रेलयात्री ध्‍यान दें...! घर से फुल चार्ज कर निकलें मोबाइल-लैपटॉप, ट्रेन में अब रात को नहीं मिलेगी चार्जिंग सुविधा

भारतीय रेलवे (File Photo)

भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने ट्रेन में मोबाइल फटने, आगजनी और चोरी की घटनाओं पर काबू पाने के लिए रात को चार्जिंग प्‍वाइंट्स में बिजली आपूर्ति बंद (No Charging Points in Night) करने का फैसला किया है. आईए जानते हैं कि ट्रेनों में रात को कुल कितने घंटे बंद रहेंगे चार्जिंग प्‍वाइंट्स.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. ज्‍यादातर रेलयात्री ट्रेन (Rail Passengers) में सवार होते ही अपने मोबाइल या लैपटॉप को चार्जिंग पर लगा देते हैं. अगर आपको भी घर से मोबाइल-लैपटॉप फुल चार्ज कर यात्रा पर निकलने के बजाय ट्रेन में चार्जिंग प्‍वाइंट्स ढूंढने की आदत है तो अब इसे बदल डालिए. दरअसल, भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने अपने कुछ नियमों में बदलाव कर दिया है. इसके तहत अब यात्री रात में सफर के दौरान अपना मोबाइल फोन (Mobile Phone) या लैपटॉप (Laptop) ट्रेन में चार्ज नहीं कर सकेंगे. रेलवे का कहना है कि ये फैसला ट्रेन में आगजनी और चोरी की घटनाओं को ध्यान में रखते हुए लिया गया है, ताकि अनहोनी से बचा जा सके.

    चार्जिंग के लिए तय कर दिया टाइमटेबल
    रेलवे के मुताबिक, अब ट्रेनों में मोबाइल चार्जिंग के लिए टाइमटेबल (Charging Timetable) तय कर दिया गया है. लिहाजा, अब रात 11 बजे से सुबह 5 बजे के बीच ट्रेन के चार्जिंग प्वाइंट्स में बिजली आपूर्ति बंद रहेगी. इससे रात में सफर के दौरान मोबाइल चोरी, मोबाइल फटने और आगजनी जैसी घटनाएं नहीं होंगी. इस नियम को कई ट्रेनों में लागू कर दिया गया है. बता दें कि 13 मार्च 2021 को दिल्ली-देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस में आग लग गई थी. यह आग एक कोच से शुरू हुई और देखते ही देखते 7 कोच तक फैल गई. हालांकि, आगजनी में किसी यात्री को कोई नुकसान नहीं पहुंचा. इस घटना ने रेलवे को चौकन्‍ना कर दिया है. इसके बाद अब रेलवे सख्ती बरत रहा है.



    ये भी पढ़ें- दूध, बिजली समेत कई चीजें 1 अप्रैल से होंगी महंगी, देखें किसके कितने बढ़ सकते हैं दाम

    अप्रैल में चलाई जाएंगे कई स्‍पेशल ट्रेनें
    भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधाओं का ध्यान रखते हुए 1 अप्रैल 2021 से कुछ रूट पर नई ट्रेन चलाने का ऐलान भी किया है. देश में फिर से बढ़ते कोरोना संकट को देखते हुए रेलवे सोशल डिस्टेंसिग का पूरा ध्यान रख रहा है. रेलवे ने ट्रेन में भीड़भाड़ रोकने और लोगों को आसानी से सीट उपलब्‍ध कराने के लिए कई स्पेशल ट्रेन चलाने का ऐलान किया है. इसके अलावा रेलवे समय-समय पर यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुई स्पेशल ट्रेन चलाती रहती है. बता दें कि भारतीय रेलवे अप्रैल से ओखा-तूतीकोरिन (Okha-Tuticorin), जबलपुर कोयम्बटूर रूट (Jabalpur Coimbatore routes) पर साप्ताहिक विशेष ट्रेनें शुरू करेगी.