होम /न्यूज /व्यवसाय /

IPO Update : अगले सप्ताह मोटा पैसा कमाने का मौका, LIC से पहले आ रहा इस कंपनी का आईपीओ, जानें पूरी डिटेल्स

IPO Update : अगले सप्ताह मोटा पैसा कमाने का मौका, LIC से पहले आ रहा इस कंपनी का आईपीओ, जानें पूरी डिटेल्स

उमा एक्सपोर्ट्स इस आईपीओ के जरिये करीब 60 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है. इनमें से 50 करोड़ रुपये का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल की आवश्यकताओं को पूरा करने में होगा.

उमा एक्सपोर्ट्स इस आईपीओ के जरिये करीब 60 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है. इनमें से 50 करोड़ रुपये का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल की आवश्यकताओं को पूरा करने में होगा.

Uma Exports IPO : एलआईसी के आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (LIC IPO) को टालने की आशंकाओं के बीच उमा एक्सपोर्ट्स लिमिटेड का आईपीओ (Uma Exports Limited IPO) लॉन्च होने जा रहा है. यह आईपीओ निवेशकों के लिए 28 मार्च को खुलेगा. आखिरी तारीख 30 मार्च है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. आईपीओ में निवेश करने वालों के लिए अच्छी खबर है. आने वाला सप्ताह उनके लिए मोटा मुनाफा कमाने का मौका है. दरअसल, एलआईसी के आरंभिक सार्वजनिक पेशकश (LIC IPO) को टालने की आशंकाओं के बीच उमा एक्सपोर्ट्स लिमिटेड का आईपीओ (Uma Exports Limited IPO) लॉन्च होने जा रहा है. यह आईपीओ निवेशकों के लिए 28 मार्च को खुलेगा. आखिरी तारीख 30 मार्च है.

इसका मतलब यह कि चालू वित्त वर्ष के आखिरी सप्ताह में कंपनी का आईपीओ बंद हो जाएगा. कंपनी 7 अप्रैल को लिस्ट होने की योजना बना रही है. उमा एक्सपोर्ट्स ने बाजार नियामक सेबी (Market Regulator Sebi) के पास सितंबर 2021 में ड्राफ्ट पेपर्स जमा कराए थे.

ये भी पढ़ें- 7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, सरकार बढ़ाकर इतनी करेगी बेसिक सैलरी

60 करोड़ रुपये जुटाने की योजना

उमा एक्सपोर्ट्स इस आईपीओ के जरिये करीब 60 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है. इनमें से 50 करोड़ रुपये का इस्तेमाल वर्किंग कैपिटल की आवश्यकताओं को पूरा करने में होगा. मार्च 2021 तक वर्किंग कैपिटल सुविधाओं के लिए कुल स्वीकृत सीमा 85 करोड़ रुपये थी.

ये भी पढ़ें- Petrol Diesel Price Today: इंडियन ऑयल ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के नए रेट्स, जानें अपने शहर का भाव

जानिए क्या करती है कंपनी

कंपनी कृषि उत्पादों और चीनी, मसाले जैसे सूखी लाल मिर्च, हल्दी, धनिया, जीरा, चावल, गेहूं, मक्का, ज्वार और चाय, दाल के व्यापार और मार्केटिंग में लगी हुई है. मुख्य रूप से कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और म्यांमार से कंपनी दाल, फैबा बीन्स, काली उड़द की दाल और अरहर की दाल का आयात करती है. श्रीलंका, यूएई, अफगानिस्तान को चीनी और बांग्लादेश को मक्का निर्यात करती है.

ये भी पढ़ें- WhatsApp बिजनेस यूजर्स के लिए खुशखबरी, ऑर्डर को मैनेज करना होगा आसान

बचेगा आयात शुल्क

उमा एक्सपोर्ट्स ऑस्ट्रेलिया में एक पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी के माध्यम से एक कार्यालय स्थापित करने की प्रक्रिया में है. यह इसे सीधे अन्य वैश्विक स्थानों पर वस्तुओं को भेजने की अनुमति देगा. कंपनी ने अपने ड्राफ्ट पेपर में कहा कि इस कदम से कंपनी को माल ढुलाई और आयात शुल्क पर लागत बचाने में मदद मिलेगी.

कंपनी की वित्तीय स्थिति पर नजर

वित्त वर्ष 2021 में कंपनी की कुल आय 752.03 करोड़ रुपये रही थी, जो एक साल पहले 810.31 करोड़ रुपये थी. नेट प्रॉफिट वित्त वर्ष 2021 में 12.18 करोड़ रुपये रहा, जो इसके पिछले साल 8.33 करोड़ रुपये था. कंपनी का ऑपरेटिंग प्रॉफिट 21.25 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 19.75 करोड़ रुपये था. कंपनी का टोटल डेट इस दौरान 42.14 करोड़ रुपये रहा.

Tags: Investment, IPO, LIC IPO, Stock return

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर