घर खरीदारों के लिए सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला! अब प्रॉपर्टी की नीलामी में मिलेगा हिस्सा

घर खरीदारों (Home Buyers) को बड़ी राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने दिवालिया एवं ऋण शोधन अक्षमता संशोधन कानून को बरकरार रखा है. इसका मतलब साफ है कि अब अगर कोई रियल एस्टेट कंपनी डूबती है या दिवालिया घोषित होती है, तो उसकी संपत्ति (Property) की नीलामी (Auction) में घर खरीदारों का भी हिस्सा होगा

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 11:18 AM IST
घर खरीदारों के लिए सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला! अब प्रॉपर्टी की नीलामी में मिलेगा हिस्सा
घर खरीदारों के हितों में सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला! अब प्रॉपर्टी की नीलामी में मिलेगा हिस्सा
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 11:18 AM IST
घर खरीदारों (Home Buyers) को बड़ी राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने दिवालिया एवं ऋण शोधन अक्षमता संशोधन कानून को बरकरार रखा है. इसका मतलब साफ है कि अब अगर कोई रियल एस्टेट कंपनी डूबती है या दिवालिया घोषित होती है, तो उसकी संपत्ति की नीलामी (Auction) में घर खरीदारों का भी हिस्सा होगा. आपको बता दें कि संसद में कानून पास होने के बाद कुछ रियल स्टेट (Real Estate) कंपनियों ने इस संशोधन को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. इसके बाद अब सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला दिया है

अब मिलेगी घर खरीदारों को बड़ी राहत- रियल्टी कंपनियों के डूबने की स्थिति में अब तक संपत्ति की नीलामी में बैंक का ही हिस्सा होने का प्रावधान था. लेकिन अब नीलामी में होम बायर्स का भी हिस्सा होगा.

>> ग्रेटर नोएडा समेत कई बड़े शहरों में रियल एस्टेट निर्माण कंपनियों के डूबने पर घर खरीदने वाले हजारों लोगों का पैसा फंसा है.

होम बॉयर्स को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत (फाइल फोटो)


ये भी पढ़ें-खुशखबरी! गाजियाबाद में लगातार तीसरे साल नहीं बढ़ा सर्कल रेट

>> ऐसे में सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला उनके लिए बड़ी राहत का सबब लेकर आया है. इस दायरे में वे तमाम लोग आएंगे, जिन्होंने रियल्टी कंपनी को पैसा चुकाया है.

>> घर खरीदारों के लिए दिवालिया कानून यानी इंसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड में बदलाव के लिए प्रस्ताव को संसद में स्वीकृति मिल चुकी है.
Loading...

>> अब किसी भी डेवेल्पर के डिफॉल्ट करने पर घर खरीदार को उसकी रकम मिल सकेगी. इससे रिफंड की प्रक्रिया भी तेज होगी, जो पहले लंबे समय तक फंसी रहती थी और घर खरीदार डेवलपर और कोर्ट के चक्कर काटते रह जाते थे.

अब किसी भी डेवेल्पर के डिफॉल्ट करने पर घर खरीदार को उसकी रकम मिल सकेगी (फाइल फोटो)


>> दिवालिया होने पर बिल्डर या बिल्डर कंपनी की संपत्ति बेचने पर जितना धन मिलेगा, उसमें कितना फीसदी घर खरीददारों को दिया जाए, इस बात का फैसला कई पैमानों पर तय किया जा सकता है.

>> सबसे पहले यह देखा जाए कि बिल्डर पर कितना पैसा बकाया है. साथ ही कितने घर खरीददारों को पजेशन नहीं मिला है और उनकी कितनी देनदारी है.

>> साथ ही बिल्डर पर कितना कर्ज बकाया है. इसके बाद संपत्ति बेचने के बाद उससे प्राप्त धन में कितनी हिस्सा घर खरीददारों को दिया जा सकता है. इसके लिए बैंकों और अन्य एक्सपर्ट से बात कर अंतिम फैसला लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-अब इन शहरों में खरीद सकते हैं मोदी सरकार का सस्ता AC

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 9, 2019, 11:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...