 अगस्त से लेकर 4 सितंबर के बीच सब्सक्रिप्शन लिया जा सकता है. इसकी किस्त 8 सितंबर को जारी की जाएगी.

ये भी पढ़ें- इस सरकारी बैंक ने ग्राहकों को दिया तोहफा, आज से इतना सस्ता मिलेगा लोन
First published: June 7, 2020, 8:26 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading