होम /न्यूज /व्यवसाय /Stock Market : लगातार तीसरे सत्र में टूटता दिख रहा बाजार, अब 58 हजार से नीचे जाने की तैयारी में सेंसेक्‍स, क्‍या करें निवेशक?

Stock Market : लगातार तीसरे सत्र में टूटता दिख रहा बाजार, अब 58 हजार से नीचे जाने की तैयारी में सेंसेक्‍स, क्‍या करें निवेशक?

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 872 अंकों की गिरावट पर बंद हुआ था.

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 872 अंकों की गिरावट पर बंद हुआ था.

भारतीय शेयर बाजार बीते सप्‍ताह तक लगातार नई ऊंचाइयां छू रहा था, लेकिन ग्‍लोबल मार्केट के दबाव में निवेशक अचानक बिकवाली ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 872 अंक टूटकर 58,774 अंक पर बंद हुआ.
निफ्टी 268 अंकों के नुकसान के साथ 17,491 पर पहुंच गया.
विदेशी संस्‍थाग‍त निवेशकों ने बीते सत्र में बाजार से 453.77 करोड़ निकाले.

नई दिल्‍ली. भारतीय शेयर बाजार (Stock Market) में आज मंगलवार को लगातार तीसरे सत्र में गिरावट के संकेत मिल रहे हैं. ग्‍लोबल मार्केट के निगेटिव सेंटिमेंट की वजह से पिछले सत्र में सेंसेक्‍स-निफ्टी को बड़ा नुकसान झेलना पड़ा और आज भी ग्‍लोबल मार्केट ऐसा ही संकेत दे रहा है.

सेंसेक्‍स पिछले सत्र में 872 अंक टूटकर 58,774 अंक पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 268 अंकों के नुकसान के साथ 17,491 पर पहुंच गया. दोनों ही एक्‍सचेंज पर बीते सत्र में 1.5 फीसदी की गिरावट दिखी थी. एक्‍सपर्ट का अनुमान है कि आज भी निवेशक मुनाफावसूली की तरफ भागेंगे, क्‍योंकि अमेरिका-यूरोप सहित एशिया के भी तमाम बाजारों में आज गिरावट दिख रही और इसका असर घरेलू निवेशकों के सेंटिमेंट पर दिखेगा.

ये भी पढ़ें – PIB Fact Check: 12 घंटे में हुई वापसी तो नहीं देना होगा टोल टैक्स! जानिए वायरल मैसेज की सच्चाई

अमेरिकी बाजार में बड़ी गिरावट
अमेरिका में फेड रिजर्व की ओर से महंगाई को थामने के लिए आक्रामक रुख अपनाने और ब्‍याज दरें बढ़ाने के स्‍पष्‍ट संकेतों के बाद निवेशकों ने ताबड़तोड़ बिकवाली शुरू कर दी है. अमेरिका के प्रमुख शेयर बाजारों में शामिल S&P 500 पर पिछले सत्र में 2.14% की बड़ी गिरावट दिखी, जबकि Nasdaq भी 2.55% टूटा गया और Dow Jones पर 1.91% का बड़ा नुकसान दिखा.

यूरोपीय बाजार भी धराशायी
अमेरिका की तर्ज पर यूरोप के बाजारों में भी बड़ी गिरावट दिख रही है. रूस की ओर से यूरोप के नजदीक एक न्‍यूक्लियर प्‍लांट के पास बमबारी किए जाने से आर्थिक और राजनीतिक संकट और गहराता दिख रहा है. इसका असर यूरोप के बाजारों पर भी दिखा और जर्मनी का स्‍टॉक एक्‍सचेंज पिछले कारोबारी सत्र में 2.32 फीसदी की बड़ी गिरावट पर बंद हुआ. फ्रांस का शेयर बाजार भी 1.80 फीसदी के नुकसान पर पहुंच गया, जबकि लंदन स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर पिछले सत्र में 0.22 फीसदी की गिरावट रही.

एशियाई बाजार भी धड़ाम
एशिया के ज्‍यादातर शेयर बाजार आज सुबह नुकसान पर खुले और लाल निशान पर ही कारोबार कर रहे हैं. सिंगापुर स्‍टॉक एक्‍सचेंज पर 0.43 फीसदी की गिरावट दिख रही, जबक‍ि जापान का निक्‍केई 1.27 फीसदी के नुकसान पर कारोबार कर रहा है. हांगकांग का शेयर बाजार 0.26 फीसदी तो ताइवान का स्‍टॉक एक्‍सचेंज 0.80 फीसदी के नुकसान पर टिका हुआ है. दक्षिण कोरिया का कॉस्‍पी आज 0.85 फीसदी की गिरावट के साथ ट्रेडिंग कर रहा, जबकि चीन के शंघाई कंपोजिट पर 0.13 फीसदी का नुकसान दिख रहा है.

विदेशी निवेशकों ने की बिकवाली
विदेशी निवेशकों ने इस महीने दूसरी बार भारतीय शेयर बाजार में बिकवाली की है. विदेशी संस्‍थाग‍त निवेशकों ने बीते सत्र में बाजार से 453.77 करोड़ रुपये की पूंजी निकाली, जबकि इसी दौरान घरेलू संस्‍थागत निवेशकों ने भी 85.06 करोड़ रुपये के शेयर बेच डाले. यही कारण है कि बाजार को इस महीने की सबसे बड़ी गिरावट झेलनी पड़ी.

Tags: BSE Sensex, Business news in hindi, Nifty50, Share market

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें