4 दिसंबर से दिल्ली से लंदन के लिए चलेगी नॉन-स्टॉप फ्लाइट्स, बहुत ही किफायती रखा गया है किराया

 4 दिसंबर से दिल्ली से लंदन चलेंगी नॉन-स्टॉप फ्लाइट्स, बहुत ही किफायती किराया
4 दिसंबर से दिल्ली से लंदन चलेंगी नॉन-स्टॉप फ्लाइट्स, बहुत ही किफायती किराया

दिल्ली और मुंबई से लंदन (Delhi, Mumbai to London) के हीथ्रो एयरपोर्ट को जाने वाले यात्रियों की मुश्किलें हुई खत्म. स्पाइसजेट (SpiceJet) ने 4 दिसंबर से नॉन-स्टॉप फ्लाइट शुरू (Non-Stop Flight Service will Start) करने की घोषणा की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 5, 2020, 5:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली और मुंबई से लंदन (Delhi, Mumbai to London) के हीथ्रो एयरपोर्ट को जाने वाले यात्रियों की मुश्किलें हुई खत्म. स्पाइसजेट (SpiceJet) ने 4 दिसंबर से नॉन-स्टॉप फ्लाइट शुरू (Non-Stop Flight Service will Start) करने की घोषणा की है. बता दें कि इन उड़ानों का संचालन भारत और ब्रिटेन के बीच बबल एरेंजमेंट (bubble arrangement) के तहत किया जा रहा है. स्पाइसजेट भारत और ब्रिटेन (India and Britain) के बीच फ्लाइट संचालित करने वाली पहले किफायती एयरलाइन है.

371 सीटों वाले एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल होगा
कंपनी ने बताया कि वह दिल्ली से लंदन के लिए हफ्ते में दो उड़ानें संचालित करेगी. मुंबई से लंदन के लिए हफ्ते में एक दिन स्पाइजेट की फ्लाइट संचालित की जाएगी. इस फ्लाइट के लिए 371 सीटों वाला एयरबस ए330-900 नियो एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल किया जाएगा. इसमें 353 सीटें इकॉनमी और 18 बिजनस क्लास की होंगी.

ये भी पढ़ें:- Railway ने आज कैंसिल की इन रूटों पर ट्रेनें, यात्रा करने से पहले देखें लिस्ट
किराया होगा इतना


कंपनी का कहना है कि शुरुआती ऑफर के तहत रिटर्न किराया 53,555 रुपये से शुरू होगा. दिल्ली-लंदन और मुंबई-लंदन रूट पर एक तरफ का किराया 25,555 रुपये से शुरू होगा जबकि लंदन-दिल्ली और लंदन-मुंबई रूट पर यह 29,555 रुपये से शुरू होगा. कंपनी के चेयरमैन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर अजय सिंह ने अपने बयान में कहा कि यह हमारे लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है. मुझे इस बात का गर्व है कि स्पाइसजेट ब्रिटेन के लिए नॉन-स्टॉप उड़ान भरने वाली देश की पहली लो-कॉस्ट एयरलाइन है.

इतने भारतीयों को स्वदेश पहुंचाया
आपको बता दें कि कोविड संकट के बाद स्पाइसजेट ने लंदन के हीथ्रो हवाई अड्डे से अपनी पहली लंबी दूरी की चार्टर फ्लाइट संचालित की थी. कंपनी का कहना है कि उसने कोविड-19 महामारी के दौरान विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए 800 उड़ानें संचालित की. इनके जरिए 1.3 लाख भारतीयों को स्वदेश लाया गया और विदेशियों को उनके देश पहुंचाया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज