लाइव टीवी

दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले पार्टियों को ऐसे मिलेगा चंदा, आज से इलेक्टोरल बॉन्ड की बिक्री शुरू

News18Hindi
Updated: January 13, 2020, 3:11 PM IST
दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले पार्टियों को ऐसे मिलेगा चंदा, आज से इलेक्टोरल बॉन्ड की बिक्री शुरू
कमाई करने का बेस्ट ऑप्शन

इलेक्टोरल बॉन्ड की बिक्री 22 जनवरी तक होगी. बता दें कि दिल्ली में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और आप किसी राजनीतिक पार्टी को चंदा देने के लिए इलेक्टोरल बॉन्ड खरीद सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2020, 3:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश का सबसे बड़ा बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने आज से चुनावी बॉन्ड (Electoral Bond) की बिक्री शुरू कर दिया है. इलेक्टोरल बॉन्ड की बिक्री 22 जनवरी तक होगी. बता दें कि दिल्ली में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और आप किसी राजनीतिक पार्टी को चंदा देने के लिए इलेक्टोरल बॉन्ड खरीद सकते हैं.

चुनावी बॉन्ड योजना को राजनीतिक चंदे के लिए नकदी के एक विकल्प के रूप में पेश किया गया है. राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे में पारर्दिशता लाने के लिए यह व्यवस्था शुरू की गई है. आपको बता दें कि चुनावी बॉन्ड खरीदकर किसी पार्टी को देने से 'बॉन्ड खरीदने वाले' को कोई फायदा नहीं होगा. न ही इस पैसे का कोई रिटर्न है. ये पैसा पॉलिटिकल पार्टियों को दिए जाने वाले दान की तरह है.

ये भी पढ़ें: इस सरकारी स्कीम में निवेश करने वालों पर नहीं लगते ये दो टैक्स, होगा ज्यादा फायदा



SBI की 29 शाखाओं में हो रही बिक्री



एसबीआई की जिन 29 शाखाओं को इन बॉन्ड्स को जारी करने के लिए अधिकृत किया गया है, उनमें नई दिल्ली, गांधीनगर, पटना, चंडीगढ़, बेंगलुरु, भोपाल, मुंबई, जयपुर, लखनऊ, चेन्नई, कोलकाता और गुवाहाटी की शाखाएं शामिल हैं.

बॉन्ड में तीन खिलाड़ी
(1) डोनर, जो राजनीतिक दलों को फंड डोनेट करना चाहता है. जो व्यक्ति, संस्था या कंपनी हो सकती है.
(2) देश के राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनीतिक दल.
(3) देश का केन्द्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया.

बॉन्ड की मियाद 15 दिनों की होती है, यानी खरीदने के 15 दिन बाद पॉलिटिकल पार्टी को बॉन्ड दे देना है वो भी पंजीकृत राजनीतिक दल को. पार्टी भी इन्हें सिर्फ अधिकृत बैंक खाते के जरिए ही भुना सकेगी. खरीदने वाले का KYC जरुरी होगा. ये बॉन्ड उन्हीं पंजीकृत राजनीतिक दलों को दिए जा सकेंगे जिन्हें पिछले चुनाव में कम से कम एक फीसदी वोट मिला.

ये भी पढ़ें: SBI सेविंग अकाउंट: अपडेट कर लें ये दो जानकारी वरना कैश निकालने में होगी परेशानी

12वें चरण तक के आंकड़ों के मुताबिक इलेक्टोरल बॉन्ड का सबसे ज्यादा 30.67 फीसदी हिस्सा मुंबई में बेचा गया. इनका सबसे ज्यादा 80.50 फीसदी हिस्सा दिल्ली में भुनाया गया.

ये भी पढ़ें: Railway ने शुरू की नई सर्विस! चार्ट बनने के बाद भी मिल सकती है कन्फर्म सीट, जानें कैसे?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 3:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading