लाइव टीवी

एशिया की सबसे बड़ी हेलमेट कंपनी यहां निवेश करेगी ₹150 करोड़, 2000 लोगों को मिलेगी नौकरी

भाषा
Updated: October 10, 2019, 6:58 PM IST
एशिया की सबसे बड़ी हेलमेट कंपनी यहां निवेश करेगी ₹150 करोड़, 2000 लोगों को मिलेगी नौकरी
एशिया की सबसे बड़ी हेलमेट कंपनी निवेश करेगी ₹150 करोड़, मिलेगी हजारों नौकरियां

स्टीलबर्ड (Steelbird) ब्रांड नाम से हेलमेट (Helmet) बनाने वाली प्रमुख कंपनी स्टीलबर्ड हाई-टेक (Steelbird Hi-tech) का दावा है कि उसने सितंबर 2019 में 6 लाख से अधिक हेलमेट की बिक्री की है. नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद कंपनी ने बिक्री का ये स्तर छुआ है.

  • Share this:
नई दिल्ली. स्टीलबर्ड (Steelbird) ब्रांड नाम से हेलमेट (Helmet) बनाने वाली प्रमुख कंपनी स्टीलबर्ड हाई-टेक (Steelbird Hi-tech) इंडिया अपने बद्दी संयंत्र की क्षमता बढ़ाने के लिए 150 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है. इससे कंपनी की उत्पादन क्षमता प्रतिदिन 44,500 हेलमेट हो जाएगी.

कंपनी के प्रबंध निदेशक राजीव कपूर ने एक बयान में कहा, कंपनी की भविष्य की विकास रणनीति नए क्षेत्रों में पहुंच और नई उत्पादों को पेश करते हुए विस्तार क्षमताओं को बढ़ाने पर आधारित है. हम हिमाचल प्रदेश के बद्दी में लगभग 150 करोड़ रुपए के निवेश से अपने अत्याधुनिक संयंत्र की उत्पादन क्षमता बढ़ा रहे हैं. हमने प्रतिदिन 44,500 हेलमेट उत्पादन की क्षमता के साथ दिसंबर के बाद 11 लाख से अधिक हेलमेट बेचने का लक्ष्य रखा है. हम 2000 से अधिक नए कर्मचारियों की नियुक्ति करेंगे.

सितंबर में बेचे 6 लाख से अधिक हेलमेट
कंपनी का दावा है कि उसने सितंबर 2019 में 6 लाख से अधिक हेलमेट की बिक्री की है. नया मोटर वाहन अधिनियम लागू होने के बाद कंपनी ने बिक्री का ये स्तर छुआ है. कंपनी ने कहा कि नए विस्तार के बाद स्टीलबर्ड मात्रा और बिक्री दोनों के मामले में दुनिया का सबसे बड़ा हेलमेट उत्पादन संयंत्र बन जाएगा. यह हेलमेट की बढ़ती बाजार मांग को पूरा करने में मदद करेगा.

ये भी पढ़ें: चलने के पहले ही कैंसिल हो गई ‘करवा चौथ’ स्पेशल ट्रेन, जानें क्या है वजह?

जम्मू-कश्मीर में फैक्ट्री लगाने का प्रस्ताव
बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 और 35A हटने की प्रक्रिया शुरू की घोषणा के बाद स्टीलबर्ड हाईटेक इंडिया ने यहां मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने की पेशकश की थी. स्टीलबर्ड हेलमेट्स के चेयरमैन सुभाष कपूर ने कहा था कि हम अक्टूबर में होने वाले निवेशक सम्मेलन के अनुरूप वहां विनिर्माण संयंत्र लगाने की योजना बना रहे हैं. हमें उम्मीद है कि इससे कंपनियों को घाटी में मुक्त तरीके से समान नियमों के तहत काम करने में मदद मिलेगी.
Loading...

ये भी पढ़ें: SBI ने 220 डिफॉल्टर्स के ₹76,600 करोड़ का कर्ज खत्म किया, RTI से हुआ खुलासा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 10, 2019, 6:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...