इन 2 दिनों के लिए हो सकती है बैंकों की हड़ताल, पहले ही पूरे कर लें सारे काम

31 जनवरी और एक फरवरी को  बैंक करेंगे हड़ताल

31 जनवरी और एक फरवरी को बैंक करेंगे हड़ताल

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने दो दिन की बैंक हड़ताल का आह्वान किया है. बैंक यूनियनों ने इस बार तीन चरणों में हड़ताल की योजना बनाई है.

  • Share this:
धर्मशाला. यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (UFBU) ने 31 जनवरी और एक फरवरी को दो दिन की बैंक हड़ताल का आह्वान किया है. यूएफबीयू नौ ट्रेड यूनियनों का प्रतिनिधित्व करती है. यूएफबीयू ने कहा है कि यदि उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो मार्च में तीन दिन की हड़ताल की जाएगी और उसके बाद उसने एक अप्रैल, 2020 से अनिश्चितकालीन हड़ताल करने की धमकी दी है. बैंक यूनियनों ने इस बार तीन चरणों में हड़ताल की योजना बनाई है.

IBA को दी जानकारी
यूएफबीयू के संयोजक संजीव कुमार बांदलिश ने कहा कि इस बारे में भारतीय बैंक संघ (IBA) के चेयरमैन, वित्तीय सेवा विभाग के सचिव और श्रम मंत्रालय में मुख्य श्रमायुक्त को पहले ही पत्र भेजा जा चुका है.

यह भी पढ़ें: अगर करते हैं नौकरी या बिजनेस! तो जानिए टैक्‍स बचाने के सबसे आसान तरीके
इन मांगों को लेकर होगा हड़ताल


बांदलिश ने कहा कि हमने हड़ताल पर जाने का फैसला इसलिए लिया है कि क्योंकि वेतन में 20 प्रतिशत वृद्धि करने, पांच दिन की बैंकिंग, विशेष भत्ते को मूल वेतन के साथ मिलाने और नयी पेंशन योजना को समाप्त करने की हमारी मांग लंबे समय से लंबित है. उन्होंने कहा कि सरकार को कुल 12 मांगें भेजी गई हैं.

ये यूनियन होंगे शामिल
यूएफबीयू में नौ यूनियनें, ऑल इंडिया बैंक एम्पलॉइज एसोसिएशन (एआईबीईए), ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स कनफेडरेशन (एआईबीओसी), नेशनल कनफेडरेशन ऑफ बैंक एम्पलॉइज (एनसीबीई), ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर्स एसोसिएशन (एआईबीओए) बैंक एम्पलॉइज कनफेडरेशन ऑफ इंडिया (बीईएफआई), इंडियन नेशनल बैंक एम्पलॉइज फेडरेशन (आईएनबीईएफ), इंडियन नेशनल बैंक ऑफिसर्स कांग्रेस (आईएनबीओसी), नेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ बैंक वर्कर्स (एनओबीडब्ल्यू) और नेशनल ऑर्गेनाइजेशन ऑफ बैंक ऑफिसर्स (एनओबीओ) शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज