5 हफ्ते की ऊंचाई पर शेयर बाजार: सेंसेक्स 600 और निफ्टी 159 अंक बढ़कर बंद, हुई 1.22 लाख करोड़ रुपये की कमाई

Sensex Surge 600 Points: कारोबार के अंत में सेंसेक्स में करीब 601 अंकों की तेजी रही है और यह 39,574.57 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी में करीब 159 अंकों की तेजी रही है और यह 11662 के स्तर पर बंद हुआ.
Sensex Surge 600 Points: कारोबार के अंत में सेंसेक्स में करीब 601 अंकों की तेजी रही है और यह 39,574.57 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी में करीब 159 अंकों की तेजी रही है और यह 11662 के स्तर पर बंद हुआ.

Sensex Surge 600 Points: कारोबार के अंत में सेंसेक्स में करीब 601 अंकों की तेजी रही है और यह 39,574.57 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी में करीब 159 अंकों की तेजी रही है और यह 11662 के स्तर पर बंद हुआ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 4:54 PM IST
  • Share this:
मुंबई.  कोरोना संक्रमण (Coronavirus Pandemic) का इलाज करा रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) अस्पताल से वापस व्हाइट हाउस पहुंच गए है. इस खबर के दुनियाभर के शेयर बाजारों में तेजी आई है. कारोबार के अंत में सेंसेक्स में करीब 601 अंकों की तेजी रही है और यह 39,574.57 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी में करीब 159 अंकों की तेजी रही है और यह 11662 के स्तर पर बंद हुआ. आज के कारोबार में बैंक, फाइनेंशियल, आटो और रियल्टी शेयरों में अच्छी तेजी रही है. ग्लोबल बाजारों की बात करें तो प्रमुख एशियाई बाजारों में भी तेजी रही है.

एक्सपर्ट्स का कहना है कि डोनाल्ड ट्रंप का ठीक होना बेहतर संकेत है. इस तेजी में निवेशकों को 1.22 लाख करोड़ रुपये का फायदा हुआ है. सेंसेक्स 30 के 24 शेयरों में तेजी देखने को मिली है. आज के कारोबार में HDFC में 8 फीसदी और इंडसइंड बैंक में 3.5 फीसदी तेजी है. इसके अलावा महिंद्रा एंड महिंद्रा, एशियन पेंट्स, बजाज फाइनेंस और HDFC टॉप गेनर्स में हैं.





एफएमसीजी, फार्मा और मेटल लाल निशान में बंद हुए. बैंक और फाइनेंशियल इंडेक्स में 2.5 फीसदी और 3 फीसदी के करीब तेजी रही है. रियल्टी में 2 फीसदी से ज्यादा तो आटो में भी 1.3 फीसदी तेजी रही. आईटी इंडेक्स भी हरे निशान में बंद हुआ.
अब क्या करें निवेशक- दुनिया की बड़ी ब्रोकरेजा हाउस कंपनी मॉर्गन स्टेनली की ताजा रिपोर्ट में बताया कि लोन कारोबार में अनुमान से ज्यादा बेहतर ग्रोथ नजर आ रही है. वित्त वर्ष 2022 में ROE 15 प्रतिशत पहुंचने का अनुमान है. इसके अलावा फेस्टिव मांग में तेजी रहने का अनुमान भी है. सरकार द्वारा स्टॉम्प ड्यूटी में कमी किये जाने से भी मांग में तेजी नजर आयेगी.

क्रेडिट सुइस ने स्टील सेक्टर पर कहा है कि स्टील कंपनियों ने HRC के दाम 20 डॉलर प्रति टन तक बढ़ाए हैं. हालांकि चीन के मुकाबले भारतीय स्टील के दाम अभी भी कम हैं. उनको सेक्टर में JSPL और Tata Steel पसंद हैं.

CLSA ने MARICO पर अंडरपरफॉर्म रेटिंग दी है और लक्ष्य को 350 रुपये तय किया है. उनका कहना है कि कारोबार प्री-कोविड स्तरों पर लौटने के संकेत दिखाई दे रहे हैं. भारतीय कारोबार में सिंगल डिजिट ग्रोथ का अनुमान है. इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय कारोबार में 5 प्रतिशत की CC ग्रोथ संभव हैं और लागत में कमी से मार्जिन में सुधार का अनुमान जताया है.

CLSA ने Sobha पर अंडरपरफॉर्म रेटिंग बनाये रखी है और लक्ष्य को 252 रुपये से बढ़ाकर 270 रुपये तय किया है. उनके अनुसार प्री-सेल्स में अनुमान से तेज़ रिकवरी नजर आ रही है. इस समय बैंगलोर में इंडस्ट्री बिक्री प्री-कोविड स्तरों से 50 प्रतिशत नीचे कारोबार कर रही है. वहीं डिविडेंड भुगतान के चलते कर्ज़ में मामूली बढ़त दिखाई दे रही है और वित्त वर्ष 2021-23 के लिए बिक्री का अनुमान बढ़ाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज