एफडी की कम ब्याज दर का है यह विकल्प, मोटे मुनाफे के साथ टैक्स और रिस्क फ्री

सरकारी स्कीमों में निवेश पर गारंटी के साथ अच्छा रिटर्न मिलता है.

सरकारी स्कीमों में निवेश पर गारंटी के साथ अच्छा रिटर्न मिलता है.

बैंकों की ब्याज दरें सबसे निचले स्तर पर हैं और शेयर मार्केट अनिश्चित. ऐसे में आपके लिए सरकार की टॉप इन्वेस्टमेंट स्कीम अच्छा विकल्प साबित हो सकती हैं. यह टैक्स और रिस्क फ्री हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 25, 2021, 6:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बैंकों की ब्याज दरें सबसे निचले स्तर पर हैं और शेयर मार्केट अनिश्चित. ऐसे में आपके लिए सरकार की टॉप गवर्नमेंट इन्वेस्टमेंट स्कीम अच्छा विकल्प साबित हो सकती हैं. यह टैक्स और रिस्क फ्री हैं. इन स्कीमों में निवेश पर गारंटी के साथ अच्छा रिटर्न तो मिलता ही है, साथ ही आपका कोई रिस्क यानी जोखिम भी नहीं होता है. आप भी निवेश करना चाहते हैं तो हम आज आपको ऐसी ही आठ गवर्नमेंट स्कीम्स के बारे में बता रहे हैं...

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana)
नाम से पेंशन का पता चल जाता है. यदि आप 18 साल के हैं और हर महीने 1,000 रुपये की पेंशन लेना चाहते हैं तो इसमें हर महीने महज 42 रुपये ही जमा कराने होंगे. यदि पेंशन 5,000 रुपये महीने लेना है तो प्रति माह 210 रुपये प्रीमियम जमा कराना होगा. इसमें निवेश पर आपको आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत टैक्स छूट भी मिलती है. अटल पेंशन योजना का लाभ उठाने के वाले व्यक्ति की उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें : सैलरी बढ़ने के बाद भी टेक होम सैलरी में इजाफा होना मुश्किल, जानिए क्या है वजह



गवर्नमेंट सिक्योरिटीज पर मिले ब्याज पर नहीं लगता टीडीएस
सरकारी प्रतिभूतियां यानी गवर्नमेंट सिक्योरिटीज (Government Securities). इनमें ट्रेजरी बिल्स (T-Bills) और सरकारी डेट्स बॉन्ड्स शामिल हैं. मैच्योरिटी पीरियड 91 दिनों से लेकर 40 साल तक का होता है. इन्हें अपने मौजूदा डीमैट अकाउंट से खरीद सकते हैं. फायदे की बात यह है कि ब्याज पर कोई टीडीएस भी नहीं कटता है.

न मेकिंग चार्ज और न ही मिलावट का खतरा
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bonds) जारी करता है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड पर कोई मेकिंग चार्ज या शुद्धता को लेकर चार्ज नहीं लगता है. ये बॉन्ड डीमैट अकाउंट में रखे जा सकते हैं और इस पर टीडीएस भी नहीं कटता है. मैच्योरिटी के बाद इन्हें भुनाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें : आधी हो सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें, सरकार कर रही है इस विकल्प पर विचार

एनपीएस पर नहीं लगता कोई टैक्स
पेंशन फंड रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी की ओर से नेशनल पेंशन स्कीम (National Pension Scheme) का रेग्युलेशन किया जाता है. रिटायरमेंट यानी 60 साल की आयु पर पेंशन मिलती है. एनपीएस के तहत निवेश की गई रकम पर कोई टैक्स नहीं लगता है, लेकिन इससे आपको मिलने वाली सालाना वृत्ति पर जरूर टैक्स लगता है.
Youtube Video


एनएसएस के जरिए निवेश के साथ टैक्स की भी बचत
नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट यानी एनएससी (NSC) में निवेश करने से आपका पैसा तो बढ़ता ही है, साथ ही आपको टैक्स में भी फायदा मिलता है. एनएससी में किए गए निवेश पर ब्याज भी काफी अच्छा मिलता है. इसका मैच्योरिटी का समय 5 साल का होता है और इसमें किए गए निवेश पर 80सी के तहत 1.5 लाख रुपये तक पर टैक्स छूट भी पाई जा सकती है.

यह भी पढ़ें : झुनझुनवाला बोले, कभी नहीं खरीदूंगा बिटकॉइन, इसे बैन कर देना चाहिए

बेटियों का भविष्य करें सुरक्षित
बेटियों के लिए सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) शुरू की है. इस योजना के तहत 10 साल से कम उम्र की बच्ची का खाता खुलवाया जा सकता है, जो कि पोस्ट ऑफिस या किसी भी बड़े बैंक में आसानी से खुल जाता है. सुकन्या समृद्धि खाते को मिनिमम 250 रुपये में खुलवाया जा सकता है और एक वित्त वर्ष अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं.

पीएमवीवीवाई में मिलती है सीनियर सिटीजंस को मासिक पेंशन
प्रधानमंत्री वय वंदना योजना यानी पीएमवीवीवाई (Pradhan Mantri Vay Vandana Scheme) का क्रियान्वयन जीवन बीमा निगम (LIC) के जरिये किया जाता है. इसमें नागरिकों के लिए एक स्कीम है, जिसके तहत मासिक पेंशन मिलती है. इस स्कीम के तहत वरिष्ठ नागरिकों को 10 साल तक एक तय दर से गारंटीड पेंशन मिलती है. इसमें सालाना 7.40 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है.

यह भी पढ़ें : 44 स्टार्टअप्स बनें यूनिकॉर्न, 14 लाख नौकरियों के साथ 106 बिलियन डॉलर की संपत्ति भी बढ़ाई

बीमा के साथ आती है प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एक टर्म इंश्योरेंस प्लान है. इसमें निवेश के बाद अगर व्यक्ति की मौत हो जाती है तो उसके परिवार को 2 लाख रुपये मिलते हैं. मोदी सरकार ने 9 मई 2015 को इस योजना की शुरुआत की थी. आप इसमें पैसे लगाकर टैक्स का फायदा लेने के साथ-साथ अपने परिवार का खयाल रख सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज