इस राज्य में पैदा होंगी बम्पर नौकरियां, 10 लाख बेरोजगारों को मिलेगा रोजगार

MSME सेक्टर में 10 लाख रोजगार पैदा करने की दिशा में काम कर रही है महाराष्ट्र सरकार.

CNBC आवाज
Updated: June 19, 2019, 10:53 AM IST
इस राज्य में पैदा होंगी बम्पर नौकरियां, 10 लाख बेरोजगारों को मिलेगा रोजगार
10 लाख लोगों को रोजगार
CNBC आवाज
Updated: June 19, 2019, 10:53 AM IST
MSME सेक्टर में 10 लाख रोजगार पैदा करने की दिशा में महाराष्ट्र सरकार काम कर रही है. इस सेक्टर के लिए महाराष्ट्र सरकार मुख्यमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम की शुरुआत करने की योजना बना रही है. उससे अगले पांच साल में 10 लाख नौकरियां पैदा होंगी. राज्य के उद्योग मामलों के डेवलपमेंट कमिश्नर डॉक्टर हर्षदीप कांबले ने न्यूज एजेंसी पीटीआई से कहा कि उद्योग विभाग की इस प्रमुख योजना में महिला उद्यमियों के लिए 30 प्रतिशत का आरक्षण होगा.

वरिष्ठ आईएएस अधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की ओर से इस कार्यक्रम को मंजूरी मिल चुकी है. इसके तहत अगले पांच सालों में एक लाख यूनिट्स की स्थापना की जानी है. इनमें से 40 प्रतिशत ग्रामीण इलाकों में हैं.

ये भी पढ़ें: उज्ज्वला स्कीम के EMI प्लान पर हो सकता है जल्द बड़ा फैसला!

कांबले ने बताया कि इस योजना को प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम की तर्ज पर लागू किया जाएगा. इसमें ऑनलाइन आवेदन और दूसरी प्रक्रियाओं को शामिल किया जाएगा. अधिकारी ने कहा कि इस योजना का लक्ष्य आंत्रप्रेन्योरशिप को बढ़ावा देना और शिक्षित बेरोजगार युवाओं की बेरोजगारी की समस्या का समाधान करना है.

उन्होंने बताया कि कॉरपोरेशन बैंक इस कार्यक्रम के लिए नोडल बैंक के तौर पर काम करेगा. वहीं नेशनल और प्राइवेट बैंक लाभार्थियों को वित्त पोषण उपलब्ध कराएंगे. कांबले के मुताबिक इस कार्यक्रम के पूरक के रूप में सरकार तालुका स्तर पर 50 नए औद्योगिक पार्कों की स्थापना करेगी.

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार ऐसे खत्म करेगी किसानों की सबसे बड़ी टेंशन!

अन्य अधिकारी के मुताबिक नौकरियों की मांग में होने वाली बढ़ोत्तरी के चलते आने वाले समय में एमएसएमई क्षेत्र के लिए शुरू की जाने वाली यह योजना बहुत बड़ा बदलाव लाने वाली है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 19, 2019, 10:51 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...