3 महीनों में पूरे दिल्ली का वैक्सीनेशन करने में सक्षम, केंद्र सरकार दे 2.60 करोड़ डोज- CM केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने

सीएम अरविंद केजरीवाल ने

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है कि अगले तीन महीनों में ही दिल्ली  में रहने वाले 18 से अधिक उम्र के सभी लोगों का वैक्सीनेशन कराया जा सकता है. लेकिन इसके लिए केंद्र सरकार से मदद चाहिए.

  • Share this:

नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित देश के तमाम राज्य कोरोना महामारी का प्रकोप झेल रहे हैं. आये दिन ना सिर्फ कोरोना के नये मामले तेजी से बढ़ रहे हैं बल्कि बड़ी तादाद में लोगों की मौते भी हो रही है. ऐसे में सिर्फ दो उपाय ही कोरोना से हमें बचा सकता है. पहला कोविड 19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन और दूसरा, तेजी से सभी पात्रों का वैक्सीनेशन. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी है कि अगले तीन महीनों में ही दिल्ली  में रहने वाले 18 से अधिक उम्र के सभी लोगों का वैक्सीनेशन कराया जा सकता है. लेकिन इसके लिए केंद्र सरकार से मदद चाहिए.

दिल्ली को प्रति माह चाहिए 80-85 लाख वैक्सीन

दिल्ली मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी दिल्ली वालों को वैक्सीन देने के लिए जरूरी इंफ्रस्ट्रक्चर और प्लानिंग की व्यवस्था की जा चुकी है. लेकिन वैक्सीन की समुचित उपलब्धता नहीं होने की वजह से वे तेजी वैक्सीनेशन नहीं कर पा रहे है. मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली की जनसंख्या करीब 2 करोड़ है जिसमें से 1.5 करोड़ की आबादी 18 साल से अधिक लोगों की है. लिहाजा दिल्ली को 3 करोड़ डोज वैक्सीन की जरूरत है. अरविंद केजरीवाल ने जानकारी दी कि राष्ट्रीय राजधानी को अब तक महज 40 लाख डोज मिला है,और उन्हें अभी और 2.6 करोड़ डोज वैक्सीन की जरूरत होगी. उन्होंने कहा कि अगले तीन महीनों में पूरी दिल्ली को वैक्सीनेशन करने में हर एक माह 80 से 85 लाख डोज की जरूरत होगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली को रोजाना करीब 3 लाख कोरोना वैक्सीन डोज दिया जाना चाहिए. मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार से अपील की है कि उन्हें समय पर पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन डोज उपलब्ध कराया जाय.

ये भी पढ़ें: खुशखबरी! 14 मई से मिलेगी पीएम किसान की 8वींं किस्त, सरकार से मिली पहली किस्त की मंजूरी

Youtube Video

अभी दिल्ली में रोजाना लग रहे है इतने वैक्सीन

दिल्ली मुख्यमंत्री ने कहा कि फिलहाल राष्ट्रीय राजधानी में रोजाना 1 लाख डोज वैक्सीन लगाया जा रहा है. जिसमें से 50 हजार वैक्सीन 45 साल साल से अधिक उम्र के लोगों को और 50 हजार वैक्सीन 18 साल से 44 साल के उम्र के लोगों को वैक्सीन दिए जा रहे है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के आस-पास मसलन फरीदाबाद,पलवल,सोनीपत,पानीपत और गुरूग्राम जैसे शहरों से लोग दिल्ली आ कर वैक्सीन लगवा रहे है. दिल्ली के आस पास के लोगों को दिल्ली सरकार की व्यवस्था को काफी पसंद किया जा रहा है. दिल्ली में जब से 18-44 साल के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू किया गया है तब से युवाओं में काफी उत्साह है. सरकार ने स्कूलों में जो व्यवस्था की है उससे भी लोग काफी खुश है. फिलहाल दिल्ली के 100 स्कूलों में टीकाकरण का कार्यक्रम चल रहा है जिसे आने वाले समय में 300 स्कूलों तक करने जा रहे है.





18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भी बने वैक्सीन

दिल्ली मुख्यमंत्री ने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि भारत सरकार के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार ने चेतावनी दी है कि देश में कभी भी कोरोना का तीसरा लहर आ सकता है. उन्होंने कहा कि कोरोना के दूसरे और तीसरे लहर से हमें वैक्सीनेशन ही बचा सकता है. मुख्यमंत्री ने देश के वैज्ञानिकों से अनुरोध किया है कि वे 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भी वैक्सीन तैयार करे. ताकि दिल्ली समेत देश के सभी बच्चों का भी वैक्सीनेशन किया जा सके.

ये भी पढ़ें: सीनियर सिटीजन के लिए PNB की खास स्कीम, कम निवेश पर मिलेगा मोटा मुनाफा

दिल्ली में कोरोना महामारी की ये है हालात

7 मई को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक गत 24 घंटों में दिल्ली में 19,832 कोरोना के नए मामले सामने आये है. इसी समयावधि में कोरोना ने 341 कोरोना मरीजों की जान ले ली है.  हालांकि 24 घंटों में 19085 मरीज ठीक भी हुए है. इस दौरान दिल्ली में कुल 79,593 कोरोना टेस्ट किया गया है. दिल्ली में अब तक कुल 12,92,867 कोरोना के मामले दर्ज किया गया है. जबकि 11,83,093 मरीज ठीक हो चुके है. अब तक कुल 18,739 लोगों की मौत हो चुकी है. अभी भी दिल्ली में कुल 91,035 कोरोना के सक्रिय मामले मौजूद है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज