• Home
  • »
  • News
  • »
  • business
  • »
  • Tata Motors की जून 2021 तिमाही में आय हुई दोगुनी, घाटा भी हुआ कम, चेक करें डिटेल्‍स

Tata Motors की जून 2021 तिमाही में आय हुई दोगुनी, घाटा भी हुआ कम, चेक करें डिटेल्‍स

 Tata Motors के घाटे में जून 2021 तिमाही के दौरान कमी दर्ज की गई है.

Tata Motors के घाटे में जून 2021 तिमाही के दौरान कमी दर्ज की गई है.

जगुआर लैंड रोवर (JLR) सेगमेंट का शुद्ध घाटा 11 करोड़ पाउंड पर रहा था, जो अनुमान से ज्‍यादा है. जून 2021 तिमाही के दौरान टाटा मोटर्स (Tata Motors) की कंसोलिडेटेड इनकम सालाना आधार पर 66,406.45 करोड़ रुपये पर आ गई है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. देश की दिग्गज ऑटो कंपनी टाटा मोटर्स (Tata Motors) की एकीकृत आय (Consolidated Income) जून 2021 तिमाही के दौरान सालाना आधार पर करीब दोगुनी बढ़ोतरी के साथ 66,406.45 करोड़ रुपये पर आ गई है. वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही के दौरान कंपनी की कंसोलिडेटेड इनकम 31,983.06 करोड़ रुपये रही थी. CNBC-TV18 के पोल में अनुमान लगाया गया था कि जून 2021 तिामही में कंपनी की आय 65,451 करोड़ रुपये पर रह सकती है. पहली तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटड EBITDA margin 8.3 फीसदी पर रहा है, जबकि CNBC-TV18 के पोल में इसके 9.8 फीसदी रहने का अनुमान जताया गया था.

    जेएलआर का घाटा अनुमान से ज्‍यादा
    वित्त वर्ष 2021-22 के पहली तिमाही के दौरान टाटा मोटर्स का घाटा कम होकर (Loss Decreased) 4,450.92 करोड़ रुपये पर आ गया है, जो जून 2020 तिमाही में 8,437.99 करोड़ रुपये रहा था. इस अवधि में कंपनी के घाटे का आंकड़ा अनुमान से कहीं ज्यादा रहा है. CNBC-TV18 के पोल में अनुमान लगाया गया था कि पहली तिमाही में कंपनी का घाटा 1,379 करोड़ रुपये रह सकता है. पहली तिमाही में कंपनी के जगुआर लैंड रोवर (JLR) सेगमेंट का शुद्ध घाटा (Net Loss) 11 करोड़ पाउंड रहा था. CNBC-TV18 के पोल में इसके 5.6 करोड़ पाउंड रहने का अनुमान जताया गया था. सेगमेंट का एबिटडा मार्जिन समीक्षाधीन अवधि में 9 फीसदी रहा है. CNBC-TV18 के पोल में इसके 10.3 फीसदी पर रहने का अनुमान लगाया गया था.

    ये भी पढ़ें- FM निर्मला सीतारमण ने संसद में किया साफ, आर्थिक संकट से निपटने के लिए ज्‍यादा करेंसी नहीं छापेगा केंद्र

    घरेलू कारोबार में दिख रहा है सुधार
    टाटा मोटर्स के घरेलू कारोबार (Domestic Business) में पिछले साल की पहली तिमाही की तुलना में वित्त वर्ष 2021-22 के पहली तिमाही में सुधार देखने को मिला है. हालांकि, भारत में कोरोना की दूसरी लहर और आपूर्ति से जुड़ी दिक्कतों के कारण वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के ग्रोथ में वित्त वर्ष 2020-21 की चौथी तिमाही की तुलना में कमजोरी देखने को मिली है. कंपनी ने बताया कि पहली तिमाही में जेएलआर की रिटेल सेल (Retail Sale) सालाना आधार पर 68.1 फीसदी बढ़ोतरी के साथ 1,24,537 वाहन रही है. कंपनी की बिक्री में महामारी से निकलने के संकेत दिख रहे हैं. कंपनी ने यह भी कहा कि इस साल की दूसरी छमाही से कंपनी के कारोबार में सुधार दिखेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज