Home /News /business /

कोरोना से शुरू हुई बड़े बदलाव की कहानी! TCS के 4 लाख कर्मचारी कर रहे हैं Work From Home, बताया आगे का प्लान

कोरोना से शुरू हुई बड़े बदलाव की कहानी! TCS के 4 लाख कर्मचारी कर रहे हैं Work From Home, बताया आगे का प्लान

(2) टीसीएस (टाटा कंस्लटेंसी सर्विसेस)- मार्केट कैप-8 लाख करोड़ रुपये

(2) टीसीएस (टाटा कंस्लटेंसी सर्विसेस)- मार्केट कैप-8 लाख करोड़ रुपये

भारत की सबसे बड़ी IT कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विस (TCS-Tata Consultancy Services) के 90 फीसदी कर्मचारी वर्क फॉर्म होम कर रहे है. कंपनी का कहना है कि इस संकट ने कई नये मौकों के लिए दरवाजा खुला है.

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus Impact) के बाद दुनिया के बदलाव की कहानी शुरू हो चुकी है. भारत की सबसे बड़ी IT कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विस (TCS-Tata Consultancy Services) 2025 तक वर्क फ्रॉम होम (Work From Home) के प्लान पर काम कर रही है. कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 4 लाख से ज्यादा कर्मचारी वर्क फॉर्म होम कर रहे है. आपको बता दें कि कोविड-19 महामारी के बीच टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) ने पहली वर्चुअल एन्युअल जनरल बैठक (TCS AGM 2020) को पूरा कर लिया है. TCS का यह 25वां सालाना बैठक पूरी तरह से डिजिटल था, जिसमें टाटा संस और TCS के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन और TCS के CEO राजेश गोपीनाथ ने भी टीसीएस हाउस से भाग लिया.

    कोविड-19 से प्रभाव पड़ा लेकिन नये मौके भी मिले-अपने 25वें AGM में TCS ने निवेशकों को बताया कि कोविड-19 महामारी ने कुछ वर्टिकल्स में कंपनी की पॉजिटव मूवमेंट को प्रभावित किया है. लेकिन इस संकट ने कई नये मौकों का दरवाजा भी खोला है.

    टीसीएसी ने बताया कि कोविड-19 के दौर में न्यू ऑपरेटिंग मॉडल बहुत तेजी से उभरा है. कुछ ही दिनों में कुल 4.48 लाख कुल वर्कफोर्स का 90 फीसदी हिस्सा से ज्यादा घर से काम करने में सक्षम रहा. इस दौरान कंपनी ने सिक्योयर बॉर्डरलेस वर्कस्पेस (SBW) के बारे में भी जानकारी दी.

    10 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त रेवेन्यू
    TCS ने जानकारी दी कि सिक्योर बॉर्डरलेस वर्कस्पेस ने मॉडल को बड़े कैम्पस से डिस्ट्रीब्युटेड डिलीवरी में शिफ्ट कर दिया है. इससे कंपनी की प्रोजेक्ट मैनेजमेंट बेहतर हुई है. एन चंद्रशेखरन ने इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष 2019-20 कंपनी के लिए बेहतर साल रहा क्योंकि इस दौरान रेवेन्यू में 10,000 करोड़ रुपये का इजाफा अतिरिक्त इजाफा हुआ है. उन्होंने कहा कि वित्त वर्ष के अंतिम 15 दिनों में हमार पॉजिटिव मूवमेंट प्रभावित हुआ.

    यह भी पढ़ें: बदल गए आपके PPF खाते के नियम,30 जून तक जरूरी है ये काम नहीं तो होगा नुकसान

    कोविड संकट के लिये क्या कर रही कंपनी?
    चंद्रशेखरन ने इस बात पर जोर दिया कि कैसे TCS ने संकट की इस दौर में समाज के साथ खड़ी रही. उन्होंने कहा कि टीसीएस अपने तकनीकी बुद्धिमता के दमपर कोविड-19 से लड़ रही है. कंपनी द्वारा कुछ पहल में मरीजों की ट्रैकिंग, क्लिनिकल ट्रायल के लिये क्विक और लाइट प्लेटफॉर्म तैयार करना और किफयती दरों पर वेंटिलेटर्स ​और किट्स के बारे में भी खोज करना शामिल रहा. उन्होंने बताया कि हम शिक्षण संस्थाओं के लिए TCS iON Digital Glass Room भी चला रहे हैं ताकि स्टूडेंट्स की लर्निंग प्रभावित न हो.

    इसके पहले कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि कंपनी 2025 तक अपने 25 फीसदी कर्मचारियों को ही दफ्तर से काम कराने की तैयारी में है. कंपनी के हवाले से कहा गया था कि उसे इस प्लान के तहत ज्यादा प्रोडक्टिव होने की उम्मीद है. टीसीएस ही नहीं, ​बल्कि ज्यादातर आईटी कंपनियों अब वर्क फ्रॉम होम मॉडल पर ही काम कर रही है.

    यह भी पढ़ें: Aadhaar कार्ड धारकों के लिए बहुत काम का नंबर, UIDAI ने दी इसकी पूरी जानकारीundefined

    Tags: Business news in hindi, Coronavirus, Coronavirus in India, Coronavirus pandemic, India Lockdown, Lockdown, Lockdown news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर