होम /न्यूज /व्यवसाय /Stock Market Closing: बाजार को नहीं भाया RBI का फैसला, रेपो रेट का बोझ बढ़ा तो गिरकर बंद हुए सेंसेक्‍स-निफ्टी

Stock Market Closing: बाजार को नहीं भाया RBI का फैसला, रेपो रेट का बोझ बढ़ा तो गिरकर बंद हुए सेंसेक्‍स-निफ्टी

लगातार चौथे सत्र में गिरावट के साथ बंद हुए बाजार. (फोटो- पीटीआई)

लगातार चौथे सत्र में गिरावट के साथ बंद हुए बाजार. (फोटो- पीटीआई)

Stock Market Closing: शेयर बाजार लगातार चौथे कारोबारी सत्र में गिरावट के साथ बंद हुआ है. आरबीआई की घोषणा के बाद कुछ समय ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

फ्लैट ओपनिंग के बाद गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर मार्केट.
बाजार को रास नहीं आया रेपो रेट में वृद्धि का फैसला.
लगातार चौथे कारोबारी सत्र में गिरकर बंद हुआ है बाजार.

नई दिल्ली. शेयर बाजार में गिरावट का सिलसिला आज भी जारी रहा. बेहद ही मामूली बढ़त के साथ खुला बाजार आज एक बार फिर लाल निशान पर बंद हुआ. आरबीआई की रेपो रेट में वृद्धि की घोषणा के कुछ देर के लिए बाजार में रौनक लौटी था लेकिन ये ज्यादा देर नहीं रह सकी. सेंसेक्स आज 215.68 अंक (0.34 फीसदी) अंक टूटकर 62410.68 पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी ने 82.25 अंक (0.44 फीसदी) गंवाए और 18560.50 के स्तर पर कारोबार बंद किया.

आज सुबह कारोबार की शुरुआत सेंसेक्स ने 9.56 अंक (0.02 फीसदी) की बेहद मामूली बढ़त के साथ 62635 के स्तर पर की थी. वहीं, निफ्टी ने 1.40 अंक (0.01 फीसदी) उठकर 18644.20 पर ट्रेड शुरू किया था. आरबीआई द्वारा रेपो रेट में 35 बेसिस पॉइंट की घोषणा के बाद बाजार में कुछ देर के लिए तेजी आई थी और सेसेंक्स ने इस दौरान 62759 का स्तर छू लिया था. निफ्टी भी इस दौरान 18668 के स्तर तक पहुंचा था.

ये भी पढ़ें- महंगा हो गया कर्ज! रिजर्व बैंक ने 0.35 फीसदी बढ़ाया रेपो रेट

किन शेयरों ने मारी बाजी
हिन्दुस्तान यूनिलीवर (1.98%), बीपीसीएल (1.96%), एशियन पेंट्स (1.91%), एलएंडटी (1.50%) और एक्सिस बैंक (0.92%) सर्वाधिक मुनाफे वाले शेयरों में शामिल रहे. वहीं, दूसरी ओर एसबीआई लाइफ (-2.03%), एनटीपीसी (-2.00%), बजाज फिनसर्व (-1.79%), टाटा मोटर्स (1.69%) और बजाज आटो (-1.62%) के शेयरों ने निवेशकों का सबसे अधिक पैसा डुबाया. अलग-अलग सेक्टर के इंडेक्स की बात करें तो निफ्टी पर एफएमसीजी (0.96%) को छोड़कर और कोई इंडेक्स हरे निशान पर बंद नहीं हुआ. सबसे अधिक गिरावट मीडिया (-1.45%) रियल्टी (-1.19%) और कंज्यूमर ड्यूरेबल (-1.06%) में देखने को मिली. इसके अलावा ऑटो, आईटी, मेटल और फार्मा में भी गिरावट 0.50 फीसदी से ऊपर रही.

बाजार में अहम मोड़
शेयरखान के टेक्निकल रिसर्च हेड गौरव रत्नपारखी ने कहा है कि निफ्टी का 18600 से नीचे जाना बड़ा घटनाक्रम है. उन्होंने कहा कि अब 18500 का स्तर तय करेगा कि निफ्टी की आगे की चाल कैसी होगी. अगर ये स्तर पार होता है तो निफ्टी छोटी अवधि के लिए मंदड़ियों के घेरे में आ जाएगा, लेकिन उससे पहले तेजड़ियों के पास इसे ऊपर खींचने का मौका होगा.

आरबीआई ने जीडीपी वृद्धि का अनुमान घटाया
आरबीआई ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए जीडीपी विकास दर का अनुमान घटाते हुए इसे 7 फीसदी से 6.8 फीसदी कर दिया है. विश्लेषक इसे आरबीआई की ओर से समझदारी वाले कदम की तरह देख रहे हैं. आरबीआई ने महंगाई दर के अनुमान से कोई छेड़छाड़ न करते हुए उसे 6.7 फीसदी ही रखा है.

Tags: BSE Sensex, Business news in hindi, Nifty50, Stock market

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें