Home /News /business /

क्रेडिट कार्ड से लेना है लोन? तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान, वरना होगा नुकसान

क्रेडिट कार्ड से लेना है लोन? तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान, वरना होगा नुकसान

क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट में आपको तीन तरह की लिमिट मिलेंगी कुल क्रेडिट लिमिट, उपलब्ध क्रेडिट लिमिट और कैश लिमिट.

क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट में आपको तीन तरह की लिमिट मिलेंगी कुल क्रेडिट लिमिट, उपलब्ध क्रेडिट लिमिट और कैश लिमिट.

क्रेडिट कार्ड आपको बैंक की तरफ से दी जाने वाली एक सुविधा है, जो पहले पैसे खर्च करने और बाद में उसे चुकाने की सहूलियत देता है. आजकल क्रेडिट कार्ड का खूब इस्तेमाल हो रहा है.

    नई दिल्ली. क्रेडिट कार्ड आपको बैंक की तरफ से दी जाने वाली एक सुविधा है, जो पहले पैसे खर्च करने और बाद में उसे चुकाने की सहूलियत देता है. आप क्रेडिट कार्ड से ऑनलाइन या ऑफलाइन पेमेंट कर सकते हैं. आजकल क्रेडिट कार्ड का खूब इस्तेमाल हो रहा है. ज्यादातर लोग इसका यूज करने लगे हैं. यह समय पर पैसों की जरूरतों को पूरा करता है.

    बता दें कि बैंक क्रेडिट कार्ड पर लोन की सुविधा भी देते हैं। ये लोन पर्सनल लोन की तरह ही होता है। अलग-अलग बैंक अपने कस्टमर को क्रेडिट कार्ड पर लोन उपलब्ध करवाते हैं. आमतौर पर, क्रेडिट कार्ड पर सालाना ब्याज दर 35 प्रतिशत से 40 प्रतिशत के बीच होती है. इसलिए, अगर आपने पहले से ही क्रेडिट कार्ड पर लोन ले रखा है या फिर लोन लेने की सोच रहे हैं. तो आपको ब्याज दर से लेकर लेट फीस जैसी बातों पर जरूर ध्यान देना चाहिए.

    यह भी पढ़ें- यहां मिल रहा है सबसे सस्ता पर्सनल लोन, जानिए कितना देना होगा ब्याज?

     समय पर भुगतान नहीं करते हैं तो क्या होगा?
    अगर आप समय से लोन का भुगतान नहीं कर पाते हैं तो टॉप-अप लोन प्राप्त करने की आपकी संभावना कम हो जाएगी. समय पर पेमेंट नहीं करने से आपका सिविल स्कोर खराब हो सकता है.

    भुगतान में डिफ़ॉल्ट होने पर क्या होगा?
    अगर आप समय रहते क्रेडिट कार्ड पर लिए गए लोन की किस्त नहीं भरते हैं तो यह डिफाॅल्ट माना जाएगा. समय पर EMI न भरने पर कार्ड होल्डर के क्रेडिट स्कोर पर ज्यादा बुरा असर होता है. इसलिए समय से लोन की किस्त जरूर चुकाएं.

    प्रोसेसिंग चार्ज का जरूर ध्यान रखें
    जब क्रेडिट कार्ड के लिए लोन का चयन किया जाता है, तो लोन राशि पर प्रोसेसिंग शुल्क लगाया जाता है. आमतौर पर क्रेडिट कार्ड लोन के लिए प्रोसेसिंग फीस 1-5% होती है. लोन की अवधि कितनी होगी यह कार्ड होल्डर चूज कर सकता है. ये अधिकतम 24 महीने की होती है. इसमें प्री-क्लोजर की भी सुविधा होती है. प्री-क्लोजर चार्ज आपको चुकाना होगा.

    यह भी पढ़ें- LIC की इस खास पॉलिसी में लगाएं 1300 रुपए, मिलेगे पूरे 63 लाख, आप भी जान लें कैसे

    रिकॉर्ड अच्छा होना चाहिए
    क्रेडिट कार्ड धारकों को इमरजेंसी पड़ने पर प्री-अप्रूव्ड लोन भी आसानी से मिल जाता है. लेकिन इसके लिए आपका रिकॉर्ड अच्छा होना चाहिए और यह तब होता है जब आप पुराने बिल समय पर चुकाते रहे हैं. प्री-अप्रूव्ड लोन में किसी प्रकार का कोई डॉक्यूमेंटेशन नहीं होता है, यही वजह है कि यह जल्द से जल्द प्रॉसेस हो जाता है. कुछ घंटों में लोन मिल जाता है.

    Tags: Business news in hindi, Credit card, Interest rate of banks, Loan default

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर