सरकार की मदद से सिर्फ 15 हजार रुपये में शुरू करें ये कारोबार, ₹1 लाख तक की होगी कमाई

आज हम आपको एक ऐसे कारोबार के बारे में बता रहे हैं जिसे आप कम निवेश में शुरू कर सकते हैं.

आज हम आपको एक ऐसे कारोबार के बारे में बता रहे हैं जिसे आप कम निवेश में शुरू कर सकते हैं.

How to earn money? आज हम आपको एक ऐसे कारोबार के बारे में बता रहे हैं जिसे आप कम निवेश में शुरू कर सकते हैं. खास बात यह है कि इसे शुरू करने में आप सरकारी मदद भी ले सकते हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. आजकल हर कोई खुद का बिजनेस (Starting own business) करना चाहता है और मोटी रकम कमाना (Earning money) चाहता है. ऐसे में अगर आप भी अपना कारोबार शुरू करने की सोच रहे हैं और आपको एक शानदार बिजनेस आइडिया (Business idea) की तलाश है तो आज हम आपको एक ऐसे कारोबार के बारे में बता रहे हैं जिसे आप कम निवेश में शुरू कर सकते हैं. खास बात यह है कि इसे शुरू करने में आप सरकारी मदद भी ले सकते हैं. सरकार आपको प्रोजेक्ट कॉस्ट का 90 फीसदी लोन देगी. यह ऐसा बिजनेस है जिसकी डिमांड दिनोंदिन बढ़ती जा रही है. ये कारोबार है- सेनेटरी नैपकिन का (How to start your own sanitary napkin business?) इसे आप महज 15 हजार रुपये से शुरू कर सकते हैं और 1.10 लाख रुपये तक कमा सकते हैं. आइए जानते हैं इस कारोबार को कैसे शुरू करें--

सरकार करेगी मदद

सरकार ने मुद्रा स्कीम के तहत बिजनेस प्रोजेक्ट्स में सेनेटरी नैपकिन को भी शामिल किया है. प्रोजेक्ट रिपोर्ट के मुताबिक, रोजाना 1440 नेपकिन बनाने की यूनिट के बारे में बताया गया है. आठ नैपकिन एक पैकेट में पैक किए जाएं तो रोजाना 180 पैकेट का प्रोडक्‍शन किया जा सकता है. इस रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप सेनेटरी नैपकिन का छोटा सा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आप केवल 16X16 फुट के कमरे में यह यूनिट लगा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- 6 करोड़ PF धारकों के लिए जरूरी खबर! EPFO ने अनिवार्य किया ये नियम, तुरंत करें अकाउंट अपडेट वरना रूक जाएगा पैसा
15 हजार रुपये में शुरू करें प्रोजेक्‍ट

प्रोजेक्ट रिपोर्ट के मुताबिक, अगर आप 180 पैकेट रोजाना प्रोडक्‍शन के लिए यूनिट लगाते हैं आपका प्रोजेक्‍ट 1.45 लाख रुपये में शुरू हो जाएगा. इसके लिए आपको 90 फीसदी यानी 1.30 लाख रुपये का मुद्रा लोन मिल जाएगा तो आपको अपनी ओर से 15 हजार रुपये ही लगाने होंगे. आपको डिफाइबरेशन मशीन, कोर मॉर्निंग मशीन, सॉफ्ट टच सीलिंग मशीन, नेपकिन कोर डाइ, यूवी ट्रीट यूनिट लेनी होगी और इनके इंस्‍टॉलेशन के साथ आपको ये मशीनें लगभग 70 हजार रुपये में मिल जाएंगी. आपको वुड पल्‍प, टॉप लेयर, बैक लेयर, रिलीज पेपर, गम, पैकिंग कवर रॉ-मैटेरियल के तौर पर लेना होगा. रिपोर्ट में कहा गया है कि एक माह का रॉ-मैटेरियल लगभग 36 हजार रुपये में आ जाएगा.

क्या होगा प्रोडक्‍शन कॉस्ट?



रिपोर्ट में के मुताबिक, साल भर में 300 दिन काम किया गया तो 54000 पैकेट का प्रोडक्‍शन होगा, जिसकी कॉस्‍ट इस प्रकार होगी. रॉ-मैटेरियल पर 4.32 लाख रुपये, सैलरी पर 84 हजार रुपये, प्रशासनिक खर्च पर 27 हजार रुपये, डेप्रिशिएसन पर 8 हजार रुपये, इंश्‍योरेंस पर 800 रुपये, रिपेयर मेंटनेंस पर 4 हजार रुपये, इंटरेस्‍ट ऑन कैपटिल पर 18 हजार रुपये, सेलिंग खर्च पर 16200 रुपये यानी कुल खर्च 5.90 लाख रुपये होंगे.

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: खुशखबरी! रिकाॅर्ड लेवल से 7,000 रुपये सस्ता हुआ सोना! फटाफट चेक करें अपने शहर का भाव

जानें कितनी होगी कमाई?

रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि यदि सेनेटरी नेपकिन का एक पैकेट आप थोक बाजार में 13 रुपये की कीमत में बेचते हैं तो आपको लगभग 7.02 लाख रुपये की कुल बिक्री कर पाएंगे. ऐसे में आपकी कुल बिक्री अगर 7.02 लाख रुपये होगी तो आपका मुनाफा लगभग 1.08 हजार रुपये होगा, जो कि अगले साल मशीनरी पर होने वाले खर्च को कम कर दिया जाए तो आपका मुनाफा और बढ़ सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज