होम /न्यूज /व्यवसाय /

सर्दियों में फिर महंगा हुआ अंडा, तोड़ा 3 सालों का रिकॉर्ड, चेक करें लेटेस्ट रेट्स

सर्दियों में फिर महंगा हुआ अंडा, तोड़ा 3 सालों का रिकॉर्ड, चेक करें लेटेस्ट रेट्स

सर्दियों में फिर महंगा हुआ अंडा

सर्दियों में फिर महंगा हुआ अंडा

सर्दियों के सीजन में एक बार फिर से अंडे के रेट्स (egg price today) बढ़ गए हैं. अंडे का बाजार भाव बीते 3-4 साल का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए तैयार है.

    नई दिल्ली: सर्दियों के सीजन में एक बार फिर से अंडे के रेट्स (egg price today) बढ़ गए हैं. अंडे का बाजार भाव बीते 3-4 साल का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए तैयार है. 20 दिसम्बर को अंडे का ओपन मार्केट रेट बीते तीन साल के ऑफिशियल रेट का रिकॉर्ड तोड़ चुका है. एक दिन पहले तक देश की सबसे बड़ी बरवाला मंडी में ओपन मार्केट में अंडा (egg price in delhi) 550 रुपये प्रति सैंकड़ा तक बिका है. जबकि ऑफिशियल रेट 521 रुपये था. बाजार के जानकार बताते हैं कि 3 साल पहले अंडे का ऑफिशियल रेट पर 543 रुपये तक बिका था. हालांकि, बरवाला मंडी में अभी ऑफिशियल रेट और ज़्यादा ऊपर जाने की संभावना है.

    ऐसे बदल गए अंडे के रेट
    देश में अंडे की सबसे बड़ी बरवाला मंडी में देखते ही देखते 100 अंडे का ऑफिशियल भाव 420 रुपये से 521 रुपये पर पहुंच गया है. जबकि ओपन मार्केट में 550 रुपये तक बिक रहा है. हैरत की बात यह है कि ऐसा कोई 1-2 महीने में नहीं हुआ. 24 घंटे से भी कम वक्त में अंडे के भाव फर्श से अर्श पर पहुंच गए. 5 दिसम्बर से दो दिन पहले तक अंडे का भाव 420 रुपये था, लेकिन 5 दिसम्बर के बाद भाव सीधे 483 रुपये पर पहुंच गया.

    यह भी पढ़ें: जब CAIT ने RBI और ICMR से पूछा, क्या नोट छूने से भी फैलता है कोरोना, तो...

    हालत यह हो गई है कि मंडी में अंडे का भाव तय कुछ हो रहा है और बिक उससे ऊंचे रेट पर रहा है. इसके पीछे बहाना मुर्गियों में आई बीमारी के चलते कम अंडा उत्पादन का लगाया जा रहा है, लेकिन अंडा बाज़ार के जानकार इसे बड़े कारोबारियों की अंडा महंगा करने की एक चाल बता रहे हैं.

    यह भी पढ़ें: 1 जनवरी से बदल जाएंगे ये 10 नियम, देश के करोड़ों लोगों पर पड़ेगा असर!

    मुर्गियों में हो गई है आरडी नाम की बीमारी!
    बरवाला अंडा मंडी में यह खबर पूरी तरह से फैल चुकी है कि मुर्गियों को आरडी नाम की बीमारी हो गई है और अंडे का उत्पादन कम हो गया है. आरडी के तहत मुर्गियों के पेट में तकलीफ हो जाती है, जिसके चलते मुर्गियों को लगातार दवाई दी जाती है. मुर्गियों को मोल्डिंग पर रख दिया जाता है. इसके तहत मुर्गियों को दाना नहीं खिलाया जाता है. सिर्फ दवाई दी जाती है. खुराक के हिसाब से दाना नहीं मिलने पर मुर्गी अंडा भी नहीं देती है. लेकिन बरवाला के व्यापारी इसे सिर्फ अफवाह बता रहे हैं. उनका कहना है कि दो-चार पोल्ट्री फार्म में तो यह हर जगह रहती ही है.undefined

    Tags: Business news in hindi, Egg Price, Egg Price in India

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर