सता रहा है नौकरी जाने का डर तो इस बिज़नेस में करें 50 हजार रुपये का निवेश, 10 साल तक होगी लाखों में कमाई

सता रहा है नौकरी जाने का डर तो इस बिज़नेस में करें 50 हजार रुपये का निवेश, 10 साल तक होगी लाखों में कमाई
नौकरी जाने का है डर! तो यहां करें 50 हजार रुपये का निवेश, होगी लाखों में कमाई

अगर आप भी नौकरी की वजह से परेशान हैं और कोई नया बिज़नेस शुरू करने का सोच रहे हैं तो हम आपको बता रहे हैं एक ऐसे बिज़नेस के बारे में जिसको आसानी से शुरू कर आप अच्छी कमाई कर सकते हैं.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. कोरोना महामारी की वजह से अर्थव्यवस्था डगमगा गयी है. हजारों-लाखों लोगों की नौकरी चली गई हैं और कुछ लोगों की नौकरी पर संकट मंडरा रहा है. अगर आप भी नौकरी की वजह से परेशान हैं और कोई नया बिज़नेस शुरू करने का सोच रहे हैं तो हम आपको बता रहे हैं एक ऐसे बिज़नेस के बारे में जिसको आसानी से शुरू कर आप अच्छी कमाई कर सकते हैं. आजकल सहजन की खेती (Sahjan farming) पर लोगों का फोकस तेजी से बढ़ा रहा है. इसके लिए आपको ज्यादा बड़ा जमीन का टुकड़ा नहीं चाहिए. इसकी खेती करने के 10 महीने बाद एक एकड़ में किसान 1 लाख रुपये कमा सकते हैं. सहजन एक मेडिसिनल प्लांट है. कम लागत में तैयार होने वाली इस फसल की खासियत यह है कि इसकी एक बार बुवाई के बाद चार साल तक बुवाई नहीं करनी पड़ती है. हम आपको आज सहजन की खेती (Sahjan farming) के बारे में बता रहे हैं. इस खेती को शुरूकर आप 6 लाख सालाना यानी 50 हजार रुपए मंथली तक कमा सकते हैं.

सहजन की खेती- सहजन एक औषधी पौधा भी है. ऐसे पौधों की खेती के साथ इसकी मार्केटिंग और निर्यात भी करना आसान हो गया है. भारत ही नहीं पूरी दुनिया में सही तरीके से उगाई गई मेडिशनल क्रॉप की काफी डिमांड रहती है.

ये भी पढ़ें: चीन ने भारत से दोस्ती करने के लिए चली नई चाल! India को दिया ये ऑफर







(I) सहजन को अंग्रेजी में ड्रमस्टिक (Drumstick) भी कहा जाता है. इसका वैज्ञानि‍क नाम मोरिंगा ओलीफेरा है. इसकी खेती में पानी की बहुत जरूरत नहीं होती और रख-रखाव भी कम करना पड़ता है.

(II) सहजन की खेती काफी आसान पड़ती है और आप बड़े पैमाने नहीं करना चाहते तो अपनी सामान्‍य फसल के साथ भी इसकी खेती कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: PM-Kisan के तहत अगर नहीं मिली 2000 रु की किस्त, तो क्या वापस आएगी पूरी रकम?

(III) यह गर्म इलाकों में आसानी से फल फूल जाता है. इसको ज्‍यादा पानी की भी जरूरत नहीं होती. सर्द इलाकों में इसकी खेती बहुत प्रॉफि‍टेबल नहीं हो पाती, क्‍योंकि इसका फूल खि‍लने के लि‍ए 25 से 30 डिग्री तापमान की जरूरत होती है.

(IV) यह सूखी बलुई या चिकनी बलुई मिट्टी में अच्छी तरह बढ़ता है. पहले साल के बाद साल में दो बार उत्‍पादन होता है और आम तौर पर एक पेड़ 10 साल तक अच्‍छा उत्‍पादन करता है. इसकी प्रमुख कि‍स्‍में हैं - कोयम्बटूर 2, रोहित 1, पी.के.एम 1 और पी.के.एम 2

(V) सहजन का करीब-करीब हर हि‍स्‍सा खाने लायक होता है. इसकी पत्‍तियों को भी आप सलाद के तौर पर खा सकते हैं. सहजन के पत्‍ते, फूल और फल सभी काफी पोषक होते हैं. इसमें औषधीय गुण भी होते हैं. इसके बीज से तेल भी नि‍कलता है.

(VI) करीब-करीब हर हि‍स्‍सा खाने लायक होता है सहजन का. इसकी पत्‍तियों को भी आप सलाद के तौर पर खा सकते हैं. सहजन के पत्‍ते, फूल और फल सभी काफी पोषक होते हैं. इसमें औषधीय गुण भी होते हैं.

(VII) इसके बीज से तेल भी नि‍कलता है. दावा किया जाता है कि सहजन के इस्तेमाल से 300 से अधिक रोगों से बचा जा सकता है. सहजन में 92 विटामिन, 46 एंटी ऑक्सीडेंट, 36 पेन किलर और 18 तरह के एमिनो एसिड पाए जाते हैं.

मोदी सरकार ने 1.5 करोड़ किसानों को दिया तोहफा! सस्ते में मिलेगा 3 लाख का लोन

कितनी होगी कमाई- गोरखपुर के किसान अविनाश कुमार के मुताबिक, एक एकड़ में करीब 1,200 पौधे लग सकते हैं. एक एकड़ में सहजन का पौधा लगाने का खर्च करीब 50 से 60 हजार रुपये आएगा. सहजन की सिर्फ पत्तियां बेचकर आप सालाना 60 हजार रुपये तक कमा सकते हैं. वहीं सहजन का उत्पादन करने पर आप सालना 1 लाख रुपये से ज्यादा की कमाई कर सकते हैं.
First published: June 3, 2020, 5:47 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading