ITR भरते समय फर्जी हाउस रेंट स्लिप लगाने वाले हो जाएं सावधान! वरना पड़ सकते है मुश्किल में

ITR भरते समय फर्जी हाउस रेंट स्लिप लगाने वाले हो जाएं सावधान! वरना पड़ सकते है मुश्किल में
अगर नेता संपत्ति का कुल डिटेल देकर अफसरों को संतुष्ट नहीं कर पाए, तो इनके खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है. (Demo pic)

अक्सर लोग इनकम टैक्स फाइल करते समय फर्जी हाउस रेंट की स्लिप लगा देते हैं. अगर आप भी ऐसा करते हैं तो ये आपको बहुत भारी पड़ सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 18, 2019, 10:31 AM IST
  • Share this:
इनकम टैक्स से बचने के लिए लोग तरह-तरह के तरीके निकाल लेते हैं. इसके लिए वह फर्जी कागज़ों का इस्तेमाल करने से भी नहीं चूकते. ऐसे में अक्सर लोग इनकम टैक्स फाइल करते समय फर्जी हाउस रेंट की स्लिप लगा देते हैं. अगर आप भी ऐसा करते हैं तो ये आपको बहुत भारी पड़ सकता है. अब फर्जी हाउस रेंट स्लिप लगाने वालों को इनकम टैक्स विभाग नोटिस भेज सकता है. विभाग की ओर से बताया गया है कि ऐसा करना पूरी तरह गलत है और इसे रोकने के लिए विभाग एक प्लान तैयार कर रहा है.

आयकर विभाग के मुताबिक देश भर में बड़ी संख्या में लोग टैक्स से बचने के लिए फर्जी हाउस रेंट स्लिप का इस्तेमाल करते हैं. इसी पर अब आयकर विभाग लगाम लगाने जा रहा है. आपको बता दें इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान को लगा 8 साल का सबसे बड़ा झटका!



नया आईटीआर फार्म ऐसे हुआ है डिजाईन
इनकम टैक्स के नए आईटीआर फार्म और संशोधित फार्म 16 को इस तरह से डिजाइन किया गया है, जिसमें गलत डॉक्यूमेंट लगाने वालों की कंप्यूटर आधारित प्रक्रिया से प्रक्रिया से पहचान की जाएगी. अगर किसी भी डाटा का मिलान सही नहीं पाया गया, तो आपको इनकम टैक्स विभाग का नोटिस मिल सकता है.



आयकर विभाग एक नई टेक्नीक पर काम कर रहा है. इसके कारण अब फर्जी स्लिप लगाने वालों की पहचान करना आसान हो जाएगा. आयकर विभाग के नए आईटीआर फॉर्म और नए फॉर्म-16 को ऐसे तैयार किया गया है जिसमें गलत और फर्जी डॉक्यूमेंट की पहचान आसानी से हो जाएगी.

ये भी पढ़ें: ट्रैफिक नियम तोड़ने पर अब देना पड़ेगा हजारों में जुर्माना

इसमें सारा डेटा कंप्यूटर रीड करेगा और गलत जानकारी होने पर उस शख्स को नोटिस भेजा जाएगा. इस नए फॉर्म-16 में इलेक्ट्रॉनिक मिलान करके फॉर्म में भरे गए आंकड़ों को मिलाया जाएगा. नए इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म में आयकर भरने वाले एक्सट्रा अलाउंस की डीटेल्स भर सकेंगे.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज