कोरोना को देखते हुए आ गया है आत्मनिर्भर पेट्रोल पंप, जहां आपको अपनी गाड़ी में खुद भरना पड़ेगा फ्यूल

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि लॉकडाउन के कारण वैसे ही लोगों को चौतरफ़ा मार है. ऊपर से पेट्रोल डीज़ल के बढ़े हुए दामों के चलते लोग अब अपनी गाड़ियां भी नहीं घर से निकाल सकते. बता दें कि लगातार 19वें दिन दाम बढ़े.

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि लॉकडाउन के कारण वैसे ही लोगों को चौतरफ़ा मार है. ऊपर से पेट्रोल डीज़ल के बढ़े हुए दामों के चलते लोग अब अपनी गाड़ियां भी नहीं घर से निकाल सकते. बता दें कि लगातार 19वें दिन दाम बढ़े.

आमतौर पर जब आप किसी फ्यूल स्टेशन पर जाते हैं, तो वहां मौजूद कर्मचारी आपकी गाड़ी में पेट्रोल भर देता है. लेकिन पुणे में एक ऐसा पेट्रोल पंप खोला गया है जहां आपको ऐसा नहीं दिखेगा. यहां आपको खुद आत्मनिर्भर बन के पेट्रोल भरना होगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस के आने के बाद देश में कई तरह के बदलाव देखने को मिल रहे हैं. ऐसा ही एक बदलाव आपको एक पेट्रोल पंप पर (Petrol Pump) भी देखने को मिल सकता है. आमतौर पर जब आप किसी फ्यूल स्टेशन पर जाते हैं, तो वहां मौजूद कर्मचारी आपकी गाड़ी में पेट्रोल भर देता है. लेकिन पुणे में एक ऐसा पेट्रोल पंप खोला गया है जहां आपको ऐसा नहीं दिखेगा. यहां आपको खुद आत्मनिर्भर बन के पेट्रोल भरना होगा.

ये तो आत्मनिर्भर भारत की मुहिम रोजगार से जुड़ी है, लेकिन आत्मनिर्भर होना हर फील्ड में जरूरी है. यहां ग्राहकों को अपनी गाड़ी में खुद पेट्रोल भरना पड़ रहा है. इससे पहले उन्हें अपने हाथ सैनिटाइज करने होते हैं. पेट्रोल पंप के मालिक बताते हैं कि उन्होंने मोदी के आत्मनिर्भर भारत से ही यह प्रेरणा ली है.

ये भी पढ़ें:- 1 जुलाई से बदल जाएंगे आपके बैंक खाते से जुड़े ये 3 नियम, नहीं जानने पर होगा भारी नुकसान



कैसे काम करता है आत्मानबीर पेट्रोल पंप
>> सबसे पहले ग्राहकों को अपने हाथों को साफ करने के लिए कहा जाएगा.
>> फिर कितने का पेट्रोल डलवाना है वो नंबर डालना होगा, आपकी मदद के लिए पंप पर एक कर्मचारी बैठा होगा.
>> नोजल लें, चेक करले की मीटर जीरो पर हो, जांच करें, नोजल पर लीवर को उठाएं, फिर लीवर के नीचे एक लॉक होता है जिसे दबाने की आवश्यकता होती है जो ईंधन को प्रवाह करने की अनुमति देता है.

ये भी पढ़ें:- वित्त मंत्री जल्द करेंगी जनधन खातों को लेकर बैठक, ग्राहकों के हित में हो सकते हैं कई फैसले

>> भरे जाने के बाद प्रवाह अपने आप रुक जाता है.
>> नोजल को बाहर निकालें, मशीन प्रेस बटन पर वापस ‘वॉल्यूम’ अंकित करें

यह मुहिम लोगों को पसंद आ रही है. लोगों का कहना है कि अगर पेट्रोल पंप पर कर्मचारी नहीं है या कम हैं, तो आपको इंतजार नहीं करना पड़ेगा. इस मुहिम का एक फायदा यह भी होगा कि लोग कम पेट्रोल देने का आरोप लगाते रहते हैं. इसमें आप खुद मशीन को प्री-सेट करके पेट्रोल भरेंगे, तो कम-ज्यादा होने की आशंका नहीं होती.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज