Gold Loan लेने से पहले इन बातों का जरूर रखें ध्यान, वरना लग सकता है जुर्माना

सोने का आज का भाव

सोने का आज का भाव

कई बार हम ऐसी परिस्थिति में फंस जाते हैं जब हमें पैसों की बहुत जरूरत पड़ती है. ऐसे में घर में रखा सोना काफी काम आ सकता है. मण्णपुरम फाइनेंस, मुथूट फाइनेंस, आईआईएफएल जैसी कंपनियां गोल्ड लोन की सुविधा देती हैं. यानी कि आप इसे गिरवी रख कर कैश पा सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 5:46 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कई बार हम ऐसी परिस्थिति में फंस जाते हैं जब हमें पैसों की बहुत जरूरत पड़ती है. ऐसे में घर में रखा सोना काफी काम आ सकता है. मण्णपुरम फाइनेंस, मुथूट फाइनेंस, आईआईएफएल जैसी कंपनियां गोल्ड लोन की सुविधा देती हैं. यानी कि आप इसे गिरवी रख कर कैश पा सकते हैं. इन दिनों गोल्ड लोन काफी चलन में है. इसका एक तो कारण यह है कि इसके लिए किसी प्रकार की कोई इनकम प्रूफ देने की जरूरत नहीं पड़ती दूसरी बात कि कम ब्याज दर पर आसानी से यह लोन मिल जाता है. लेकिन इसके लिए कुछ बातें जरूर जान लेनी चाहिए ताकि भविष्य में आप कभी मुसीबत में न फंस जाएं. तो आइए जानते हैं गोल्ड लोन के बारे में कुछ अहम बातें -

गोल्ड लोन लेना कितना फायदेमंद है?

गोल्ड लोन सरकारी और निजी क्षेत्र के कुछ बैंक द्वारा मिलता है. इसमें सोने के गहनों, सिक्कों आदि गिरवी रखकर आप कैश ले सकते हैं. जिसे बाद में पैसा चुकाकर गिरवी रखी ज्वेलरी या सोना ग्राहक वापस ले सकते हैं. गोल्ड लोन की रकम पर ब्याज देना पड़ता है. पर्सनल लोन व अन्य लोन के मुकाबले गोल्ड लोन में ब्याज दर कम होती है. इसके लिए आपको क्रेडिट हिस्ट्री की जरूरत नहीं पड़ेगी. गोल्ड लोन लेने के लिए किसी भी सर्टिफिकेट या गारंटी की जरूरत नही होती है. यह लोन फटाफट मिल जाता है.

यह भी पढ़ें- 1 मार्च तक यहां मिलेगा मुफ्त में FASTag, जानिए क्या करना होगा?
कहां से ले सकते हैं गोल्ड लोन?

गोल्ड लोन आप बैंक और NBFC से ले सकते हैं. हालांकि, दोनों में काफी अंतर है. NBFC के मुकाबले बैंक बेहतर ब्याज दर दे सकता है. वहीं, NBFC मुख्य रूप से सोने के बदले लोन देते हैं, वे जल्दी और तुरंत लोन दे सकते हैं. सभी बैंक ब्रांच में यह सुविधा नहीं हो सकती है.

उदाहरण के लिए, मान लीजिए कि किसी कर्जदार के पास 20 ग्राम सोने का हार है जिसे वह गिरवी रखना चाहता है. बैंक और NBFC दोनों उधारकर्ता को सोने के मूल्य का 75% प्रदान करते हैं. यदि कोई बैंक आपको 10 ग्राम सोने की वैल्यू ₹46,500 कहता है, तो एनबीएफसी इसे अधिक मूल्य दे सकता है. उधारदाता न्यूनतम 18 कैरेट शुद्धता स्वीकार करते हैं. अधिकांश कर्जदाता इस शुद्धता के नीचे सोने पर विचार नहीं कर सकते हैं. हालांकि, आप आभूषण और सोने के सिक्के गिरवी रख सकते हैं.



रीपेमेंट ऑप्शन

इसमें आपको कई सारे रीपेमेंट ऑप्शन मिलेंगे. आप इनमें से किसी को भी चुन सकते हैं. आप समान EMI में भुगतान कर सकते हैं या आप केवल कर्ज अवधि और अंत में एकमुश्त मूल भुगतान के दौरान ब्याज का भुगतान कर सकते हैं. बुलेट रीपेमेंट में बैंक मासिक आधार पर ब्याज लेते हैं. यह छह महीने से एक वर्ष के छोटे कार्यकाल के लिए होते हैं.

यह भी पढ़ें- रिपोर्ट में खुलासा: भारत में टैलेंट के मामले में महिलाओं से पिछड़े पुरुष, कंपनियों के लिए महिलाएं बनीं पहली पसंद

जानें, गोल्ड लोन की ब्याज दरें

मणप्पुरम फाइनेंस- 12.00 % ब्याज दर और कर्ज की राशि- 1500 से 1 करोड़ 12

मूथूट फाइनेंस- 11.99 % ब्याज दर, कर्ज की रकम- 1500 से 50 लाख तक

पंजाब नेशनल बैंक- 8.65% ब्याज दर और कर्ज राशि- 25000-10 लाख

स्टेट बैंक आॅफ इंडिया- 7.50% ब्याज दर और कर्ज राशि- 20000-20 लाख रुपए तक.

एक्सिस बैंक- 13 ब्याज दर और कर्ज राशि- 25000-20 लाख रुपए तक

यह भी पढ़ें- घर खरीदारों के लिए बड़ी खुशखबरी: सालों से अटके फ्लैट्स का निर्माण कार्य पूरा, अप्रैल से होगी डिलिवरी..

इन बातों 5 बातों का रखें ध्यान



  • गोल्ड लोन री-पेमेंट को लेकर अनुशासन जरूरी है. अगर आप निर्धारित समय पर भुगतान नहीं करते तो लोन देने वाला बैंक 2-3 फीसदी का जुर्माना लगा सकता है.


  • अगर आप तीन से ज्यादा गोल्ड लोन की EMI नहीं भरते तो अधिक पेनाल्टी भरनी पड़ सकती है.


  • लोन देते समय जो जिस दस्तावेज पर फाइनेंस कंपनी आपसे दस्तखत कराती हैं, उसमें इस शर्त का जिक्र होता है कि अगर आप 90 दिनों तक लोन की EMI नहीं चुकाते हैं तो ग्रेस पीरियड के बाद अपनी बकाया रकम की वसूली के लिए बैंक आपका गिरवी रखा सोना बेच सकता है.


  • कई वित्तीय संस्थान लोन देते समय प्रोसेसिंग फीस चार्ज करते हैं. प्री-पेमेंट करने पर पेनाल्टी लगाते हैं.


  • प्रोसेसिंग फीस लोन की रकम की अधिकतम 0.5-2 फीसदी तक हो सकती है. कई बैंक वैल्यूएशन चार्ज के नाम पर भी पैसे लेते हैं. लोन अप्लाई करने से पहले इसके बारे में जरूर पता लगा लें.




गोल्ड लोन के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स



  • पैन/पासपोर्ट/आधार/ ड्राइविंग लाइसेंस या कोई अन्य पहचान पत्र दे सकते हैं.


  • एड्रेस प्रूफ के लिए आपके पास आधार कार्ड/बिजली का बिल/ टेलीफोन बिल/ पानी का बिल/राशन कार्ड में से कोई भी एक.


  • कई बैंक आपके हस्ताक्षर की जांच के लिए पासपोर्ट या ड्राइविंग लाइसेंस की मांग करते हैं.


  • इसके साथ ही पासपोर्ट साइज फोटो भी जरूरी है.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज