लाइव टीवी

प्याज के बाद अब 100 रुपये/किलो हुई तूर दाल, कीमतों को काबू करने के लिए सरकार ने दिए आदेश

News18Hindi
Updated: November 6, 2019, 12:09 PM IST
प्याज के बाद अब 100 रुपये/किलो हुई तूर दाल, कीमतों को काबू करने के लिए सरकार ने दिए आदेश
देश में तूर दाल की कीमतें 100 रुपये प्रति किलो के पार पहुंच गई है.

सरकार (Modi Government) ने पहले सभी व्यापारियों (Businessman) को आदेश देते हुए विदेशों (Tur import deadline extended) से खरीदी हुई दाल को 31 अक्टूबर तक ही भारत में लाने के निर्देश दिए थे. लेकिन अब इस तारीख को आगे बढ़ाकर 15 नवंबर 2019 कर दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2019, 12:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्याज की बढ़ती कीमतों को काबू करने के लिए उठाए कदमों के बाद अब मोदी सरकार ने  (Narendra Modi Government) दाल (Pulses Price Soar) की बढ़ती कीमतों को काबू करने के लिए कदम उठाया है. सरकार ने तूर दाल आयात करने की डेडलाइन 15 नवंबर तक बढ़ा दी है. इससे पहले 31 अक्टूबर की डेडलाइन तय की थी. दरअसल सरकार ने पहले सभी व्यापारियों को आदेश देते हुए विदेशों से खरीद हुई दाल को अक्टूबर महीने में ही भारत लाने के निर्देश दिए थे. लेकिन अब इस तारीख को आगे बढ़ाकर 15 नवंबर 2019 कर दिया है. हालांकि, व्यापारियों की मांग तारीख को बढ़ाकर 31 दिसंबर तक करने की थी.  ऑल इंडिया दाल मिल एसोसिएशन ने इसको लेकर वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल को पत्र भी लिखा था.

बढ़ने लगी हैं दालों की कीमतें- तूर दाल की कीमत दिल्ली में 98 रुपए किलो हो गई है. वहीं, अमृतसर में 95 रुपये और जम्मू में 102 रुपये पर पहुंची गई है. जबकि मूंग दाल की कीमत मुंबई में 96 रुपये, दिल्ली में 90 रुपये और उत्तर प्रदेश में 90 रुपये हो गई है.

ये भी पढ़ें-मोदी सरकार के फैसले से हिट हुआ ये बिजनेस! आपके पास ₹50,000/महीने कमाने का मौका

क्यों नहीं  हुआ सही समय पर आयात-भारतीय दाल उद्योग केन्या, मोजाम्बिक, म्यांमार (बर्मा) आदि देशों से तूर दाल को आयात करते हैं. इस बार कई देशों में तूर का उत्पादन दो माह देरी से हुआ है. फसल में देरी से भारत की दाल मिलें 31 अक्टूबर तक आयात नहीं कर पाई थी.


Loading...



अब क्या होगा-सरकार ने सभी व्यापारियों को दाल 15 नवंबर तक ही आयात करने के निर्देश दिए. चालू वित्त वर्ष 2019-20 में सरकार ने तूर (अरहर) का आयात सिर्फ चार लाख टन करने का कोटा तय किया है. अगर व्यापारी नवंबर में दाल का आयात पूरा नहीं करते तो व्यपारियों को भविष्य में दाल आयात का कोटा नहीं दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-रोजाना 7 रुपये बचाकर पाएं 5 हजार की पेंशन, 1.9 करोड़ लोगों ने उठाया इसका फायदा

(असीम मनचंदा, संवाददाता, CNBC आवाज़)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मनी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 6, 2019, 11:39 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...