होम /न्यूज /व्यवसाय /टाइटन के मुनाफे पर कोरोना की तीसरी लहर की पड़ी मार, निवेशकों को मिलेगा इतना डिविडेंड

टाइटन के मुनाफे पर कोरोना की तीसरी लहर की पड़ी मार, निवेशकों को मिलेगा इतना डिविडेंड

ज्वेलरी कारोबार प्रभावित होने से टाइटन कंपनी लिमिटेड के मुनाफे में गिरावट दर्ज की गई है.

ज्वेलरी कारोबार प्रभावित होने से टाइटन कंपनी लिमिटेड के मुनाफे में गिरावट दर्ज की गई है.

मार्च तिमाही में टाइटन का शुद्ध मुनाफा 7.2 फीसदी गिरकर 491 करोड़ रुपये रहा है. विश्लेषकों ने इस तिमाही में 618 करोड़ रु ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. कोरोना की तीसरी लहर की वजह से टाइटन का ज्वेलरी कारोबार प्रभावित हुआ है. इसका असर कंपनी के मुनाफे पर पड़ा है. जनवरी-मार्च 2022 की तिमाही में टाइटन कंपनी लिमिटेड के शुद्ध मुनाफे में 7.2 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है.

टाइटन कंपनी लिमिटेड की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि कंपनी बोर्ड ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए शेयरधारकों को 7.5 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड देने का प्रस्ताव दिया है. कोरोना की तीसरी लहर की वजह से कंपनी के स्टोर्स आंशिक रूप से बंद रहे. इसका असर ज्वेलरी कारोबार पर पड़ा है

ये भी पढ़ें- TV18 Broadcast का चौथी तिमाही में शुद्ध मुनाफा 13.4% घटा, फिर भी न्‍यूज और एंटरटेनमेंट डिवीजन ने की खूब कमाई

491 करोड़ रहा शुद्ध मुनाफा
मार्च तिमाही में टाइटन का शुद्ध मुनाफा 7.2 फीसदी गिरकर 491 करोड़ रुपये रहा है. विश्लेषकों ने इस तिमाही में 618 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा रहने का अनुमान जताया था. जबकि इस दौरान राजस्व में 2 फीसदी की मामूली बढ़ोतरी हुई है. यह मार्च 2021 के 6,935 करोड़ रुपये से बढ़कर 7,276 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है. जनवरी-मार्च 2022 में कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट भी 1.6 फीसदी घटकर 782 करोड़ रुपये रह गया. यह भी विश्लेषकों के अनुमान से काफी कम है.

कोविड के बावजूद संतोषजनक रहा ग्रोथ
टाइटन के एमडी सीके वेंकटरमन के मुताबिक, मार्च तिमाही में कोविड की तीसरी लहर और अन्य जियो-पॉलिटिकल फैक्टर्स की वजह से लगातार कारोबार प्रभावित हुआ है. इसके बावजूद इस तिमाही में ग्रोथ और मुनाफा संतोषजनक रहा है. उन्होंने बताया कि चालू वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही (अप्रैल-जून) को लेकर कंपनी उत्साहित है. अक्षय तृतीया को लेकर टाइटन के सभी स्टोर्स पर पूरी तैयारी की गई है.

ये भी पढ़ें- नेटवर्क18 Q4 नतीजे: सालाना आधार पर शुद्ध मुनाफा 58 फीसदी बढ़कर पहुंचा 61.6 करोड़

इस तिमाही में ज्वेलरी कारोबार की बिक्री 4.1 फीसदी गिरकर 6,132 करोड़ रुपये रह गई. जबकि आमदनी बढ़कर 780 करोड़ रुपये हो गई है. एक साल पहले की इसी अवधि में कंपनी की आय 703 करोड़ रुपये रही थी. वित्त वर्ष 2021-22 में टाइटन ने 269 नए स्टोर्स खोले हैं.

Tags: Jewellery companies, Profit and loss accounts, Stock return, Tata

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें