Home /News /business /

these indians feature in forbes 30 under 30 asia list 2022 abhs

फोर्ब्‍स 30 अंडर 30 एशिया लिस्‍ट जारी, इन भारतीयों ने मारी बाजी

एचबिट्स के फाउंडर शिव पारेख फोर्ब्स लिस्ट में शामिल हैं.

एचबिट्स के फाउंडर शिव पारेख फोर्ब्स लिस्ट में शामिल हैं.

फोर्ब्स ने 30 अंडर 30 एशिया 2022 लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट में एचबिट्स के फाउंडर शिव पारेख, इंस्टाडैप लैब्स के को-फाउंडर सम्यक जैन और सौम्य जैन जैसे ऐसे भारतीयों को भी जगह मिली है, जो अपने फील्ड में कुछ अलग हटकर काम कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. फोर्ब्‍स ने 30 अंडर 30 एशिया की लिस्‍ट जारी कर दी है. इसमें कई भारतीयों को जगह मिली है. इस लिस्ट में कुछ नया करने या अपने फील्ड में कुछ अलग हटकर काम करने वाले ऐसे लोगों को जगह दी गई है, जो अपनी इंडस्ट्री और एशिया को बेहतर बनाने के लिए बदलाव ला रहे हैं.

शिव पारेख
एचबिट्स (hBits) के फाउंडर शिव पारेख को फोर्ब्स 30 अंडर 30 एशिया 2022 लिस्ट में शामिल किया गया है. पारेख ने 2019 में रियल एस्टेट में पारिवारिक अनुभव के साथ टेक्नोलॉजी आधारित आंशिक प्रॉपर्टी स्वामित्व मंच एचबिट्स की स्थापना की. पारेख ने किराया मिलने योग्य कार्यालय भवन जैसे कमर्शियल रियल एस्टेट में निवेश किया. ऐसे भवनों पर महज 30,000 डॉलर जैसी कम रकम का निवेश होता है. एचबिट्स ने दावा किया था कि पिछले साल के अंत तक उसके नियंत्रण में 20 मिलियन डॉलर की प्रॉपर्टी है. उसके 30,000 रजिस्टर्ड यूजर्स हैं.

ये भी पढ़ें- सोशल मीडिया पर अपने संघर्ष की कहानी बताने के बाद अनिल अग्रवाल को मिल रहे हैं फिल्मों के ‘ऑफर’

सम्यक जैन और सौम्य जैन, को फाउंडर, इंस्टाडैप लैब्स
फोर्ब्स इंडिया 30 अंडर 30 में इंस्टाडैप लैब्स के को फाउंडर सम्यक जैन और सौम्य जैन ने भी जगह बनाई है. जैन ब्रदर्स उस युवा पीढ़ी का प्रतिनिधित्व करते हैं, जो ब्लॉकचेन की मदद से दुनिया को नए रास्ते की ओर ले जा रही है. उन्होंने 2018 में इंस्टाडैप का को फाउंडर बनने के लिए कॉलेज छोड़ा था. इसे उन्होंने ETHIndia हैकथॉन में जीता था. उन्होंने इस पर काम किया कि एक मिडलवेयर परत के रूप में कार्य कर इंस्टाडैप कंज्यूमर्स को कई डिस्ट्रीब्यूटेड सिस्टम फाइनेंस (DeFi) प्रोटोकॉल के साथ कैसे जोड़ता और सुव्यवस्थित करता है, जिससे डेवलपर्स को प्रोटोकॉल और पेमेंट गेटवे के बीच संगत एप्लिकेशन बनाने की अनुमति मिलती है.

लविका अग्रवाल और सजल खन्ना, को फाउंडर, अकुडो
लविका अग्रवाल और सजल खन्ना ने 2020 में जगवीर गांधी (30) के साथ अकुडो का गठन किया. उनका मकसद किशोरों को डिजिटल बैंक से प्रीपेड डेबिट कार्ड प्राप्त कराना है, जिससे उन्हें अपनी फाइनेंशियल प्लानिंग करने के साथ पैसे बचाने में मदद मिलती है. अकुडो, जिसका नाइजीरिया की इग्बो भाषा अर्थ फीसफुल वेल्थ है, पहले ही वाई-कॉम्बिनेटर की अगुवाई में सीड फंडिंग से 4.2 मिलियन डॉलर जुटा चुका है.

रोहन नायक, को फाउंडर, पॉकेट एफएम
रोहन नायक ने पॉकेट एफएम के को फाउंडर निशांत के एस और प्रतीक दीक्षित के साथ मनोरंजन से लेकर शिक्षा तक के विषयों में 8 भाषाओं में 1,00,000 घंटे से अधिक लंबे वीडियो का निर्माण और प्रसार किया है. गुडवाटर कैपिटल, टैंगलिन वेंचर पार्टनर्स और लाइटस्पीड इंडिया पार्टनर्स उन निवेशकों में शामिल हैं, जिन्होंने बेंगलुरु स्थित कंपनी को 94 मिलियन डॉलर की फंडिंग की है.

त्रिनेत्र हलदार गुम्माराजू, कंटेट क्रिएटर
गुम्माराजू भारत में ट्रांसजेंडर डॉक्टरों में से एक हैं, जो सामाजिक, चिकित्सा और कानूनी मुद्दों के लिए अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का उपयोग करती हैं. लाइवमिंट की रिपोर्ट के मुताबिक, उनकी सामग्रियों यानी कंटेट के संयुक्त दर्शकों की संख्या करीब 2,50,000 है. वह लेस्बियन, गे, बायसेक्सुअल और ट्रांसजेंडर को मुख्यधारा में लाने की कोशिश कर रही हैं. वह उनके अधिकारों, समस्याओं और सामान्य रूप से जीवन के बारे में जागरूकता फैला रहीं हैं.

ये भी लिस्ट में शामिल
फोर्ब्स 30 अंडर 30 एशिया 2022 लिस्ट में लेखक विवान मारवाह, कंटेंट क्रिएटर मासूम मिनाबाला, मोंक एंटरटेनमेंट के को फाउंडर रणवीर अल्लाहबादिया और विराज शेठ भी शामिल हैं. इनके अलावा कंटेंट क्रिएटर निहारिका एनएम, विंडो ड्रीम्स प्रोडक्शंस की फाउंडर श्रेया पटेल, टेक बर्नर के फाउंडर श्लोक श्रीवास्तव, एबेल जॉब्स के फाउंडर रवीश अग्रवाल, स्वतंत्र कुमार और सिद्धार्थ श्रीवास्तव भी इस लिस्ट में हैं. Bluelearn के को-फाउंडर हरीश उथयकुमार और श्रेयांस संचेती भी इसमें शामिल हैं. इनके अलावा भी रारा डिलीवरी के फाउंडर करण भारद्वाज आदि भी इस लिस्ट में हैं.

Tags: Business news in hindi, Forbes, Indian

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर