Stock market: सेंसेक्स 154 अंक गिरकर 49,591 पर बंद, निफ्टी में भी गिरावट, Cipla और सनफार्मा के शेयर 4% उछले

शेयर बाजार में गिरावट.

शेयर बाजार में गिरावट.

Stock Market Today: सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिन मार्केट में दिन भर उतार-चढ़ाव रहा. अंत में BSE पर सेंसेक्स 154 अंक गिरकर 49,598 पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी 45 अंकों की गिरावट के साथ 14,828 पर बंद हुआ.

  • Share this:
नई दिल्ली. सप्ताह के अंतिम कारोबारी दिन मार्केट में दिन भर उतार-चढ़ाव रहा. अंत में BSE पर सेंसेक्स 154 अंक गिरकर 49,598 पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी 45 अंकों की गिरावट के साथ 14,828 पर बंद हुआ. बता दें कि शेयर मार्केट (Share Market) में लगातार तीन दिन बिकवाली के बाद शुक्रवार का दिना निवेशकों के लिए कुछ खास नहीं रहा. बैंकिंग शेयरों में गिरावट के चलते बाजार दबाव में है. हालांकि, फार्मा और टेक कंपनियों ने मार्केट की कमान संभाली. सिप्ला के शेयर में भारी बढ़त दर्ज की गई.

आज इतनी शेयरों में बढ़त

BSE पर मार्केट बंद होने के दौरान, शुक्रवार को करीबन 3,078 कंपनियों के शेयर ट्रेड कर रहे थे. इनमें 1,666 शेयरों में बढ़त और 1,234 शेयर गिरावट के साथ कारोबार कर रहे थे. आज कुल मार्केट कैप 2,09,71,952.18 रुपये रहा.

आज कारोबार की शुरुआती दौर में A2Z Infra Engineering के शेयरों में 11 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली. कंपनी में दिग्गज निवेशक शंकर शर्मा के शेयरों की बिक्री की खबर के बाद यह तेजी आई. दिग्गज निवेशक शंकर शर्मा ने खुले बाजार में 8 अप्रैल को A2Z Infra Engineering के 12,13,091 शेयरों की बिक्री की है. यह बिक्री bulk deals के जरिए एनएसई पर 4.35 रुपये के प्रति शेयर के भाव पर की गई है. 2020 दिसंबर तिमाही के  आकंड़ों के मुताबिक इस तिमाही में A2Z Infra Engineering में शंकर शर्मा की होल्डिंग 4.08 फीसदी थी.
आज के गेनर्स और लूजर्स

आज  फार्मा कंपनी सिप्ला CIPLA के शेयर 4% बढ़त के साथ कारोबार किया. HINDUNILVR, टाटा मोटर्स और सन फार्मा के शेयर में बढ़त रही. वहीं, बजाज फाइनेंस, इंडसइंड बैंक, ICICI BANK, एलटी और एक्सिस बैंक के शेयर में गिरावट रही.

मनीकंट्रोल की खबर के मुताबिक, फिनटेक कंपनी पाइन लैब अपना आईपीओ लाने की तैयारी में है. लेकिन अभी इसका समय नहीं तय हो पाया है. कंपनी के chief executive Amrish Rau  ने कहा कि आईपीओ लाने के पहले हम यह समझना चाहते है कि बाजार कैसे काम करता है. आईपीओ के लिए और किन जरुरत होती है लेकिन अब हम यह बताने की स्थिति में नहीं  है कि आईपीओ अब आएगे. बता दें कि Pine Labs हर साल करीब 3 अरब डॉलर के भुगतान की प्रोसेसिंग करती है. 2020 में कंपनी ने अपने इस प्रस्तावित आईपीओ के लिए लैब फर्मों, ऑडिट कंपनियों और बैंकरों से सलाह मसवरा किया है. इस मामले में अगले 2 महीनों में कुछ और प्रगति हो सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज