टाटा ने लॉन्च किया कोविड-19 टेस्ट किट, 90 मिनट में ही मिल जाएगी जांच रिपोर्ट

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

टाटा मेडिकल एंड डायग्नोस्टिक्स ने कोविड-19 टेस्ट किट्स (COVID-19 Test Kits) लॉन्च कर दिया है. दिसंबर महीने से इसे देशभर के लैबोरेटरीज में उपलब्ध करा दिया है जाएगा. इस किट को चेन्नई स्थिति टाटा प्लांट में तैयार किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2020, 1:34 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टाटा ग्रुप (Tata Group) की हेल्थेकयर यूनिट टाटा मेडिकल एंड डायग्नोस्टिक्स (Tata Medical and Diagnostics) अब कोविड-19 टेस्ट किट (COVID-19 Test Kit) भी बनाएगी. कंपनी ने सोमवार को ही इसे लॉन्च कर दिया है. टाटा के ये कोविड-19 टेस्ट किट्स दिसंबर महीने से देशभर के लैबोरेटरीज में उपलब्ध भी करा ​दिए जाएंगे. सीईओ गिरिश कृष्णमूर्ति (Girish Krishnamurthy) ने न्यूज एजेंसी रॉयटर्स को इस बारे में जानकारी दी है.

हर महीने तैयार होंगे 10 लाख टेस्ट किट्स
सरकार से मंजूरी प्राप्त कर चुकी यह टेस्ट किट जांच के 90 मिनट के अंदर नतीजे दे देगी. इन ​कोविड-19 टेस्ट किट्स को चेन्नई स्थित टाटा प्लांट (Tata Plant, Chennai) में तैयार किया जाएगा.कृ​ष्णमूर्ति ने बताया कि इस प्लांट में हर महीने 10 लाख टेस्ट किट्स तैयार करने की क्षमता है.

यह भी पढ़ें: दिवाली से पहले शेयर बाजार में रिकॉर्डतोड़ तेजी, सेंसेक्स 600 अंक उछला, निवेशकों ने कमाएं 2 लाख करोड़
85.5 लाख पहुंचा कोविड-19 संक्रमितों का आंकड़ा


टाटा ग्रुप की तरफ से यह टेस्ट किट एक ऐसे समय पर लॉन्च हुआ है, जब देश में कोरोना वायरस के कुल मामले 45,903 बढ़कर अब कुल 85.5 लाख पर पहुंच गये हैं. कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या भी अब 1,26,611 पर पहुंच गई है. सरकार द्वारा जारी आधिकारिक आंकडों से इस बारे में जानकारी मिलती है.

फेलुदा टेस्ट से 2 घंटे में नतीजे
बता दें कि सितंबर महीने में ही स्‍वदेशी कोविड 19 टेस्‍ट को विकसित किया गया है. इसका नाम 'फेलुदा' रखा गया है. इसके जरिये सटीक, किफायती तरीके से जल्‍द कोरोना वायरस संक्रमण का पता लगाया जा सकता है. इस टेस्‍ट से कोरोना वायरस संक्रमण की पहचान वाली रिपोर्ट दो घंटे में आती है.



यह भी पढ़ें: भारत समेत दुनियाभर की टेक कंपनियों के लिए वरदान बनेगी बाइडन-कमला हैरिस की जोड़ी, जानिए कैसे

ड्रग्‍स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने टाटा CRISPR (क्लस्टर्ड रेगुलरली इंटरस्पेस्ड शॉर्ट पालिंड्रोमिक रिपीट्स) कोविड-19 जांच 'फेलुदा' के व्यावसायिक लॉन्च को मंजूरी दे दी है. CRISPR ने एक बयान में कहा, 'इस जांच में कोरोना वायरस के जीनोम अनुक्रम का पता लगाने के लिए एक स्वदेशी रूप से विकसित, अत्याधुनिक CRISPR तकनीक का उपयोग किया गया है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज