भारत को आज तगड़ा झटका दे सकता है अमेरिका, डोनाल्‍ड ट्रंप करेंगे H1-B वीजा पर पाबंदियों की घोषणा!

भारत को आज तगड़ा झटका दे सकता है अमेरिका, डोनाल्‍ड ट्रंप करेंगे H1-B वीजा पर पाबंदियों की घोषणा!
अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आज नए वीजा प्रतिबंधों की घोषणा कर सकते हैं.

अमेरिका (US) के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) आज वीजा पाबंदियों (Restrictions) को लेकर घोषणा कर सकते हैं. वह साल 2020 के बचे हुए समय के लिए H1-B वीजा (H1-B Visa) निलंबित करने का फैसला भी सकते हैं.

  • Share this:
वाशिंगटन. कोरोना संकट (COVID-19 Crisis) के बीच अमेरिका में बढ़ी बेरोजगारी दर आज राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) भारत को तगड़ा झटका देने वाली घोषणा कर सकते हैं. माना जा रहा है कि आज ट्रंप H1-B वीजा समेत सभी तरह के अस्‍थायी वर्क वीजा (Temporary Work Visa) को बाकी बचे साल के लिए निलंबित करने का फैसला ले सकते हैं. ट्रंप के इस फैसले से दुनियाभर से अमेरिका में नौकरी करने का सपना देखने वाले 2.4 लाख लोगों को धक्‍का लग सकता है. इससे सबसे बड़ा नुकसान भारतीय पेशेवरों को होगा.

वर्क वीजा पर काम कर रहे लोगों पर नहीं पड़ेगा कोई असर
अमेरिका में काम करने के लिए H1-B वीजा पाने वाले लोगों में सबसे ज्‍यादा भारतीय आईटी प्रोफेशनल्‍स होते हैं. ऐसे में वीजा पाबंदियों का सबसे ज्‍यादा नुकसान भारतीयों को होना तय है. हालांकि, ये भी माना जा रहा है कि नई वीजा पाबंदियों से इस समय वर्क वीजा पर अमेरिका में काम करने वाले लोगों पर असर नहीं पड़ेगा. ट्रंप ने हाल में एक साक्षात्‍कार के दौरान कहा था कि वह रविवार या सोमवार को नई वीजा पाबंदियों की घोषणा करेंगे. एक सवाल के जवाब में उन्‍होंने कहा कि बहुत कम लोगों को इन पाबंदियों से छूट मिलेगी.

ये भी पढ़ें- 91.69% लोगों ने माना China है भारत का सबसे बड़ा दुश्मन, नहीं खरीदेंगे चीनी सामान: सर्वे
डोनाल्‍ड ट्रंप ने बहुत कम लोगों को छूट के दिए हैं संकेत


ट्रंप ने कहा कि हाई-स्किल्‍ड वर्कर्स के लिए H1-B वीजा, कंपनियों में ट्रांसफर किए गए प्रबंधकों के लिए L-1 प्रोग्राम और गैर-कृषि क्षेत्र के अस्‍थायी वर्कर्स के लिए H-2B वीजा पर कम लोगों को ही छूट मिलेगी. अमेरिकी कंपनियों को विदेशी कर्मचारियों की नियुक्ति करने की सुविधा H1-B वीजा के तहत ही दी जाती है. माना जा रहा है कि ट्रंप आज एच-1बी, एल-1 और अन्य अस्थायी कार्य वीजा निलंबित करने के आदेश पर हस्ताक्षर कर सकते हैं. हालांकि, इस नए आदेश से यूएस में पहले से काम करने वालों को प्रभावित करने की संभावना नहीं है.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच नौकरी जाने के बाद भी चुकाना होगा Income Tax, जानें सभी नियम

भारतीय प्रोफेशनल्‍स में काफी लोकप्रिय है H1-B वीजा
H-1B वर्क वीजा भारतीय कंपनियों के अमेरिकी परिचालन के साथ अमेरिका में काम करने के इच्छुक भारतीयों में बहुत लोकप्रिय हैं. अमेरिकी सरकार ने हर साल एच-1बी वीजा को 85,000 तक सीमित कर दिया है, जिसमें से लगभग 70 फीसदी भारतीयों को जाता है. ट्रंप की ओर से होटल व निर्माण कर्मचारी के लिए एच-2बी वीजा (H-2B Visa), रिसर्च स्कॉलर्स, प्रोफेसर्स और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए के लिए जे-1 वीजा (J-1 Visas) के भी निलंबित करने की आसार हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज