इस वजह से सेंसेक्स 793 और निफ्टी 228 अंक बढ़कर बंद, निवेशकों को हुआ 2.43 लाख करोड़ का मुनाफा

News18Hindi
Updated: August 26, 2019, 4:00 PM IST
इस वजह से सेंसेक्स 793 और निफ्टी 228 अंक बढ़कर बंद, निवेशकों को हुआ 2.43 लाख करोड़ का मुनाफा
इस वजह से सेंसेक्स 793 और निफ्टी 228 अंक बढ़कर बंद, निवेशकों को हुआ 2.43 लाख करोड़ का मुनाफा

BSE का 30 शेयरों वाला प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स 793 अंक बढ़कर 37,494 पर बंद हुआ है. आपको बता दें कि इस तेजी में निवेशकों को कुछ ही घंटों के दौरान 2.43 लाख करोड़ रुपये का फायदा हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2019, 4:00 PM IST
  • Share this:
हफ्ते के पहले कारोबारी दिन घरेलू शेयर बाजार (Share Bazaar Live) सेंसेक्स (Sensex) और निफ्टी (Nifty) दिन में बड़ा उछाल देखने को मिला है. अमेरिका और चीन के बीच 'ट्रेड वॉर' थामने को लेकर शुरू हुई बातचीत का असर बाजार पर पड़ा है. साथ ही, बैंकों को 70 हजार करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) की ओर से अर्थव्यवस्था को राहत देने के लिए उठाए कदमों का असर शेयर बाजार पर दिखा. इसीलिए BSE का 30 शेयरों वाला प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स 793 अंक बढ़कर 37,494 पर बंद हुआ है. वहीं, NSE का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 228 अंक बढ़कर 11,057 पर बंद हुआ. आपको बता दें कि इस तेजी में निवेशकों को कुछ ही घंटों के दौरान 2.43 लाख करोड़ रुपये का फायदा हुआ है.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि शेयर बाजार में इस हफ्ते एक्सपायरी होने वाली है. निवेशक अपने सौदे काटकर (Short Covering) आगे खरीदारी कर रहे है. हालांकि, सरकार की ओर से उठाए कदमों का असर भी बाजार पर है. छोटी अवधि में सेंसेक्स-निफ्टी तेजी दिखाते रहेंगे. ऐसे में निवेशकों को अच्छे फंडामेंटल वाले शेयरों पर दांव लगाना चाहिए.

ये भी पढ़ें-बिना मिट्टी छत पर उगाएं फल-सब्जी, सालाना लाखों में कमाएं

क्यों आई तेजी- एक्सपर्ट्स बताते हैं कि एक्सपायरी हफ्ते के चलते ट्रेडर्स शॉर्ट कवरिंग कर रहे हैं. साथ ही, आरबीआई की बैठक में आज सरकार को सरप्लस कैश रिजर्व से बड़ी राशि मिल सकती है, जिसका इस्तेमाल कर्ज़ में डूबी NBFC कंपनियों के लिए किया जा सकता है. इसीलिए शेयर बाजार में निचले स्तर से जोरदार रिकवरी आई है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से अर्थव्यवस्था को राहत देने के लिए उठाए कदमों का असर शेयर बाजार पर दिखा


मार्केट एक्सपर्ट उद्यन मुखर्जी ने CNBC आवाज़ पर दिए इंटरव्यू में बताया कि वित्त मंत्री ने शुक्रवार को जो ऐलान किए वो सारे अच्छे और जरूरी कदम हैं, लेकिन इससे इकोनॉमी पर बहुत बड़ा असर नहीं पड़ने वाला है. इस स्थिति में आपको चौकन्ना रहने की जरूरत है. वित्त मंत्री ने आगे और कदम उठाने का आश्वासन भी दिया है. इससे बाजार और इकोनॉमी में कोई बुनियादी बदलाव तो नहीं होगा लेकिन सेंटीमेंट में बदलाव होगा.

अब क्या करें निवेशक- उद्यन मुखर्जी का कहना है कि शेयर बाजार ट्रेडर्स को हर तेजी पर मुनाफावसूली करनी चाहिए. ऐसे में बहुत एग्रेसिव होकर ट्रेडिंग न करें. निफ्टी को नीचे के स्तर पर 10750-10800 पर सपोर्ट मिल सकता है. वहीं, ऊपर की तरफ 11100-11200 पर निफ्टी के लिए महत्वपूर्ण रजिस्टेंस है. इसका मतलब साफ है कि निफ्टी 10750 से 11200 के दायरे में काम करता नजर आएगा.
Loading...



एसकोर्ट सिक्योरिटी के रिसर्च हेड आसिफ इकबाल ने न्यूज18 हिंदी को बताया है कि छोटे निवेशकों को अच्छे फंडामेंट वाले शेयरों में पैसा लगाना चाहिए. हर गिरावट पर खरीदारी करनी चाहिए. वहीं, म्युचूअल फंड्स में अपना निवेश बढ़ा देना चाहिए.

ये भी पढ़ें-रोजाना सिर्फ 50 रुपये बचाकर पा सकते हैं 10 लाख, ये है तरीका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 3:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...