TRAI बदलने वाला है कई नियम, सस्ता हो सकता है आपका टीवी देखना

ट्राई (TRAI ) अब जल्द नए केबल टीवी टैरिफ सिस्टम की खामियों को दुरुस्त करने के लिए उसमें बदलाव कर सकता है.

News18Hindi
Updated: June 25, 2019, 11:30 AM IST
TRAI बदलने वाला है कई नियम, सस्ता हो सकता है आपका टीवी देखना
सस्ता हो आपका टीवी देखना, TRAI बदलने वाला है कई नियम
News18Hindi
Updated: June 25, 2019, 11:30 AM IST
ट्राई (TRAI ) अब जल्द नए केबल टीवी टैरिफ सिस्टम की खामियों को दुरुस्त करने के लिए उसमें बदलाव कर सकता है. ट्राई का कहना है कि नई व्यवस्था से बदलाव का नया दौर शुरू हो गया है और पारदर्शित भी बढ़ी है. उन्होंने कहा अब ग्राहक कई ऑपरेटरों में से अपनी पसंद का कोई भी ऑपरेटर चुन सकते हैं. हाल ही में दिए हुए एक इंटरव्यू में ट्राई चीफ ने कहा कि जब भी कोई नई चीज आती है तो वह कुछ क्षेत्रों में उम्मीद से भी काम कर पाती है. तो वहीं कुछ क्षेत्रों में सुधार की गुंजाइश भी होती है गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर में ट्राई नया केबल प्राइस रिजीम लेकर आया था.

उन्होंने कहा, 'हम यह देख रहे हैं कि टैरिफ सिस्टम को लागू करने में कोई कमी तो नहीं रह गई ताकि उसमें सुधार किया जाए. गड़बड़ियां ठीक करने के लिए डाटा की भी जरूरत पड़ेगी. हम एआरपीयू और मुकदमों की संख्या जैसी चीजों के आधार पर फैसला नहीं करेंगे, और  इस मामले को सावधानी से देखने के साथ डाटा भी जुटा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: इस सरकार का बड़ा प्लान, जल्द घर बैठे मिलेंगे कई जरूरी लाइसेंस

आपको याद दिला दें कि पिछले साल दिसंबर में ट्राई नया केबल प्राइस रिजीम लेकर आया था. दरअसल इसमें उपभोक्ताओं को केवल उन्हीं चैनलों के लिए भुगतान करने की छूट थी, जिसे वह देखना चाहते हैं.

कम बिल के लिए एक कंसल्टेशन पेपर आ सकता है
आपको बता दें कि रेग्यूलेटर ने इस साल 1 फरवरी से नए नियमों को लागू कर दिया था. दरअसल अब चैनलों के समूह के हिस्से वाले किसी भी चैनल की कीमत 19 रुपए से ज्यादा नहीं हो सकती. हालांकि यहां ये साफ कर दें कि उन चैनलों पर कीमत को लेकर कोई बंदिश नहीं है, जो किसी भी समूह का हिस्सा नहीं है और प्रीमियम चैनल माने जाते हैं. इसके अलावा ईटी में छपी खबर के मुताबिक, ट्राई मंथली केबल और डीटीएच बिल कम करने के लिए एक कंसल्टेशन पेपर जारी करने पर विचार कर सकता है.

ये भी पढ़ें: सरकार के साथ मिलकर महीने कमाएं 30 हजार रु, जानें सब कुछ
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...