माल्‍या पर बरती ढिलाई! SBI की सफाई- कर्ज वसूलने में कोई कसर नहीं छोड़ी

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपने बयान में कहा कि भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की बंद हो चुकी विमानन कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस के कर्ज अदायगी में उसने कोई कसर नहीं छोड़ी है.

भाषा
Updated: September 14, 2018, 7:51 PM IST
माल्‍या पर बरती ढिलाई! SBI की सफाई- कर्ज वसूलने में कोई कसर नहीं छोड़ी
विजय माल्या (फाइल फोटो)
भाषा
Updated: September 14, 2018, 7:51 PM IST
विजय माल्या की दर्ज अदायगी मामले में बैंकों पर लग रहे राजनीतिक आरोपों के मद्देनजर भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपनी सफाई दी है. बैंक ने शुक्रवार को जारी अपने बयान में कहा कि भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या की बंद हो चुकी विमानन कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस के कर्ज वसूली में उसने कोई कसर नहीं छोड़ी है.

एसबीआई का यह बयान ऐसे समय में आया है जब ऐसी खबरें सामने आयी हैं कि उसे माल्या को देश से भागने से रोकने के लिए फरवरी 2016 में उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाने का सुझाव दिया गया था. लेकिन बैंक माल्या के भाग जाने के बाद उच्चतम न्यायालय गया था.

यह भी पढ़ें: माल्या को भारत प्रत्यर्पित किया जाएया या नहीं, 10 दिसंबर को आएगा फैसला

गौरतलब है कि माल्या दो मार्च 2016 को देश से भाग गया था जबकि बैंकों के समूह ने इसके चार दिन बाद उच्चतम याचिका दायर करके न्यायालय से मांग की थी कि माल्या को देश छोड़कर भागने से रोका जाए. बैंक ने बयान में कहा, ‘‘एसबीआई इस बात से इनकार करता है कि किंगफिशर एयरलाइंस समेत कर्ज अदायगी नहीं होने के मामलों में उसकी या उसके अधिकारियों की तरफ से कोई कोताही बरती गयी.

 यह भी पढ़ें: प्रत्यर्पण मामलाः लंदन कोर्ट में पेशी से पहले बोले माल्या- सबका हिसाब चुकता कर दूंगा

बैंक ने फंसे पैसों की वसूली के लिए पूरी सक्रियता से कठोर कदम उठाये हैं. उल्लेखनीय है कि, माल्या की स्वामित्व वाली किंगफिशर एयरलाइन पर 17 बैंकों के गठबंधन 9000 करोड़ रुपए से अधिक के कर्ज न चुकाने और कर्ज के पैसे के साथ हेराफेरी के मामले में कानूनी कार्रवाई चल रही है. वह इस समय लंदन में है और उसको भारत लाने की कानूनी कार्रवाई चल रही है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर