Home /News /business /

भारत के एक और पड़ोसी देश में Cryptocurrency को बैन करने की कवायद, जानिए वजह

भारत के एक और पड़ोसी देश में Cryptocurrency को बैन करने की कवायद, जानिए वजह

चीन पहले ही क्रिप्‍टोकरेंसी को बैन कर चुका है. अब पड़ोसी पाकिस्‍तान में भी राष्‍ट्रीय बैंक और संघीय सरकार ने Cryptocurrency को बैन करने की सिफारिश की है.

चीन पहले ही क्रिप्‍टोकरेंसी को बैन कर चुका है. अब पड़ोसी पाकिस्‍तान में भी राष्‍ट्रीय बैंक और संघीय सरकार ने Cryptocurrency को बैन करने की सिफारिश की है.

चीन पहले ही क्रिप्‍टोकरेंसी को बैन कर चुका है. अब पड़ोसी पाकिस्‍तान में भी राष्‍ट्रीय बैंक और संघीय सरकार ने Cryptocurrency को बैन करने की सिफारिश की है. सिफारिश से पाकिस्‍तान के क्रिप्‍टो निवेशकों में खलबली मची है.

नई दिल्‍ली. Cryptocurrency News : चीन के बाद पाकिस्‍तान में भी अब क्रिप्‍टोकरेंसी को बैन करने प्रक्रिया चल पड़ी है. संघीय सरकार और स्‍टेट बैंक ऑफ पाकिस्‍तान ने Cryptocurrency को देश में पूरी तरह बैन करने की सिफारिश की है. सिफारिश को कानून मंत्रालय और वित्‍त मंत्रालय के पास समीक्षा करने के लिये भेजा गया है.

सिंध हाईकोर्ट भी सरकार से क्रिप्‍टोकरेंसी के संबंध में नियम बनाने को कह चुका है. पाकिस्‍तानी मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक संघीय सरकार (federal government) और स्‍टेट बैंक ऑफ पाकिस्‍तान (Central Bank of Pakistan) ने क्रिप्‍टोकरेंसी को पूरी तरह बैन करने की सिफारिश की है. साथ ही क्रिप्‍टोकरेंसी एक्‍सचेंज पर जुर्माने लगाने की भी बात कही गई है.

ये भी पढ़ें :  पेंशनर्स के लिये बड़ी राहत, अब ऐप से घर बैठे जमा होगा जीवन प्रमाण-पत्र, जानिये पूरी प्रक्रिया

सिंध हाई कोर्ट तक पहुंचा था क्रिप्‍टो केस

पाकिस्‍तान में क्रिप्‍टोकरेंसी (Pryptocurrency in Pakistan) के बारे में नियम बनाने की मांग को लेकर एक व्‍यक्ति ने सिंध हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. 20 अक्‍टूबर 2020 हाई कोर्ट ने सरकार को आदेश दिया था कि वह इसके संबंध में कायदे-कानून बनाये. अब सरकार और नेशनल बैंक की मंशा को देखते हुये लगता है कि नियम बनाने की आवश्‍यकता ही न रहे, क्‍योंकि जब क्रिप्‍टोकरेंसी पूरी तरह बैन हो जायेगी तो नियमों का कोई काम ही नहीं रह जायेगा.

आतंकवाद और मनी लॉंड्रिंग है कारण

पाकिस्‍तान में क्रिप्‍टोकरेंसी को बैन किये जाने की सिफारिश के पीछे इसका आतंकवादी गतिविधियों में इस्‍तेमाल होने और मनी लॉंड्रिंग को माना जा रहा है. लंबे समय से पाकिस्‍तान में कहा जा रहा था कि क्रिप्‍टोकरेंसी का प्रयोग आतंकवाद को बढ़ावा देने में हो रहा है. ऐसे ही आरोप क्रिप्‍टोकरेंसी पर कई अन्‍य देशों में लग रहे हैं, जिनमें भारत भी शामिल है.

उलझन में इन्‍वेस्‍टर

हालांकि, अभी क्रिप्‍टोकरेंसी पर बैन लगान नहीं है, लेकिन फिर भी क्रिप्‍टोकरेंसी में निवेश करने वाले पाकिस्‍तानी उलझन में हैं. कानून तथा वित्‍त मंत्रालय इस सिफारिश को मानते हुए क्रिप्‍टो पर बैन लगायेंगे या इसके ट्रेड के लिये कोई कानूनी ढांचा बनायेंगे, इसका पता किसी को नहीं है. यही सस्‍पेंस निवेशकों को खाये जा रहा है. अभी यह साफ नहीं है कि अगर बैन लगता है तो इन्‍वेस्‍टर्स की लगाई पूंजी का क्‍या होगा. वहीं, अब पॉपुलर क्रिप्‍टो इन्‍फ्लूएनसर्स “यूथ वांट क्रिप्‍टो” का नारा बुलंद कर रहे हैं और प्रधानमंत्री इमरान खान से इस विषय पर अपनी राय स्‍पष्‍ट करने की मांग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें :  अभी तक भारत में क्‍यों नहीं आई टेस्‍ला की कार? एलन मस्‍क बोले- चुनौतियों से निपटने में लगे हैं हम

ज्‍यादातर देशों में नहीं कानून

कुछ देशों में क्रिप्‍टोकरेंसी को कुछ हद तक वैध करेंसी का दर्जा दिया है. लेकिन अधिकतर देशों में क्रिप्‍टो के संबंध में कोई नियम-कानून नहीं है. साउथ कोरिया ने इसको बैन करने की बजाय एक एक लीगल फ्रेमवर्क बना दिया है ताकि इसमें अवैध गतिविधियां न हों. वहीं चीन ने इस पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा रखा है.

Tags: Cryptocurrency, Pakistan

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर