Home /News /business /

star rating on tyres to save petrol and diesel government to bring new norms soon arnod

टायरों की भी होगी स्टार रेटिंग, 10 फीसदी तक बढ़ेंगे माइलेज, जल्द आने वाला है नया नियम  

टायरों की रेटिंग के नए नियम की जल्द हो सकती है घोषणा.

टायरों की रेटिंग के नए नियम की जल्द हो सकती है घोषणा.

रिपोर्ट के मुताबिक, पावर रेटिंग की तरह ही टायरों के लिए भी स्टार रेटिंग शुरू की जाएगी. 5 स्टार रेटिंग टायर्स से ईंधन बचाने और माइलेज बढ़ाने में मदद मिलेगी. स्टार रेटिंग के जरिये घटिया टायरों के आयात पर भी पाबंदी लगाने की सरकार की योजना है. 5 स्टार रेटिंग वाले टायर से 5 से 10 फीसदी तक ईंधन की बचत हो सकती है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. घटिया टायरों से देश के वाहन चालकों को जल्दी ही मुक्ति मिलने वाली है. एसी-फ्रिज की तरह अब गाड़ियों के टायरों की भी स्टार रेटिंग होगी. इससे न सिर्फ वाहन चालक सुरक्षित सफर का आनंद उठा सकेंगे बल्कि गाड़ियों की माइलेज बढ़ाने में भी मदद मिलेगी.

सरकार जल्दी ही टायरों के लिए स्टार रेटिंग के नए नियम लागू कर सकती है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसिएशन ऑफ इंडिया (ARAI) ने टायर बनाने वाली कंपनियों से इस बार में विस्तार से चर्चा की है. फिलहाल टायर की गुणवत्ता के लिए बीआईएस नियम लागू होता है.

ये भी पढ़ें- इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने पर मिलती है टैक्स छूट, ऐसे उठा सकते हैं फायदा, पढ़ें पूरी डिटेल

घटिया टायरों का आयात भी होगा बंद
रिपोर्ट के मुताबिक, पावर रेटिंग की तरह ही टायरों के लिए भी स्टार रेटिंग शुरू की जाएगी. 5 स्टार रेटिंग टायर्स से ईंधन बचाने और माइलेज बढ़ाने में मदद मिलेगी. स्टार रेटिंग के जरिये घटिया टायरों के आयात पर भी पाबंदी लगाने की सरकार की योजना है. 5 स्टार रेटिंग वाले टायर से 5 से 10 फीसदी तक ईंधन की बचत हो सकती है. सरकार के इस कदम से आत्मनिर्भर भारत मिशन को भी बढ़ावा मिलेगा. इससे घरेलू कंपनियां बेहतर टायर बना सकेंगी.

बढ़ चुके हैं टायरों के दाम
हालांकि, 5 स्टार रेटिंग वाले टायरों की कीमत थोड़ी ज्यादा हो सकती है. अभी इस बारे में कोई खबर नहीं मिली है कि सामान्य टायरों के मुकाबले स्टार रेटिंग वाले टायरों की कीमत कितनी ज्यादा होगी. रूस-यूक्रेन जंग की वजह से टायर की कीमतों में इस साल 8-12 फीसदी तक की बढ़ोतरी हो चुकी है. कच्चा माल और कमोडिटी की कीमतों में वृद्धि की वजह से टायर उत्पादक कंपनियों ने टायर के दाम बढ़ा दिए हैं.

ये भी पढ़ें- भारत में जल्द लॉन्च होगी लग्जरी और स्पोर्ट्स लुक के मिश्रण वाली ये रेंज रोवर, देखिए कितनी होगी कीमत

मांग बढ़ने, आपूर्ति घटने, कच्चे तेल की कीमतों में उछाल से टायर उत्पादन में इस्तेमाल होने वाला प्राकृतिक रबर महंगा हुआ है. प्राकृतिक रबर की एक तिहाई मांग ही घरेलू उत्पादन से पूरा हो पाता है. बाकी की मांग आयात से पूरी की जाती है. वित्त वर्ष 2021-22 में प्राकृतिक रबर की घरेलू कीमतों में 20 फीसदी तक की वृद्धि हुई है. टायर निर्माण में इस्तेमाल होने वाले अन्य कच्चे माले की कीमतों में भी तेजी आई है.

Tags: Business news, Business news in hindi, New Rule, Rating

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर