Gold Price: सोना 133 रुपये और चांदी हुई 875 रुपये तक सस्ती, फटाफट चेक करें नए रेट्स

 चांदी 875 रुपये प्रति किलोग्राम सस्ती होकर 63,860 रुपये प्रति किलोग्राम पर आई गयी.
चांदी 875 रुपये प्रति किलोग्राम सस्ती होकर 63,860 रुपये प्रति किलोग्राम पर आई गयी.

Gold Price Today, 13 October 2020: सोने और चांदी की नई कीमतें जारी हो गई है. दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 133 रुपये और चांदी 875 रुपये तक सस्ती हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2020, 4:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अंतरराष्ट्रीय स्तर सोने की कीमतों में आई  तेज गिरावट और दुनियाभर के शेयर बाजारों में लौटी खरीदारी के चलते घरेलू बाजार में सोने की कीमतें गिर गई है. दिल्ली सर्राफा बाजार में 10 ग्राम सोने के दाम गिरकर 52 हजार रुपये के नीचे आ गए हैं. वहीं, इस दौरान एक किलोग्राम चांदी की कीमतों में 875 रुपये की बड़ी गिरावट आई है. एक्सपर्ट्स ने बताया कि दिवाली तक सोना एक रेंच में रहेगा. अगर ऊपरी स्तर की बात करें तो ये 51,500 से 52800 रुपये प्रत दस ग्राम तक पहुंच सकता है. वहीं, निचले स्तर इसके भाव गिरकर 49,800 प्रति दस ग्राम पर आने की संभावना है.

सोने की नई कीमतें (Gold Price, 13th October 2020) - HDFC सिक्योरिटीज के मुताबिक, दिल्ली सर्राफा बाजार में 99.9 फीसदी वाले 10 ग्राम सोने का दाम मंगलवार को 133 रुपये तक गिर गए. दिल्ली में अब नई कीमतें 51,989 रुपये प्रति दस ग्राम है. वहीं, एक दिन पहले यानी सोमवार को 10 ग्राम सोने के दाम 52,122 रुपये पर बंद हुए थे.

5374 रुपये सस्ता हो चुका है सोना-एमसीएक्स पर, आज शुरुआती कारोबार में दिसंबर डिलीवरी वाला सोना 0.55% गिरकर 50,826 रुपये प्रति दस ग्राम पर कारोबार कर रहा था. इसी तरह से चांदी वायदा 1.2% गिरकर 62,343 प्रति किलोग्राम पर आ गई. सोने और चांदी दोनों धातुओं में पिछले सत्र में गिरावट दर्ज की गई थी. आपको बता दें कि ऊपरी स्तर से अब तक सोना 5374 रुपये प्रति दस ग्राम तक सस्ता हो चुका है.



चांदी की नई कीमतें (Silver Price, 13th October 2020)- मंगलवार को चांदी की कीमतों में भी गिरावट आई. चांदी 875 रुपये प्रति किलोग्राम सस्ती होकर 63,860 रुपये प्रति किलोग्राम पर आई गयी. जबकि, सोमवार को चांदी का भाव 64,735 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुआ था. इस प्रकार आज चांदी की कीमतों में प्रति किलोग्राम 875 रुपये की गिरावट आई है.

अब आगे क्या होगा? एक्सपर्ट्स का कहना हैं कि कारोबारियों की नजरें अब अमेरिका के राहत पैकेज पर है. लेकिन अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है. इसीलिए अब कारोबारियों की नजर ब्रिटेन के व्यापार समझौते पर है. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक यूरोपीय संघ व्यापार समझौते की रूपरेखा तैयार करने के लिए गुरुवार की समय सीमा निर्धारित की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज