टाटा की इस कंपनी ने 1 अक्टूबर से बढ़ाया कर्मचारियों का वेतन, नई भर्तियां शुरू

टाटा समूह की आईटी कंपनी ने अपने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी का फैसला किया है.
टाटा समूह की आईटी कंपनी ने अपने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी का फैसला किया है.

टाटा ग्रुप (Tata Group) की आईटी कंपनी टाटा कंसल्‍टेंसी सर्विसेस (TCS) के कर्मचारियों ने वित्‍त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही में 1.02 करोड़ घंटे क्‍लासेस लीं. इस दौरान 3.52 लाख कर्मचारियों को नई तकनीक का प्रशिक्षण (Technical Training) दिया गया. वहीं, 4.27 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को एजाइल मेथड से ट्रेनिंग दी गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 8, 2020, 7:18 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना संकट के बीच जब ज्‍यादातर कंपनियां या तो कर्मचारियों की छंटनी (Layoffs) कर रही हैं या वेतन में कटौती (Pay Cut) कर रही हैं. ऐसे माहौल में देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्‍टेंसी सर्विसेस (TCS) कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी (Salary Hike) कर रही है. कंपनी ने फैसला किया है कि ये वेतन वृद्धि 1 अक्टूबर 2020 से लागू मानी जाएगी. टीसीएस के मुताबिक, कंपनी ऑर्गेनिक टैलेंट डेवलपमेंट में निवेश जारी रखेगी. इसका मकसद कर्मचारियों की क्षमता बढ़ाना है. टीसीएस के कर्मचारियों ने वित्‍त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही में 1.02 करोड़ घंटे क्‍लासेस (Classes) चलाईं, जो पहली तिमाही के मुकाबले 29 फीसदी ज्‍यादा हैं. बता दें कि 30 सितंबर 2020 तक कंपनी में 4,53,540 कर्मचारी थे.

3.5 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को दी टेक्निकल ट्रेनिंग
टीसीएस ने बताया कि 3.52 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को नई टेक्‍नोलॉजी की ट्रेनिंग (Technical Training) दी गई. वहीं, 4.27 लाख से ज्‍यादा कर्मचारियों को एजाइल मेथड से ट्रेनिंग दी गई. इसके अलावा आईटी सर्विसेज (It Services) का ऑर्टिजन रेट 8.9 फीसदी रहा, जो अब तक का सबसे कम है. टीसीएस में एचआर के ग्‍लोबल हेड मिलिंद लक्कड़ ने कहा कि कंपनी 1 अक्टूबर से कर्मचारियों को वेतन बढ़ोतरी का फायदा देगी. इसके अलावा दूसरी तिमाही से नए कर्मचारियों की भर्तियां भी शुरू (Recruitment Drive) कर दी हैं.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच इस सेक्टर में 1 लाख लोगों को मिलेगी नौकरी! देखें क्‍या आप भी हैं एलिजिबल
शेयरधारकों को 12 रुपये प्रति शेयर का अंतरिम लाभांश


वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही के नतीजों के साथ टीसीएस ने अपनी रेग्‍युलेटरी फाइलिंग (Regulatory Filling) में बताया है कि कंपनी बोर्ड ने 16,000 करोड़ रुपये के शेयर बायबैक प्लान (Share Buyback Plan) को मंजूरी दे दी है. कंपनी 3,000 रुपये प्रति इक्विटी शेयर के हिसाब से बायबैक करेगी. कंपनी के बोर्ड ने टीसीएस के 5,33,33,333 शेयरों को बायबैक करने के प्रस्ताव को मंजूर किया है. शेयर बायबैक के अलावा टीसीएस ने घोषणा की है कि वह अपने शेयरधारकों (Stakeholders) को 12 रुपये प्रति शेयर का अंतरिम लाभांश (Dividend) देगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज