Home /News /business /

stock market zomato share price tanks 14 in 2 days what is driving the selloff rrmb

जोमैटो के शेयर आज फिर धड़ाम हुए, दो दिन में 17 फीसदी नीचे आया स्टॉक, क्‍यों निवेशक बने हैं बिकवाल?

पिछले छह महीनों में जौमेटो शेयर 56 फीसदी गिर चुका है.

पिछले छह महीनों में जौमेटो शेयर 56 फीसदी गिर चुका है.

क्विक कॉमर्स बिजनेस को बढ़ाने के लिए जोमैटो (Zomato) ने ब्लिंकिट (Blinkit) का 4,447.48 करोड़ रुपये में अधिग्रहण किया है. लेकिन, निवेशकों को यह डील अब तक रास नहीं आई है. यही कारण है कि पिछले दो दिनों से जोमैटो शेयरों में भारी बिकवाली हुई है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्‍ली. फूड डिलीवरी फर्म जोमैटो के शेयरों (Zomato) में मंगलवार को लगातार दूसरे दिन भी भारी गिरावट आई. बीएसई  (BSE) पर आज भी जोमैटो स्‍टॉक 8.05 फीसदी की गिरावट के साथ 60.55 रुपये पर बंद हुआ है. कल इस स्‍टॉक ने 8.80 फीसदी का गोता लगाया था. इस तरह दो दिन में यह शेयर 17 फीसदी के करीब गिर चुका है. बाजार जानकार जोमैटो शेयरों में दिन से हो रही भारी बिकवाली के लिए जोमैटो द्वारा ब्लिंकिट (Blinkit)   के अधिग्रहण को मान रहे हैं.

ब्लिंकिट (Blinkit)  के अधिग्रहण की डील 4,447.48 करोड़ रुपये में हुई है. क्विक कॉमर्स बिजनेस को बढ़ाने के लिए जोमैटो ने यह कदम उठाया है. बता दें कि ब्लिंकिट को पहले ग्रोफर्स (Grofers) के नाम से जाना जाता और Blinkit में पहले से ही Zomato की 8-9% हिस्सेदारी थी. बाजार जानकारों का कहना है कि निवेशकों को यह डील काफी महंगी लग रही है. अत्‍यंत प्रतिस्‍पर्धी बाजार में कंपनी की प्रॉफिबिलिटी को लेकर निवेशक शंकित है और अभी भविष्‍य में जोमैटो के इस कदम का परिणाम देखने के लिए इंतजार करने के मूड में हैं.

ये भी पढ़ें-  क्रेडिट कार्ड आपके पास है तो ये गलतियां न करें, वरना फंस जाएंगे आर्थिक संकट में और देना पड़ेगा भारी ब्याज

महंगी डील से निवेशक डरे
लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार एवेनर कैपिटल के फाउंडर और सीईओ शिवम बजाज का कहना है इस सेक्‍टर में Zepto, Dunzo, Swiggy Instamart, BigBasket, आदि से कड़ी प्रतिस्पर्धा है और यह देखना दिलचस्प होगा कि जोमैटो का यह महंगा निवेश भविष्य में कैसे फलता-फूलता है.

ब्रोकरेज फर्म एडलवाइज ने अपने नोट में लिखा है कि ब्लिंकिंट जिस सेक्‍टर में काम करता है वहां प्रतिस्‍पर्धा बहुत ज्‍यादा है. ग्रोसरी में स्विगी काफी सफल है, जो इसके लिए एक अच्‍छी बात है. परंतु ब्लिंकिट की मदद से जोमैटो डिलीवरी कॉस्‍ट को कितना कम कर पाता है, यह देखना दिलचस्‍प होगा. ब्लिंकिट का वित्‍त वर्ष 2022 में रेवेन्‍यू सीएजीआर 20 फीसदी ही रहा है.

ये भी पढ़ें-  डीमैट अकाउंट आपका डीएक्टिवेट हो जाएगा, सिर्फ 3 दिन का मौका, फटाफट कर लें ये जरूरी काम

गिरावट जारी है 
जोमैटो का शेयर पिछले छह महीनों में ही 56 फीसदी के करीब गिर चुके हैं. वहीं वर्ष 2022 में इस शेयर में अब तक 57 फीसदी की गिरावट आ चुकी है. शेयर का 52वीक हाई 169 रुपये है और इसका 52 वीक लो 50.05 रुपये है. शुक्रवार को ब्लिंकिट के अधिग्रहण की खबर आने से पहले जोमैटो के शेयर में पिछले सप्‍ताह कुछ रंगत आई थी. लेकिन, इस सप्‍ताह के दोनों ही दिन शेयर औंधे मुंह गिरे हैं.

Tags: Share market, Stock market

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर