चुनाव के बाद बड़ा झटका, कार-बाइक चलाना होगा महंगा, इतना बढ़ेगा थर्ड पार्टी प्रीमियम

चुनाव के बाद बड़ा झटका, कार-बाइक चलाना होगा महंगा, इतना बढ़ेगा थर्ड पार्टी प्रीमियम
IRDAI ने वर्ष 2019- 20 के लिए थर्ड पार्टी (टीपी) के मोटर बीमा प्रीमियम की दर बढ़ाने का प्रस्ताव किया है.

IRDAI ने वर्ष 2019- 20 के लिए थर्ड पार्टी (टीपी) के मोटर बीमा प्रीमियम की दर बढ़ाने का प्रस्ताव किया है.

  • Share this:
बीमा क्षेत्र के नियामक इरडा ने चालू वित्त वर्ष के लिए कारों और दो पहिया वाहनों के थर्ड पार्टी के प्रीमियम में व्यापक बढ़ोतरी किए जाने का प्रस्ताव किया है. भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने वर्ष 2019- 20 के लिए थर्ड पार्टी (टीपी) के मोटर बीमा प्रीमियम की दर बढ़ाने का प्रस्ताव किया है. IRDAI का कहना है कि इंश्योरेंस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो आफ इंडिया (IIBI) की ओर से मिले आंकड़ों का इस्तेमाल मोटर टीपी प्रीमियम रेट तय करने में किया जाता है. (ये भी पढ़ें: अमूल का दूध हुआ इतने रुपये तक महंगा, जानिए अमूल गोल्ड समेत अन्य की नई कीमतें)

कार के लिए कितने बढ़ेंगे प्रीमियम
इसके मुताबिक 1,000 सीसी से कम क्षमता वाली कारों का थर्ड पार्टी बीमा प्रीमियम मौजूदा 1,850 रुपये से बढ़ाकर 2,120 रुपये कर दिया जाना चाहिए. इसी प्रकार 1,000 सीसी और 1,500 सीसी के बीच पड़ने वाली कारों के प्रीमियम को मौजूदा 2,863 रुपये से बढ़कर 3,300 रुपये करने का प्रस्ताव किया गया है. हालांकि, 1,500 सीसी के इंजन से अधिक क्षमता वाली लक्जरी कारों के मामले में इसमें किसी तरह के बदलाव का प्रस्ताव नहीं किया गया है और यह मौजूदा 7,890 रुपये पर ही रखा जाएगा.


स्कूटर/बाइक के लिए कितने बढ़ेंगे प्रीमियम


नए मसौदे के मुताबिक, 75 सीसी से कम क्षमता वाले दोपहिया के लिए थर्ड पार्टी प्रीमियम 427 रुपये से बढ़ाकर 482 रुपये करने का प्रस्ताव है. इसके साथ ही 75 सीसी से लेकर 350 सीसी तक के लिए भी वृद्धि का प्रस्ताव किया गया है, लेकिन 350 सीसी से अधिक की सुपरबाइक के मामले में किसी तरह के बदलाव का प्रस्ताव नहीं किया गया है.
ड्रॉफ्ट के अनुसार, इसके अलावा, सिंगल प्रीमियम रेट में भी कोई बदलाव नहीं किया जाएगा. नई कार के लिए सिंगल प्रीमियम रेट 3 साल के लिए और नए टू-व्हीलर्स के लिए 5 साल है.

ये भी पढ़ें: Railway ने शुरू की खास सुविधा! मुसीबत पड़ने पर दबाएं ये बटन, आसान हो जाएगा सफ़र

इलेक्ट्रिक व्हीकल को मिलेगी 15% की छूट
इरडा ने इलेक्ट्रिक कार और इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स के लिए मोटर थर्ड पार्टी प्रीमियम रेट में 15 फीसदी डिस्काउंट देने का भी प्रस्ताव पेश किया है. ई-रिक्शा के लिए थर्ड पार्टी रेट नहीं बढ़ेगा. हालांकि, स्कूल बस के मामले में प्रीमियम बढ़ सकता है. टैक्सी, बस और ट्रक के लिए प्रीमियम रेट बढ़ाने का सुझाव है. इसी तरह ट्रैक्टर के लिए TP प्रीमियम महंगे किए जाने की बात है.

क्या होता है थर्ड पार्टी इंश्योरेंस
आमतौर पर मोटर इंश्योरेंस 2 तरह के होते हैं – पर्सनल एक्सीडेंट कवर और थर्ड पार्टी इंश्योरेंस. इंडियन रोड सेफ्टी एक्ट और इंडियन मोटर व्हीकल के मुताबिक थर्ड पार्टी इंश्योरेंस अनिवार्य है. थर्ड पार्टी इंश्योरेंस कोई भी प्रॉपर्टी डैमेज, इंजरी या थर्ड पार्टी की मृत्यु को कवर करता है. थर्ड पार्टी दोनों में किसी भी गाड़ी का ड्राइवर, कार के पैसेंजर, दूसरी गाड़ी के पैसेंजर या राह चलता कोई व्यक्ति हो सकता है.

ये भी पढ़ें: सिर्फ 50 हजार में शुरू करें ये बिजनेस, सरकार करेगी बाकी का पैसा जुटाने में मदद

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading