अपना शहर चुनें

States

UN chief का बड़ा बयान! इस साल दुनिया भर के 4.9 करोड़ लोग हो जाएंगे बेहद गरीब, जानें वजह?

UN chief का बड़ा बयान! इस साल दुनिया भर के 4.9 करोड़ लोग हो जाएंगे बेहद गरीब, जानें वजह?
UN chief का बड़ा बयान! इस साल दुनिया भर के 4.9 करोड़ लोग हो जाएंगे बेहद गरीब, जानें वजह?

कोरोना वायरस संकट को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र (United Nations) के चीफ एंतोनियो गुटेरस (Antonio Guterres) ने एक चेतावनी दी है. महासचिव गुटेरस ने चेतावनी दी है कि अगर तत्काल कदम नहीं उठाए गए तो साफ है कि बड़ी खाद्य आपात की स्थिति का जोखिम बढ़ रहा है. इसका लंबे समय तक करोड़ों बच्चों और युवाओं पर असर हो सकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस संकट को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र (United Nations) के चीफ एंतोनियो गुटेरस (Antonio Guterres) ने एक चेतावनी दी है. जिसमें उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में GDP की गिरावट के चलते इस साल करीब 4.9 करोड़ लोग बेहद गरीब हो सकते हैं. इतना ही नहीं लाखों बच्चों का विकास भी रुक सकता है. उन्होंने सभी देशों से वैश्विक खाद्य सुरक्षा (global food security) सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने के लिए कहा है. महासचिव गुटेरस ने चेतावनी दी है कि अगर तत्काल कदम नहीं उठाए गए तो साफ है कि बड़ी खाद्य आपात की स्थिति का जोखिम बढ़ रहा है. इसका लंबे समय तक करोड़ों बच्चों और युवाओं पर असर हो सकता है.

मौजूदा समय में 82 करोड़ से ज्यादा लोग भुखमरी के शिकार
गुटेरस ने मंगलवार को खाद्य सुरक्षा नीति (food security policy) लॉन्च करते हुए कहा कि दुनिया की 7.8 अरब आबादी को भोजन कराने के लिए पर्याप्त से अधिक भोजन मौजूद है. लेकिन मौजूदा समय में 82 करोड़ से ज्यादा लोग भुखमरी के शिकार हैं. और पांच साल से कम उम्र के करीब 14.4 करोड़ बच्चों का विकास भी नहीं हो रहा है. हमारा खाद्य सिस्टम फेल हो रहा है और कोरोना वायरस के चलते हालात और बदतर हो गए हैं.

ये भी पढ़ें:- आम आदमी को बड़ा झटका! TV, फ़्रिज, AC और होंगे महंगे, नहीं मिलेगा डिस्काउंट
4.9 करोड़ लोग बेहद गरीबी का शिकार हो जाएंगे


गुटेरस ने कहा कि इस साल कोरोना वायरस संकट के चलते करीब 4.9 करोड़ लोग बेहद गरीबी का शिकार हो जाएंगे. ग्लोबल GDP में हर एक फीसदी की गिरावट मातलब ये है कि 7 लाख अतिरिक्त बच्चों की ग्रोथ रुक जाएगी. उन्होंने कहा कि जिन खाद्य की कोई कमी नहीं है, वहां भी कोरोना वायरस के चलते इसकी आपूर्ति में कमी आई है.

गुटेरस ने तत्काल कार्रवाई करने की बात को दोहराया, ताकि इस महामारी के सबसे बुरे ग्लोबल परिणामों को नियंत्रित किया जा सके. गुटेरस ने कहा कि राष्ट्रों को जीवन और अजीविका को बचाने के लिए काम करना चाहिए. उन्होंने कहा कि देशों को उन जगहों पर ज्यादा काम करने की जरूरत है जहां जोखिम सबसे ज्यादा है.

ये भी पढ़ें:- काम की खबर! रोज 100 रु बचाकर बनाए 20 लाख रुपए, यहां मिलेगा अच्छा मुनाफा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज