तिरूपति हवाई अड्डे पर अतिथि परिसर बनाने के लिए सरकार ने दी 1 रुपये में 1800 वर्ग मीटर ज़मीन

15 वर्ष की अवधि के लिये जमीन दी गई है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (AAI) की 1800 वर्ग मीटर भूमि 1 रुपये की मामूली लाइसेंस फीस पर 15 वर्ष की अवधि के लिये आंध्रप्रदेश शिक्षा और कल्याण आधारभूत ढांचा कारपोरेशन (एपीईडब्ल्यूआईडीसी) को देने को मंजूरी प्रदान की.

  • Share this:
    नई दिल्ली.केंद्रीय कैबिनेट (Cabinet Decision) की बैठक में तिरूपति हवाई अड्डे पर वीआईपी के लिये अतिथि परिसर के निर्माण के वास्ते भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण की 1800 वर्ग मीटर भूमि आवंटन को बुधवार को मंजूरी दे दी है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (AAI) की 1800 वर्ग मीटर भूमि 1 रुपये की मामूली लाइसेंस फीस पर 15 वर्ष की अवधि के लिये आंध्रप्रदेश शिक्षा और कल्याण आधारभूत ढांचा कारपोरेशन (एपीईडब्ल्यूआईडीसी) को देने को मंजूरी प्रदान की.

    >> इस भूमि का उपयोग तिरूपति हवाई अड्डे पर अतिथि परिसर (सेरेमोनियल लाउंज) के निर्माण के लिये किया जायेगा.

    >> तिरूपति भगवान श्री वेंकेटेश्वर से जुड़ा स्थल है जहां वीवीआईपी और वीआईपी लोगों का अस्कर आना जाना होता है.

    >> वहां ऐसे एक अतिथि परिसर के निर्माण से वहां आने वाले ऐसे लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध हो सकेगी . इस लाउंज का रख रखाव एपीईडब्ल्यूआईडीसी करेगा.

    >> आपको बता दें कि केंद्रीय कैबिनेट बैठक (Modi Government Cabinet decision) में आज 15वें वित्त आयोग (15th Finance Commission) का कार्यकाल 12 महीने बढ़ाने पर फैसला लिया गया है.

    ये भी पढ़ें-अपना पेट्रोल पंप खोलकर लाखों रुपये कमाना हुआ आसान, सरकार ने बदले नियम

    >> इसके अलावा, जूट इंडस्ट्री के लिए भी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. सरकार ने सभी अनाजों की 100 फीसदी पैकेजिंग में जूट की बोरियों का इस्तेमाल अनिवार्य कर दिया है.इस फैसले से पश्चिम बंगाल, बिहार, ओडिशा, असम, आंध्र प्रदेश, मेघालय और त्रिपुरा में रहने वाले किसानों को मदद मिलेगी. हालांकि, ऑटो स्क्रैप पॉलिसी (Auto Scrape Policy) पर फैसला नहीं हो पाया है.

    ये भी पढ़ें-आय से अधिक संपत्ति रखने के मामले में CBIC ने दीपक पंडित को किया सस्पेंड

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.